Ultimate magazine theme for WordPress.

महाराष्ट्र का प्रसिद्ध पर्यटक स्थल : पंचगनी

0

पंचगनी जिसे पांचगनी भी कहा जाता है एक प्रसिद्ध हिल स्टेशन है जो भारत के महाराष्ट्र राज्य के सतारा जिले में स्थित है. पंचगनी, सह्याद्री पर्वत श्रंख्ला के पांच पहाड़ों के बीच स्थित है. पंचगनी के आस पास पांच गांव दनदेघर, खिंगर, गढ़वाली, अमराल और तैघाट भी स्थित है. इस स्थान के पास में एक नदी बहती है जिसे कृष्णा नदी के नाम से जाना जाता है. ये नदी कृष्णा में धूम डैम की झील का निर्माण करती है जो वाई से 9km की दुरी पर स्थित है.

पंचगनी की खोज ब्रिटिश लोगों ने की थी जब वे भारत पर राज्य किया करते थे। इतिहास के मुताबिक एक अधीक्षक जिन्हें जान चेसोन के नाम से जाना जाता है को गर्मियों के इस प्रसिद्ध स्थान की देखभाल के लिए नियुक्त किया गया था। पंचगनी का अर्थ है पाँच पहाडियाँ और यह समुद्र सतह से लगभग 1,350 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है।

पंचगनी मुंबई से 285 km, पुणे से 100 km, महाबलेश्वर से 18 km, सतारा से 45 km और Wai से 10 km की दुरी पर स्थित है.

पंचगनी के पूर्व में वाई, बवधान और नगेवादी डैम, पश्चिम में गुरेघर, दक्षिण में खिंगर और राजपुरी और उत्तर में धूम डैम स्थित है.

सर्दियों में पंचगनी का तापमान 12 डिग्री तक रहता है और गर्मियों में 34 डिग्री तक भी पहुंच जाता है. हालाँकि इस दौरान नमी का स्तर थोड़ा कम रहता है. यहाँ की वर्षा ऋतू जून से फरवरी के मध्य रहती है.

पंचगनी के चारो ओर स्थित पांच पहाड़ ज्वालामुखी पठार के ऊपर स्थित है. ये पठार एशिया का दूसरा सबसे ऊंचा पठार है. इन पठारों को “टेबल लैंड” के नाम से भी जाना जाता है क्योकि ये डेक्कन पठारों का भाग है.

अन्य आकर्षण स्थल :

सिडनी पॉइंट :- यह स्थान कृष्णा घाटी के सामने एक पहाड़ी पर स्थित है. यहां से धूम डैम के पानी, पांडवगड और मनधरदेव का नज़ारा देखा जा सकता है. सिडनी पॉइंट पंचगनी बस स्टैंड से 2km की दुरी पर स्थित है.

टेबल लैंड :- ये लैटेराइट चट्टान का विशाल सपाट मैदान है जो एशिया का दूसरा सबसे लम्बा पठार है. यहाँ से कुछ विशाल गुफाएं जिनमे “डेविल किचन” सम्मिलित है का दृश्य देखने को मिलता है.

पारसी पॉइंट :- ये पॉइंट महाबलेश्वर जाने वाले मार्ग में स्थित है जिसके द्वारा कृष्णा घाटी और धूम डैम का नज़ारा देखने को मिलता है.

डेविल किचन :- ये स्थान टेबल लैंड के दक्षिण में स्थित है, जिससे एक पौराणिक कथा जुडी हुई है. ऐसा माना जाता है की महापुराण महाभारत के पांडव इस स्थान पर रुके थे. ये भी कहा जाता है की वाई के निकट स्थित पांडवगड गुफाओं का निर्माण पांडवो द्वारा ही करवाया गया था.

माला फल उत्पाद :- माला, भारत के इतिहास की सबसे अच्छी जैम डेवलपर्स में से एक है. माला ने पहली बार भारत में जैम की शुरुआत की थी. पंचगनी माला के फलों का होम टाउन है.

मैपरो गार्डन :- ये स्थान पंचगनी और महाबलेश्वर के मध्य curvaceous में स्थित है. यहाँ तक आसानी से बस द्वारा पंहुचा जा सकता है. पंचगनी और महाबलेश्वर दोनों ही स्थानों से यहाँ तक पहुंचने के लिए बसों की सुविधा उपलब्ध है.

पंचगनी केवल एक प्रसिद्ध हिल स्टेशन ही नहीं अपितु ये अपने स्ट्रॉबेरी के खेतों के लिए भी बहुत प्रसिद्ध है. प्रति वर्ष गर्मियों के दौरान यहाँ एक स्ट्रॉबेरी उत्सव का आयोजन किया जाता है.

Title : Panchgani Tourist Place and Travel Guide, Best Place to Visit