होंठ फटने के क्या कारण होते हैं?

होंठ फटने के कारण
0

फटे और रूखे होठों की समस्या, होंठ फटने के कारण, होंठ क्यों फटते हैं, गर्मियों में होंठ फटना, फटे होठों की समस्या, Honth Fatna, Fate Honth, Chapped Lips, Crackes Lips, Dry Lips, होंठ फटने की वजह, होंठ रूखे होने के कारण, बेजान होंठो के कारण,


होंठ क्यों फटते हैं?

होंठ हमारी खूबसूरती का अभिन्न हिस्सा होते हैं। इसीलिए महिलाएं उन्हें और खूबसूरत बनाने के लिए तरह-तरह ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन कई बार इतना सब करने के बाद भी होंठ फटने लगते हैं। कई बार मौसम बदलने के चलते तो कई बार कुछ गलतियों के कारण। लेकिन इनके अलावा भी कुछ खास कारण होते हैं जिनकी वजह से होंठ फटने लगते हैं।

शरीर के कुछ हिस्सों की तरह होंठ भी बहुत नाजुक और कोमल होते हैं। इसीलिए जरुरी है की होठों की खास देखभाल की जाए। पर किसी भी समस्या का निदान करने से पूर्व उसके कारणों को जान लेना चाहिए। ताकि भविष्य में उन गलतियों को दोहराने से बचा जा सके। अगर आपको कारण पहले से ही पता होंगे तो समस्या का इलाज करने से साथ-साथ कारणों का भी ध्यान रखेंगे और गलतियां नहीं करेंगे। आज हम आपको बता रहे हैं की होंठ फटने के क्या कारण होते हैं?

होंठ फटने के कारण

होंठो पर जीभ फिराना

आपने बहुत से लोगों को देखा होगा वे बार-बार होठों को नम करने के लिए उनपर जीभ फिराते रहते हैं। जो होंठो को काफी नुकसान पहुंचाता है। इसके अलावा होठों को चबाना, होठों की डेड स्किन को दांतो से हटाना या उन्हें बार-बार चाटना होंठो को नम नहीं बनाता बल्कि उन्हें रूखा और बेजान कर देता है। इसलिए अगर आप भी ऐसी कोई आदत है तो उसे छोड़ दें। यह होठों के लिए ठीक नहीं।

सूरज की किरणें

शायद आप नहीं जानते लेकिन सूरज की हानिकारक UV Rays भी होठों को बहुत नुकसान पहुंचाती हैं। घर से बाहर निकलने पर तेज धूप और हवा से होंठ सूखने लगते हैं। दरअसल, होठों पर सिबेसिस ग्लैंड्स नहीं होती और हेयर फॉलिकल्स भी नहीं होते। जिसके कारन होठों की त्वचा के बाकी हिस्सों की तरह भरपूर नहीं मिल पाती।

इसके अलावा होठों में मेलेनिन भी नहीं होता जो त्वचा को अल्ट्रा-वायलेट किरणों से बचाता है। इसीलिए घर से बाहर निकलते समय त्वचा के साथ-साथ लिप्स पर भी सनस्क्रीन लगाएं। ताकि सूरज की किरणे होंठो को नुकसान न पहुंचा सके।

पानी की कमी

वैसे तो होंठ फटने की समस्या अधिकतर सर्दियों के मौसम में होती है। अगर यदि शरीर में पानी की कमी हो तो हर मौसम में होंठ सूखे ही रहेंगे। क्यूंकि शरीर में हुई पानी की कमी का असर होठों पर भी पड़ता है और बाहर निकलने पर रूखापन और भी बढ़ जाता है। इसीलिए शरीर में पानी की कमी नहीं होने दें। और भरपूर मात्रा में पानी पियें। ताकि शरीर स्वस्थ रहे।

मुंह से साँस लेना

बहुत से लोग अक्सर मुंह से साँस लेते है। कुछ स्थितियों में मुंह से साँस लेना मजबूरी हो सकती है। लेकिन बार-बार इसे दोहराना ठीक नहीं। यह आपकी आदत बन सकती है। जो ना केवल होठों के लिए बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी नुकसानदेह है। क्यूंकि मुंह से साँस लेने पर हवा होठों से गुजरती है। जिससे होठों की नमी खत्म हो जाती है और होंठ फटने लगते हैं। ये समस्या अधिकतर उन लोगों में देखने को मिलती है जो खर्राटे लेते हैं। इसीलिए इस पर गौर करें और आदत को बदलें।

शरीर में आयरन और विटामिन बी

दोस्तों, अगर होठों के किनारे अक्सर फटते हैं और कई बार उनमे जख्म भी हो जाता है। तो आपको तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए। क्यूंकि हो सकता है होंठ फटने का कारण शरीर में आयरन या विटामिन बी की कमी हो। इसीलिए कभी भी ऐसा महसूस हो की होठों की किनारे फट रहे हैं तो तुरंत डॉक्टर से मिलें।

एलर्जी के कारण

कई बार लिप्स पर इस्तेमाल किये जाने कुछ कॉस्मेटिक के कारण भी होंठ सूखने व फटने की समस्या होने लगती है। लोकल लिपस्टिक और लिप बाम उन्ही में से एक है। इसके अलावा कुछ विशेष प्रकार के व्यंजन जिनमे कलर का इस्तेमाल किया जाता है उन्हें खाने से होंठ फटने की समस्या होने लगती है।

खाद्य पदार्थ

होंठो के सूखेपन का एक कारण कुछ वैसी चीजें भी होते हैं जो हमारे होठों से सीधे सम्पर्क में आती हैं। जैसे खाने-पीने की चीजें। टूथपेस्ट इन्हीं में से एक है। कुछ टूथपेस्ट में ऐसे केमिकल होते है जो होठों की स्किन को नुकसान पहुंचाते हैं। इसके अलावा खट्टे फलों का ज्यादा सेवन करने से भी यह समस्या हो सकती है। इसलिए सही चीजों का इस्तेमाल करें।

बिमारी और दवाएं

कुछ विशेष प्रकार की दवाएं भी होंठ फटने का कारण होती है। झुर्रियां, एक्ने व् ब्लड प्रेशर के लिए ली जाने वाली दवाएं शामिल है। अगर आप लंबे समय से इन दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो होंठ फटने की समस्या हो सकती है। इस स्थिति में डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए। वो आपको उचित सलाह देंगे।

तो दोस्तों, अब आप अच्छी तरह समझ गये होंगे की होंठ फटने के क्या कारण होते हैं? अगर इन कारणों पर गौर करेंगे और होंठो की उचित देखभाल करेंगे तो कभी भी होंठ नहीं फटेंगे।