Mom Pregnancy Health Lifestyle

व्रत के लिए कुटटु के आटे के पकौड़े बनाने की विधि

0

कुटटु के आटे के पकोड़े बहुत स्वादिष्ट और क्रिस्पी डिश होती है जिसके उपवास के लिए बिलकुल परफेक्ट माना जाता है। क्योंकि ये आटा कोई अनाज नहीं होता इसीलिए इसे व्रत के दौरान खाया जा सकता है। सामान्य तौर पर इसका प्रयोग नवरात्री व्रत के दौरान किया जाता है। इसे बनाने के लिए कुटटु का आटे को आलुओं की स्लाइसस के साथ मिलाकर तेल में डीप फ्राई किया जाता है।

हालांकि इसे बनाना इतना मुश्किल नहीं है लेकिन फिर भी बहुत सी लेडीज इसकी रेसिपी की समझ नहीं पाती। इसीलिए आज हम आपको नवरात्री व्रत के दौरान खाये जाने वाले कुटटु के आटे के पकोड़े बनाने की रेसिपी बताने जा रहे है। जिन्हे आप उपवास के दौरान रायते, व्रत की चटनी या दही के साथ सर्व कर सकती है। तो आइये जानते है कुटटु के आटे के पकौड़े बनाने की रेसिपी।

कुटटु के आटे के पकौड़े बनाने की रेसिपी :-

आवश्यक सामग्री :

 सामग्री

 मात्रा

 कूटू का आटा  200 ग्राम (कप)
 आलू  200 ग्राम
 सेंधा नमक  आधा छोटी चम्मच (स्वादानुसार)
 काली मिर्च  आधा छोटी चम्मच
 हरा धनिया  एक टेबल स्पून
 हरी मिर्च  2 (बारीक कतरी हुई, यदि आप चाहें)
 घी या तेल  पकोड़े तलने के लिये

कुटटु के आटे के पकोड़े बनाने की विधि :

सबसे पहले आटे को एक चौड़े मुंह वाले बर्तन में निकाल लें। इसके लिए आप एक कटोरे का प्रयोग कर सकती है। आटे को निकालने के बाद उसमे पानी मिलाते हुए अच्छे से फेंट लें। अब इस घोल में सेंधा नमक, काली मिर्च, हरा धनिया और हरी मिर्च डाल कर अच्छे से मिलाएं। घोल को पांच मिनट के लिए रख दें। ताकि आटा अच्छी तरह फूलकर तैयार हो जाए। अब आलुओं को छीलकर उन्हें धो लें और पतले टुकड़ों में काट लें।

दूसरी तरफ कढ़ाई में घी डालकर उसे गर्म कर लें। अच्छी तरह आंच आ जाने के बाद कुटटु के आटे के घोल में कटे हुए आलुओं को मिलाएं और चम्मच या हाथ की मदद से घोल से लपेटा हुआ आलू घी में डाल दीजिये।

एक बार में 5 से 6 या जितने आसानी से तले जा सके उन्हें कढ़ाई में डाल लें। पकौड़े को दोनों तरफ से ब्राउन होने तक पलट पलट कर पकाते रहें। तले हुए पकोड़े को प्लेट में नैपकीन बिछाकर उसके ऊपर निकाल लें। ऐसा करने से पकोड़े में मौजूद अतिरिक्त तेल निचोड़ जाएगा। इसी तरह सभी पकोड़े तैयार कर लें।

लीजिये तैयार है आपके कुटटु के आटे के पकोड़े। आप इन्हे दही या चटनी के साथ खा सकते है। ध्यान रहे चटनी बनाने के लिए केवल हरा धनिया, टमाटर, काली मिर्च, हरी मिर्च और सेंधा नमक का ही इस्तेमाल करें। क्योंकि इसके अतिरिक्त किसी भी चीज का सेवन व्रत के दौरान निषेध होता है।