तनाव क्यों होता है? तनाव से छुटकारा पाने के उपाय

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव में होना एक आम सी बात हो गई है। सब लोग तनाव में जीने लगे हैं। तनाव के कारण और उपाय पर आज हम चर्चा करेंगे। और कुछ मुख्य बिंदु पर प्रकाश डालेंगे ताकि हम तनाव होने का कारण और तनाव से बाहर निकलने के तरीके पर चर्चा करेंगे।

0

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव भी जिंदगी का एक हिस्सा हो गया है। पर अगर आप खुश रहना चाहते हैं तो आपको तनाव से दूर रहना होगा नहीं तो सब कुछ बोझ सा लगने लगेगा। कुछ भी अच्छा नहीं लगेगा। आज हम तनाव क्यों होता है इसपर चर्चा करने वाले है।

तनाव के कारण

मानसिक तनाव होने के कोई एक कारण नहीं होता है। इसके कई कारण होते हैं, जब आपके पास कोई समस्या आती है और उसका समाधान आपके सामने नहीं होता है और रोज रोज उस समस्या के बारे में सोचने लगते हैं तभी आप तनावग्रस्त हो जाते हैं। जब कोई काम आपके मुताविक नहीं होता। या आपने कुछ सोच रखा था और आपने वो नहीं पाया, अब आपको लगने लगता है की अब मुझे ये चीज नहीं मिलेगी तो आप फिर खिन्न रहने लगते हैं और फिर आप इसी खिन्नता को अपने जिंदगी का एक हिस्सा बना लेते है।

जब कोई डर आपके सामने होता है चाहे डर आर्थिक हो सामाजिक हो या कुछ और हो तो आप उसके बारे में सोचते रहते हैं, और धीरे धीरे आप उसको अपना लेते हैं तो आपके मस्तिस्क में एक बात घर कर जाती है और फिर हमेशा उसी के बारे में सोचते रहते हैं। कई बार तनाव अपनी सोच के कारण होता है कई बार किसी का दिया हुआ गिफ्ट भी हो सकता है। यानी की आप करना चाहते थे कुछ लोगों ने करवा दिया कुछ, आपके सपने कुछ और थे पर मिला कुछ और , आपने सोचा था ये होने के बाद ये होगा, पर हुआ कुछ और, जब काम आपके मुताविक, मुकाम आपके मुताविक, रिश्ते आपके मुताविक, प्यार आपके मुताविक, इज्जत आपके मुताविक नहीं मिलता है तो ऐसे में आप तनाव के शिकार हो जाते हैं।

तनाव से बचाव

अगर आपके जिंदगी में तनाव घर कर गई है। और अगर आप इससे छुटकारा पाना चाहते हैं, तो सबसे पहले आराम से ये सोचें की आखिर मेरी जिंदगी में तनाव क्यों है। आपसे ज्यादा इस बारे में कोई और नहीं जान सकता। इसलिए एक दिन आप निश्चय कर लें की अब मुझे तनाव से बाहर निकलना ही है। चाहे जो हो जाये, जब आपकी इच्छा शक्ति मजबूत होगी तभी आप कामयाब होंगे। इसलिए सबसे पहले निश्चय करें की बस बहूत हो गया।

पहला काम करें, जिस चीज के बिना आप हो सकते हैं उसको आप उस चीज को अपने जिंदगी से दूर करें। कई बार कोई ऐसा रिश्ता होता है जो आपके जिंदगी को निखारता नहीं बर्बाद करता है उस रिश्ते को खतम करें।

आप हैं परफेक्ट हैं, भगवान् ने आपको वो सब कुछ दिया है जो खुश रहने के लिए काफी हैं, पर हमलोग कई बोझ को लेके चल रहे होते हैं, जब की उस बोझ को ढोने की जरुरत भी नहीं थी, पर आपने अभी तक सीने से लगा कर रखा हुआ है, आपको दुःख देगा, आप किसी बोझ को लेकर आप आराम से नहीं चल सकते हैं।

आप उन सब चीजों को अपने जिंदगी से दूर करें जो आपके काम की नहीं है और जिसके बिना आप हो सकते हैं, जैसे आप दिवाली की सफाई करते हैं वैसे ही आप एक बार अपने पुरानी चीजों का भी सफाई कर दें जो आपके दिमाग में हैं। जैसे सूखते हुए पौधे के साथ लोग करते हैं, पहले पीले पत्ते तोड़ देते हैं, सुखी टहनियों को तोड देते हैं, जड़ की मिटटी को थोड़ा हल्का कर के खाद डाल देते हैं और फिर पानी डाल कर रोज रोज पानी देने की सोच लेते हैं। और आपने देखा होगा की वो पौधा जल्द ही लहलहा जाता है। पर आपने ना तो अपनी टहनियां तोड़ी ना तो पत्ते सोच रहे होते हैं की पीले पत्ते हरे हो जायेंगे वक्त आने पर ऐसा प्रकृति में नहीं होता है।

अगर रिश्ते की वजह से कठिन दौर से गुजर रहे हैं, तो सबसे पहले बैठकर बात करें और पूरी तरह से निष्कर्ष पर निकलें, क्यों की बातचीत से किसी भी समस्या से निजात पा सकतें।

आप जो हैं उसको स्वीकार करें, आप क्या हैं वो आपको ही पता हैं, जिस दिन आप स्वीकार कर लेंगे आपका तनाव दूर हो जायेगा, लोग आजकल वो दिख रहे होते हैं जो होते नहीं, उनलोगों की जिंदगी में तनाव तो आएगा ही।

आर्थिक स्थिति की वजह से तनाव में हैं तो सिर्फ सोचने से कुछ नहीं होगा समाधान यही है की आप लग जाएँ, आप जो कर सकते हैं, शर्म नहीं होनी चाहिए। काम शुरू करें अगर आप का अपना काम हैं और तनाव की वजह से आप कम ध्यान दे रहे हैं तो सब भूल कर सुबह से शाम तक मेहनत करें पर मेहनत की दिशा सही होनी चाहिए। ऐसा नहीं हो की जो काम आप कर रहे हैं उसमे ज्यादा गुंजाईश ही नहीं हो और आप लगे हुए है इसलिए आप खुद सोचें की आपके लिए क्या ठीक रहेगा। आप खुद को जितना जानते हैं उतना आपको कोई नहीं जानता है। आप खुद ही इससे बाहर निकल सकते हैं।

अगर आप कर्ज की वजह से तनाव में हैं तो आप ये सोचें की कैसे हम इससे निजात पा सकते हैं, और कर्ज को ख़तम करने की रुपरेखा बनायें और धीरे धीरे उस और आगे बढ़ें, अगर किसी से समय लेना है तो जाकर मिलें और बात करें, बैंक है तो आप एक रास्ता निकालें और कर्ज को समाप्त करने के लिए जो भी हो सकता हैं करें।

जिंदगी में अच्छे इंसान को जोड़ें और आपको निचा दिखाने वाले से दूर रहें। रिश्तों में बिश्वास बढ़ाएं। मिलकर काम करें।

सबसे जो जरुरी बात है वो हैं चिंता (तनाव की वजह) जिस दिन आपको पता चल जाएगा की तनाव क्यों है, और अब मुझे तनाव नहीं रखना, उस दिशा में काम करना शुरू करें, आप देखेंगे की कुछ ही दिनों और महीनो में आपके घर खुशियाँ आ जाएगी और आप तनावमुक्त हो जायेंगे।

अगर ये आर्टिकल्स आपको सही लगा हो तो जरुर फॉरवर्ड करें अपने कांटेक्ट पर।

और अगर आपके मन की कोई दुविधा है और आप को लगता हैं मदद की जरुरत है  या आप मेरी बात से असहमत हैं या आपका कुछ सुझाव है तो जरुर लिखें निचे कमेंट के माध्यम से या [email protected] पर