हिंदी में जानकारी

आँखों के फड़कने से क्या-क्या होता है?

0

भारत में अन्धविश्वास सबसे अधिक देखने को मिलता है। लेकिन इन अंधविश्वासों के बीच बहुत से ऐसे कारण है जो वाकई में सत्य है लेकिन लोगों के धारणा के कारण उन्हें अन्धविश्वास का नाम दिया जाता है। इन्ही में से एक है आँखों का फड़कना। जिसे सामान्य तौर पर एक तरह का अन्धविश्वास ही कहा जाता है।

लेकिन शास्त्रों की माने तो आँखों का फड़कना बहुत सी बातों की ओर संकेत करते है। समुद्र शास्त्र के अनुसार मनुष्य के पास ऐसी ताकत होती है जिनके जरिए वे आने वाली मुसीबतों को पहले ही भाप लेते है। आने वाली समस्या को भापने की क्रिया हमेशा किसी न किसी माध्यम से ही होती है। उन्ही माध्यमों में से एक है आँखों का फड़कना।

आँखों का फड़कना कोई संजोग या अन्धविश्वास नहीं होता। इसके फड़कने के पीछे एक विशेष कारण और संकेत होता है। जिसके द्वारा आप आने वाली समस्या को पहले ही भाप लेते है। पहले के समय में अधिकतर लोग आँखों के फड़कने के कारण और परिणाम जानते थे। लेकिन आजकल बहुत कम लोग ही इस बारे में जानते है। इसीलिए आज हम आपको आँखों के फड़कने का रहस्य बताने जा रहे है।

आँखों के फड़कने के कारण और फलankho ke fadkne ka rahasy

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक हमारे शरीर के लगभग सभी अंग फड़कते है। और इन सभी अंगों के फड़कने का अपना अपना महत्त्व और परिणाम होता है। मान्यता है की पुरुषो के लिए दायीं आँख का फड़कना शुभ होता है जबकि महिलाओं के लिए बायीं आँख का। इसके पीछे क्या कारण है वो तो हम भी नहीं जानते। लेकिन जो थोड़ा बहुत जानते है उसके बारे में आपको बताने जा रहे है।

पुरुषो के लिए :-

दायीं आँख का फड़कना – पुरुषो की सीधी आँख के फड़कना का अर्थ है की उनके लिए कोई शुभ समाचार आने वाला है।
बायीं आँख का फड़कना – अगर वहीं पुरुषो की बायीं आँख फड़के तो उसका अर्थ है की कोई अशुभ समाचार आपकी प्रतीक्षा में है।

स्त्री के लिए :-

दायीं आँख का फड़कना – महिलाओं की दाहिनी आंख का फड़कना अच्छा नहीं माना जाता। इसका अर्थ है की आपके साथ कुछ अनुचित घटित होने वाला है।
बायीं आँख का फड़कना – इसके विपरीत उनके लिए बायीं आंख का फड़कना शुभ और अच्छा माना जाता है।

दोनों आँखों का एक साथ फड़कना – यदि किसी की दोनों आंखे एक साथ फड़के तो उसका अर्थ है की किसी पुराने मित्र से मुलाकात होने वाली है। ये फल दोनों स्त्री और पुरुष के लिए समान होता है।

आँखों के कोने का फड़कना :-

बायीं आंख का कोना – यदि व्यक्ति की उलटी आँख का कोना फड़कता है तो इसका फल अच्छा होता है। इसका अर्थ संतान प्राप्ति के योग की ओर भी संकेत करता है।

दायीं आंख का कोना – सीधी आंख के कोने का फड़कना लगभग सामान्य ही होता है। इसका कुछ खास फल नहीं है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!