IIT JEE Bihar Topper 2018, Know more about Atulya Kumar Verma success Strategy

IIT JEE Bihar Topper 2018, Know more about Atulya Kumar Verma success Strategy

Bihar IIT JEE Topper 2018. देश के सबसे प्रतिष्ठित परीक्षाओ में एक आई आई टी जे ई ई का परिणाम आते ही सब लोग अपने अपने कोचिंग, शहर, राज्य, के टोपर स्टूडेंट के बारे में जानकारी जुटाने में लग गए हैं, इसका कारण यह है की सब स्टूडेंट जो आगे परीक्षा देने वाले है वो सोचते हैं की कुछ टिप्स मिल जाये की आखिर उन्होंने कैसे सफलता प्राप्त की है, कितना देर तक पढाई करते है क्या उनका तरीका था कौन से इंस्टिट्यूट से पढाई कर रहे हैं इत्यादि इत्यादि, आज हम यहाँ पर बात करने जा रहे हैं बिहार के छात्र 10वीं के बाद बगैर किसी ब्रेक की तैयारी ने ही जेईई मेन में 17वीं रैंक दिलाई है। प्रथम प्रयास में सफलता के लिए बुनियादी जानकारी के साथ-साथ पैटर्न के अनुसार तैयारी अनिवार्य है। उक्त बातें सूबे के जेईई (मेन) टॉपर अतुल्य कुमार वर्मा ने  एक दैनिक अखबार से कहीं।

अतुल्य ने बताया कि 10वीं की वार्षिक परीक्षा समाप्त होते ही जेईई मेन की तैयारी में जुट गया था। सात-आठ घंटे की नियमित तैयारी ने प्रथम प्रयास में ही टॉप-20 में शामिल करा दिया। अतुल्य के बड़े भाई अश्वनी कुमार वर्मा भी आइआइटी दिल्ली के छात्र हैं। उन्हें जेईई एडवांस में 236वीं रैंक मिली थी।

अतुल्य वर्मा पटना, बाकरगंज के रहने वाले अधिवक्ता अशोक कुमार वर्मा और गृहिणी शिल्पी वर्मा बेटे की सफलता का श्रेय उसकी नियमित मेहनत को देते हैं। पिता ने बताया कि बेटे ने 10वीं की पढ़ाई सेंट पॉल हाईस्कूल दीघा तथा 12वीं सत्यम इंटरनेशनल स्कूल से की है। 12वीं के रिजल्ट का अभी इंतजार है।

अतुल्य के अनुसार अच्छे अंक के लिए पढ़ाई के साथ-साथ नियमित अभ्यास भी जरूरी है। सेल्फ स्टडी के बगैर अच्छे अंक प्राप्त नहीं हो सकते हैं। जिस टॉपिक में ज्यादा परेशानी हो उसे भविष्य के लिए नहीं टालें। बेहतर रैंक के लिए तीनों विषय पर समान पकड़ चाहिए।

कल ही यानी ३० अप्रैल २०१८ को ही केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) जेईई मेन का रिजल्ट जारी कर दिया है। इसमें टॉप-20 में राजधानी के बाकरगंज का अतुल्य कुमार वर्मा भी शामिल है। प्रथम छह स्थान वाले अभ्यर्थियों को 350 अंक मिले हैं। दूसरे स्थान पर आंध्र प्रदेश का केवीआर हेमंत कुमार सी., तीसरे स्थान पर राजस्थान का पार्थ लटुरिया, चौथे स्थान पर हरियाणा का प्रणव गोयल, पांचवें स्थान पर तेलंगाना का गट्टू एम. तथा छठे स्थान पर राजस्थान के पवन गोयल रहे हैं। अभ्यानंद सुपर-30 के 29 में 26 अभ्यर्थी जेईई एडवांस के लिए क्वालिफाई कर गए हैं।

इस साल जेईई मेन-2018 में सामान्य श्रेणी का कटऑफ 74 है। पिछले साल यह 81 था। ओबीसी-एनसीएल का कटऑफ 45, एससी का 29 तथा एसटी का 24 है। जेईई एडवांस के लिए 2,31,024 अभ्यर्थियों ने क्वालिफाई किया है। इसमें सामान्य कैटेगरी से 1,11,275, ओबीसी- एनसीएल से 65,313, एससी से 34,425, एसटी से 17,256 तथा पीडब्ल्यूडी में 2755 अभ्यर्थियों ने क्वालिफाई किया है। क्वालिफाई करने वालों में 1,80,331 छात्र तथा 50,693 छात्राएं हैं।

Atulya Schooling, Atulya Marks in IIT JEE 2018, Patna Topper in IIT JEE 2018, success story of bihar topper atulya in JEE Main, IIT Bihar Topper Atulya Kumar Verma

Leave a Comment