सेहतमंद और बुद्धिमान पैदा करने के लिए टिप्स

intelligent baby

सेहतमंद और बुद्धिमान पैदा करने के लिए टिप्स:-

सभी महिलाएं चाहती हैं की उनका बच्चा सेहतमंद और बुद्धिमान हो, क्योंकि सेहतमंद और बुद्दिमान बच्चे हर किसी को बहुत अच्छे लगते हैं, और हर महिला चाहती हैं की उनका बच्चा एक दम गोलू मोलू होने साथ चतुर भी हो, और बच्चे को बुद्दिमान और सेहतमंद बनाने के लिए महिला अपनी गर्भावस्था में ही तैयारी शुरू कर देती हैं, जैसे की महिला उन पदार्थो का सेवन करती हैं, जिससे दिमाग तेज होता हैं, और महिला को पूरी प्रेगनेंसी खुश रहना चाहिए, किसी भी तरह का तनाव नहीं लेना चाहिए, ऐसी ही छोटी छोटी बातों से महिला के गर्भ में एक सेहतमंद और बुद्दिमान बच्चा हो सकता है।

बच्चा तभी सेहतमंद होता हैं, जब माँ का स्वास्थ्य ठीक होता हैं, तभी कहा जाता है, की स्वस्थ माँ के गर्भ में ही स्वस्थ बच्चा निवास करता हैं, और साथ ही यदि कोई भी माँ चाहती हैं की उसके गर्भ में स्वस्थ बच्चे का निवास हो तो उसे अपने खान पान से लेकर अपनी दिनचर्या को भी ठीक करना होता हैं, बच्चे के लिए एक सही माहोल बनाना होता हैं, और साथ ही यदि आप चाहते हैं की बच्चा माँ के गर्भ से ही सीख लें और बच्चे के अंन्दर अच्छे गुण आयें तो आपके लिए जरुरी हैं की आप इसकी तैयारी तभी से कर लें जब बच्चा माँ के गर्भ में होता है, क्योंकि बच्चे की नीव तो गर्भ में ही बननी शुरू हो जाती है।

और इसके लिए यदि महिला गर्भ से ही तयारी शुरू करना चाहती हैं, तो आज हम आपको इसके लिए कुछ टिप्स देने जा रहे हैं, परन्तु यदि महिला इसे नियमित रूप से करती हैं, और अच्छे से अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए, समय पर खान पान करना चाहिए, नियमित रूप से जाँच करवानी चाहिए, साथ ही बच्चे को ज्यादा शोर से दूर एक अच्छे माहोल में रखना चाहिए, क्योंकि बच्चा हर बात को माँ के गर्भ में भी महसूस करता हैं, तो आइये जानते हैं वो कौन से टिप्स हैं जिनसे आप एक सेहतमंद और बुद्धिमान बच्चे को जन्म दे सकती हैं, और एक सेहतमंद और बुद्दिमान बच्चे की माँ होने का गौरव भी ले सकती है।

सेहतमंद और बुद्दिमान बच्चा पैदा करने के लिए टिप्स:-

गर्भ में करें शिशु से बातें:-

गर्भ में भी बच्चा माँ की बातो को सुनता हैं, और साथ ही यदि आप अपने पेट पर हाथ लगाते हैं तो भी बच्चा आपको महसूस करता है, कई बार माँ बाप जब तक बच्चे बड़े नहीं होते हैं तब तक उनसे कोई बात नहीं करते है, परतु यदि आप अपने बच्चे को बुद्दिमान बनाना चाहते हैं, तो उसकी शुरुआत माँ के गर्भ में ही हो जाती हैं, इसीलिए आपको बच्चे के साथ गर्भ में ही अच्छी अच्छी बातों को करना चाहिए, इसके साथ बच्चे को ज्यादा शोर और तेज आवाज वाले माहोल से दूर रखना चाहिए, ताकि बच्चा जन्म से ही बुद्धिमान बना रहें इससे बच्चे की एक्टिविटी भी बढती हैं, जिससे बच्चे का विकास तेजी से होने के कारण सेहतमंद भी होता है।

करे स्वस्थ व् पोष्टिक आहार का सेवन:-

यदि आप चाहती हैं की आपका बच्चा सेहतमंद और बुद्धिमान हो तो इसके लिए आपको स्वस्थ व् पोष्टिक आहार का सेवन करना चाहिए, क्योंकि ताजे फल और सब्जियों का सेवन करने से माँ के स्वास्थ्य पर भी अच्छा असर डालता हैं, जिसका सीधा असर गर्भ में पल रहें शिशु पर भी होता हैं, ऐसा करने से बच्चे को ताजे फलो और सब्जियों से मिलने वाले सभी पोषक तत्व मिलते हैं, जिनसे आपको और बच्चे के अंदर सभी मिनरल्स की पूर्ति होती हैं, इसके सेवन से बच्चा के दिमाग का विकास और श्सृरिक विकास में भी मदद मिलती हैं, इसीलिए आपको नियमित व् थोड़े थोड़े समय के बाद कुछ न कुछ खाते रहना चाहिए, ताकि आपको और बच्चे को भरपूर पोषण मिल सकें।

स्ट्रेस या दिमाग पर बिलकुल भी जोर न दें:-

गर्भावस्था के दौरान किसी भी तरह का तनाव या स्ट्रेस आपके लिए बहुत हानिकारक होता हैं, और साथ ही ये बच्चे के स्वास्थ्य पर भी बहुत बुरा प्रभाव डालता हैं, जिससे बच्चे के विकास में भी परेशानी हो सकती हैं, और यदि आप स्ट्रेस नहीं लेंगे, या दिमाग पर किसी भी तरह का बोझ नहीं डालते है, तो बच्चे का विकास अच्छे से होता हैं, और यदि आप गर्भावस्था का पूरा समय खुश रहते हैं तो बच्चे के स्वास्थ्य के साथ उसके दिमाग पर भी अच्छे से असर पड़ता हैं, और आपके खुश रहने से बच्चे को सेहतमंद और बुद्धिमान बच्चे को आप अपनी गोदी में लें सकती है।

दांतों और मुह की नियमित सफाई करें:-

गर्भ में पल रहें बच्चे को स्वस्थ रखने के लिए जरुरी होता है, की आप अपने मुह और दांतों की साफ़ सफाई का ध्यान रखें क्योंकि यदि आप अपने मुह की साफ़ सफाई नहीं रखेंगे तो मुह की गंदगी भोजन के साथ अंदर जाएगी, जिससे बच्चे के स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ता है,  इसीलिए आपको नियमित रूप से अपने मुह की साफ सफाई का ध्यान रखना चाहिए, ताकि बच्चे के विकास में कोई कमी न आयें और साथ ही यदि बच्चे का स्वास्थ्य ठीक रहेगा, तो उसके दिमाग का विकास भी अच्छे से हो पायेगा, और आपका बच्चा सेहतमंद और बुद्धिमान पैदा होगा।

वजन को नियंत्रित रखें:-

गर्भवती महिला का वजन भी बच्चे की सेहत के लिए बहुत हंकारक होता हैं, क्योंकि यदि महिला का वजन बहुत ज्यादा होता हैं, तो उसे बहुत सी बीमारियाँ बहुत आसानी से घेर लेती हैं, जिसका सीधा असर उसके बच्चे पर भी पड़ता हैं, इसीलिए महिला जब भी गर्भवती होती हैं तो उसे अपने वजन को नियंत्रित रखना चाहिए, कई बार वजन की समस्या होने के कारण गर्भ ठहरने में भी बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं, इसीलिए जरुरी होता हैं की आप यदि सेहतमंद और बुद्दिमान बच्चा चाहती हैं तो आपको अपने वजन पर नियंत्रण रखना चाहिए।

अच्छा और मधुर संगीत सुने:-

महिलाओं के संगीत सुनने से उनका तनाव कम होता है, और तनाव कम होने से महिला खुश रहती है, जिससे की संगीत बच्चे के स्वास्थ्य को प्रभावित करती है, और आपको ये भी ध्यान रखना चाहिए कि संगीत एकदम शांतिप्रिय होना चाहिए, यहाँ तक की संगीत की आवाज भी ज्यादा तेज नहीं होनी चाहिए, जब संगीत की आवाज बच्चे के कानों में जाती है तो वह अलग  अलग ध्वनिआवाज और बोल को पहचानने लगता हैं, इससे बच्चे की बुद्धि की क्षमता बढती है जो जन्म के कुछ दिनों के बाद दिखने भी लगती है। और बच्चे की बुद्धि का विकास भी होता है।

स्वास्थ्यवर्धक तेल का सेवन करें:-

महिला यदि चाहती हैं की उसका बच्चा सेहन्मंद हो इसके लिए महिला को अपने आहार में स्वास्थ्यवर्धक तेलों का इस्तेमाल करना चाहिए, और जो फैट फ्री आहार हो महिला को उसका ही सेवन भी करना चाहिए, महिला को अखरोट, हेजलनट, बादाम आदि के तेलों का प्रयोग अपने आहार में करना चाहिए, इसके साथ महिला को मछली और समुद्री खाद्य पदार्थों का सेवन भी करना चाहिए, क्योंकि इसमें  फैटी एसिड्स ओमेगा – 3 और ओमेगा – 6 अधिक होता है, ये सब तत्व महिला के साथ गर्भ में बच्चे के मष्तिष्कतांत्रिक तंत्ररक्त संचार और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत कर शरीर का विकास करने में भी मदद करता है, इसीलिए आपको इसका सेवन करना चाहिए।

कैल्शियम का सेवन करें:-

कैल्शियम हड्डियों के लिए बहुत जरुरी होता हैं, और ये केवल महिला के लिए ही नहीं गर्भ में पल रहें बच्चे के लिए भी बहुत फायदेमंद होता हैं, और इसके साथ महिला को फोलिक एसिड, कैल्शियम, विटामिन c और फाइबर शरीर के विकास के लिए आवश्यक होता हैं, कैल्शियम बादाम, अंजीर, किशमिश, सैमन मछली, पालक और ब्रोकोली से प्राप्त होता है, और साथ ही दूध और दूध से बने उत्पादों में भी कैल्शियम अधिक मात्रा में पाया जाता हैं, इसीलिए महिला को दूध व् दूध से बने पदार्थो का सेवन भी अधिक मात्रा में करना चाहिए।

चीनी का सेवन भी ज्यादा मात्रा में नहीं करना चाहिए:-

गर्भावस्था के दौरान बहुत सी ऐसी चीज़ें है जिसका सेवन आपका करने का मन करता है, कई बार आपका चीनी खाने का भी मन करता हैं, परतु ये बच्चे के लिए बहुत नुक्सान दायक होता हैं, और इसका पता बच्चे के जन्म के बाद पता चलता हैं, इसीलिए हो सकें तो आपको ज्यादा मीठे और चीनी के सेवन से परहेज करना चाहिए।

सेहतमंद और बुद्धिमान बच्चा पैदा करने के लिए टिप्स, सेहतमंद  और बुद्दिमान बच्चा पैदा करने के लिए अपनाएं ये टिप्स, ऐसे बनाएं गर्भ में ही बच्चे को सेहतमंद और बुद्दिमान, sehatmand or buddimaan baccha paida karne ke liye apnayen ye tips, tips for intelligent and healthy baby

[Total: 4    Average: 3.5/5]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *