हिंदी में जानकारी

नवरात्री पाठ और पूजा करने का समय

0

नवरात्री, नवरात्री 2017, नवरात्री पूजन, शारदीय नवरात्री 2017, नवरात्री कलर्स 2017, नवरात्री पूजन विधि, शारदीय नवरात्री, शरद नवरात्रे, नवरात्री तिथि और समय, नवरात्री पूजन का सही समय, नवरात्री पूजन का शुभ मुहूर्त, नवरात्री में कैसे करें माँ दुर्गा को प्रसन्न, माँ दुर्गा को प्रसन्न करने के उपाय, नवरात्री 2017 शुभ रंग और तिथि

नवरात्री हिन्दुओं के पवित्र त्योहारों में से एक है जिसे पुरे देश भर में बड़े उत्साह और भक्तिभाव के साथ मनाया जाता है। नौ दिनों तक चलने वाला यह पर्व हर वर्ष मनाया जाता है। वर्ष में कुल चार नवरात्री होती है, लेकिन उनमे से सबसे महत्वपूर्ण शरद नवरात्री मानी जाती है। इस नवरात्री का हिन्दू धर्म में बेहद ख़ास महत्व होता है। यह पर्व देवी दुर्गा को समर्पित है।

हिन्दू कलैंडर के मुताबिक यह अश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से प्रारंभ होकर नवमी तिथि तक मनाई जाती है। जिसके बाद अंतिम दिन दशहरा और दुर्गा विसर्जन मनाया जाता है। गुजरात, राजस्थान, पश्चिम बंगाल और भारत के उत्तरी राज्यों में इस पर्व की अलग ही रौनक देखने को मिलती है। जिसका अंदाजा उस समय के बाज़ारों से आसानी से लगाया जाता है।

भारत के उत्तरी और पूर्वी क्षेत्रों में इस पर्व का एक अलग ही उत्साह देखने को मिलता है। पश्चिमी क्षेत्रों में राम लीला का आयोजन करके भी इस पर्व का आंनद लिया जाता है। नवरात्री पर्व को आश्विन के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से ही प्रारंभ होता है। लेकिन दुर्गा पूजा सप्तमी तिथि से प्रारंभ होकर दशमी तिथि तक मनाई जाती है। जहां बड़े बड़े पंडालों में देवी दुर्गा की मूर्ति स्थापित कर उनकी पूजा की जाती है और दशमी तिथि को रावण दिन दहन के दिन उनका पुरे गाजे बाजे के साथ विसर्जन किया जाता है।navraatri

वर्ष 2017 में नवरात्री का यह पावन पर्व 21 सितम्बर 2017, बृहस्पतिवार से प्रारंभ हो रहा है। जिसकी पूर्ण जानकारी नीचे दी गयी है जैसे किस दिन कौन की माता की पूजा की जाएगी, किस दिन कौन सा शुभ रंग है आदि।

नवरात्री 2017 पूजा करने का समय

वर्ष 2017 में शरद नवरात्री का पर्व 21 सितंबर 2017, गुरुवार के दिन प्रारम्भ होगी और 29 सितम्बर 2017, शुक्रवार के दिन समाप्त होगी।

इस बार दुर्गा देवी का आगमन पालकी पर होगा। और उनका प्रस्थान चरणायुध (पैदल ) होगा।

नवरात्री का दिनतारीखवारतिथिपूजननवरात्री रंग
नवरात्री का पहला दिन21 सितम्बर 2017बृहस्पतिवारप्रतिपदाघटस्थापना, चन्द्रदर्शन, शैलपुत्री पूजापीला
नवरात्री का दूसरा दिन22 सितम्बर 2017शुक्रवारद्वितीयाब्रह्मचारिणी पूजाहरा
नवरात्री का तीसरा दिन23 सितम्बर 2017शनिवारतृतीयासिन्दूर तृतीया, चन्द्रघन्टा पूजा, वरद विनायक चौथसलेटी (ग्रे)
नवरात्री का चौथा दिन24 सितम्बर 2017रविवारचतुर्थीकुष्माण्डा पूजा, उपांग ललिता व्रतनारंगी
नवरात्री का पांचवा दिन25 सितम्बर 2017सोमवारपञ्चमीस्कन्दमाता पूजासफ़ेद
नवरात्री का छठा दिन26 सितम्बर 2017मंगलवारषष्ठीकात्यायनी पूजालाल
नवरात्री का सांतवा दिन27 सितम्बर 2017बुधवारसप्तमीसरस्वती आवाहन, कालरात्रि पूजागहरा नीला
नवरात्री का आंठवा दिन28 सितम्बर 2017बृहस्पतिवारअष्टमीसरस्वती पूजा, दुर्गा अष्टमी, महागौरी पूजा, सन्धि पूजागुलाबी
नवरात्री का नौवां दिन29 सितम्बर 2017शुक्रवारनवमीमहा नवमी, आयुध पूजा, नवमी हवनबैंगनी
नवरात्री का दंसवा दिन30 सितम्बर 2017शनिवारदशमीनवरात्री पारण, दुर्गा विसर्जन, विजयदशमी-

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!