भूलकर भी किसी महिला को ये तीन बातें नहीं बोलें

0

हमारे समाज में स्त्रियों का बहुत ही ऊँचा स्थान है और देवी का दर्जा दिया गया है। हमारे हिन्दू समाज में और भी इज्जत की दृष्टि से देखा जाता है। पर कई बार कुछ ऐसी बातें हो जाती है जिसका परिणाम आपको पूरी ज़िंदगी परेशान करेगा। हो सकता है आपको इसके बारे में पता नहीं चले की आपको जो दिक्कत है वो किस वजह से है। क्या दिक्कत किसी श्रापित वचनो से तो नहीं है।

स्त्री अगर दिल से किसी को बद्दुआ दे दे तो वो ज़िंदगी भर आपका साथ रहेगा इसलिए कभी भी कुछ बोले सोच समझ कर बोलें नहीं तो हो सकता है आप मुश्किल में पड़ जायँगे। इस आर्टिकल्स के माध्यम से आपको मैं बताने जा रही हु की किसी भी महिला को क्या नहीं बोलनी चाहिए। आपसे नम्र निवेदन है की इस आर्टिकल्स को शेयर और लाइक और कमेंट जरुर करें और एक जागरूक दोस्त नागरिक और सम्बन्धी का रोल अदा करें।

तुम बाँझ हो : कभी भी किसी भी महिला को जिन्होंने किसी बच्चे को जन्म नहीं दिया है उनको भूल कर भी बाँझ नहीं बोलिये। शायद आपको पता नहीं किसी भी औरत को बच्चा नहीं होना एक शारीरिक समस्या हो सकती है। ऐसे में वो सबसे ज्यादा दुखी रहती है। उसका दुःख मन ही मन रहता है। रोज रोज उसके बारे में सोचती है जब भी किसी बच्चे को देखती है तो उनको लगता है एक बच्चा उनको भी होना चाहिए पर भगवान् ने सुनी नहीं। वो सबसे ज्यादा दुखी रहती है। जो इंसान किसी चीज के लिए दुखी है और आपने उसको वही कह दिया तो वो आपको दिल से बद्दुआ दे देगी और फिर आप उस बद्दुआ को किसी भी पुण्य कार्य कर के समाप्त नहीं कर सकते।

विधवा को : आप किसी भी महिला जिनका पति का देहांत हो गया है। वो बहुत ही दुःख और गम में होती है। ऐसे में अगर आपने कभी भी क्रोध वश या मजाक में कह दिया की तुम अपने पति को खा गई है या मौत का जिम्मेदार तुम हो। या किसी और तरीके से कमेंट किया विधवा होने पर तो आपको बहुत ही ज्यादा बद्दुआ लग जाएगी और ज़िंदगी भर आपको उसके श्राप से कठिनाई रहेगी।

वेश्या को : कभी भी किसी वेश्या को गलत सूचक शब्द का इस्तेमाल नहीं करें। कभी भी किसी भी औरत को वेश्या नहीं कहें। चाहे तो वेश्या का काम करती हो या नहीं। यहाँ तक की वेश्या का काम करने वाली औरत भी अगर आपने वेश्या कहा तो वो बद्दुआ देगी और आप परेशान रहेंगे। क्यों की समाज का घृणित कार्य कभी भी शौक से शुरू नहीं होता है उसकी मज़बूरी होती है वो भी चाहती है की इज्जत की ज़िदगी जियें।

दोस्तों याद रहे आप अपने वाणी पर कण्ट्रोल रखें और हो सके लोगों से आशीर्वाद लें दुआ लें। दुआ और आशीर्वाद आपको ज़िंदगी में आगे बढ़ाने का कार्य करेगा। जितना मीठा बोलेंगे उतना ही अच्छा होगा आपके लिए। इस आर्टिकल्स को आप शेयर करें ताकि आपके दोस्त भी पढ़ सके। कमेंट करना नहीं भूलें आपके कमेंट का इन्तजार रहेगा।