Ultimate magazine theme for WordPress.

Income Tax : Filing Return (ITR) Last Date for 2017, अंतिम तिथि इनकम टैक्स 2017

0

Income Tax 2017 Last Date ; अगर आपने अपना इनकम टैक्स अभी तक नहीं भरा है तो जल्द भर दें, आपको और ज्यादा समय नहीं दिया जायेगा, क्यों की केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) की ओर से स्पष्ट किया गया है। सीबीडीटी ने कहा है कि सभी टैक्सपेयर्स समय पर रिटर्न फाइल कर दें। इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख 31 जुलाई २०१७ है।

डिपार्टमेंट के तरफ से ये साफ़ कर दिया गया है की अब और मोहलत नहीं मिलेगा, और बस ३१ जुलाई तक ही आप अपने रिटर्न को फाइल कर सकते है.

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट टैक्सपेअर्स के फाइनैंशल डेटा को लगातार ट्रैक कर रहा है। ऐसे बहुत सारे लोग जिन्होंने अभी तक रिटर्न नहीं भरा, उनको विभाग की ओर से मिले एसएमएस इस बात के सबूत हैं। एसएमएस में लिखा है, ‘वित्त वर्ष 2016-17 के लिए आपके 26AS स्टेटमेंट से इनकम रिसीट और टीडीएस के बारे में पता चलता है। कृपया अपनी टैक्स देनदारी सुनिश्चित करें और तयशुदा तारीख तक आईटी रिटर्न फाइल करें। अपना पैन आधार के साथ लिंक करें।’

वक्त पर रिटर्न न भरने के लिए टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से लेटर मिलने के खतरे के अलावा कुछ और भी नुकसान हैं। इसलिए बेहतरहै की आप अपना रिटर्न समय पर भर दें,

इनकम टैक्स रिटर्न 2016-17 भरते समय निम्न बातों का ध्यान रखें.

इन फाइल करें रिटर्न: अगर आप चाहतें है कि आपकी ओर से रिफंड क्लेम में आसानी रहे तो बेहतर होगा कि आप अपना आईटीआर ऑनलाइन फाइल करें। ऑनलाइन आईटीआर फाइलिंग से रिफंड क्लेम में आसानी रहती है।

रिटर्न को ई-वेरिफाई करें: इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग (आईटीआर) के साथ ही इसको वेरिफाई करवाना भी जरूरी होता है, इसके बिना आपका आईटीआर आवेदन पूरा नहीं माना जाता है। आईटीआर का वेरिफिकेशन आप आधार नंबर, इंटरनेट बैंकिंग, डिजिटल सिग्नेचर और ओटीपी के जरिए कर सकते हैं।

बैंक अकाउंट डिटेल: आईटीआर रिटर्न दाखिल करते समय बेहतर होगा कि आप अपने बैंक की सारी डिटेल दें। मसलन बैंक अकाउंट नंबर (9 डिजिट का या उससे ज्यादा) और आईएफएससी कोड (IFSC) कोड़ को अच्छे से चेक करके दर्ज कराएं।

फॉर्म 26AS जरूर देख लें: आईटीआर के तहत टीडीएस क्लेम करने से पहले आपके लिए यह जरूरी है कि आप पहले फॉर्म 26AS देखकर अपनी टीडीएस कटौती की जानकारी हासिल कर लें, या उसे वेरिफाई कर लें।

तय समय पर भरें ITR: अगर आप चाहते हैं कि आपके आईटीआर रिफंड में किसी भी तरह की मुश्किल न आए तो आप तय समय यानी 31 जुलाई 2017 तक आईटीआर फाइल कर दें।

कहां से भरें आईटीआर: नौकरीपेशा हैं तो बेहतर होगा कि आप या तो बेवसाइट पर मौजूद यूटिलिटी से आईटीआर फाइल करें या फिर इनकम टैक्स अकाउंट को लॉग-इन करके आप आईटीआर-1 या आईटीआर-4 फॉर्म भरें।