ससुराल में बहु (दुलहन) का क्या कर्तव्य होना चाहिए ताकि ससुराल वाले खुश रहे

नई दुल्हन को ससुराल में क्या करनी चाहिए क्या नहीं, ससुराल में सबके दिलों में जगह बनाने के लिए आप यहाँ दिए गए टिप्स को अपनाएंगे तो सबके दिल में जगह पाएंगे

0

हर लड़की को जिन्दगी में एक न एक दिन ससुराल आना ही होता है क्यूंकि विवाह जिन्दगी की हकीकत है। शादी के बाद आपका मकसद नम्बर 1 बहू बनने का जरुर होगा। अगर आपकी ससुराल के सदस्यों के साथ अच्छी निभेगी तो इसमें कोई शक नही की आपको भी वहां अच्छा लगेगा और घर जैसा अहसास होगा। पर कैसे बनेगी आप ऐसी परफेक्ट बहु? पढ़े इस आर्टिकल्स में, आज हम आपको कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं जिससे आप अपने सरुराल वाले का दिल जीतने के कामयाब होंगे, खुश रहेंगे और खुश रखेंगे

ये है कुछ टिप्स जिससे आपकी इज्जत बढ़ेगी और मान सम्मान भी मिलेगा, तो इन बातों को सिर्फ पढ़ें ही नहीं बल्कि अपने जिंदगी में भी उतारें

बड़ो बुजुर्गो को इज्जत देना है जरूरी

ये बात बहुत जरुरी है की आप अपनी ससुराल में सास, ससुर, जेठ, जेठानी को भरपूर इज्जत और सम्मान दे। इसलिए उनसे नमस्ते करना और पैर छूना एक अच्छा विकल्प होगा। अगर आप सुबह उठकर सभी के पैर छूती है तो इसमें कोई बुराई नही है। इससे उन लोगो को मालुम पड़ेगा की आपके अंदर अच्छे संस्कार है और आपके माँ बाप से आपको बड़ी अच्छी तालीम दी है। इससे आपके रिश्ते मजबूत होगे घर के सदस्यों से। ये आपकी पहली प्राथमिकता होनी चाहिये।

जरूरी नहीं है पलटकर जवाब देना

मैं इसे दूसरी सबसे जरूरी चीज कहूंगी क्यूंकि आजकल हम देखते है की जादातर नही बहुओ ससुराल जाते ही सास, जेठानी, पति, ससुर को पलटकर जवाब देने लगी जाती है। किसी विपरीत स्तिथि में आपको ऐसा करना पड़ सकता है पर यदि आप ससुराल आते ही थोड़ी सी कहासुनी पर जवाब देने लग जाएगी तो इसे निगेटिव असर पड़ेगा। बेहतर यही रहेगा की अगर कोई बड़ा आपको किसी बात पर डांट देता है या कोई बात कह देता है तो आप उसे चुपचाप सुन ले। इससे अच्छा असर होगा आपका ससुराल के सदस्यों पर।

ससुराल के डेली रूटीन को अपना ले

इस पॉइंट को मैं तीसरे नम्बर पर रखूंगी। कई बार देखा गया है की नई नवेली दुल्हन जब ससुराल जाती है तो वहां का रूटीन वर्क बिलकुल उल्टा होता है। जैसे अगर आपके मायके में खाना दोपहर के 1 बजे लोग करते है तो ससुराल में 10 बजे लोग खाना खाते होंगे। ऐसा सम्भव है। रात के खाने में भी काफी अंतर हो सकता है। इसलिए आप वहां के सिस्टम को अच्छे से समझ ले और उसी के मुताबिक काम करे। तभी आप नम्बर 1 बहु बन सकेगी। आप याद रखे की अब आप मायके में नही बल्कि ससुराल में है।

इन्हें भी पढ़ें  ससुराल में होने वाली परेशानिया और उनके सुझाव

आपकी मेहनत रंग लाएगी

सभी लोग ये उम्मीद करते है की नई बहु सभी तरह का कामकाज में निपुण होगी। सामान्य तौर पर जब कोई नई दुलहन ससुराल जाती है वो सबसे पहला ध्यान उसके काम का पड़ता है। बहु खाना कैसा बनाती है। साफ़ सफाई कैसे रखती है। बर्तन कैसे साफ करती है, कपड़े कैसे धुलती है, ये सब बाते घर की औरते सबसे पहले नोटिस करती है। अगर आपमें अच्छा काम करने का हुनर है तो आपकी मेहनत रंग लाएगी। जल्द ही आपको तारीफे सुनने को मिलेगी। अगर आप ससुराल में जाती है घर की साफ सफाई का काम अच्छे से करती है तो सभी को फर्क दिखेगा। आपको तब अपनी मेहनत का फल मिलेगा और आप सभी की चहेती बन जाएगी

सेवा भाव है जरूरी

आपने ये तो सुना ही होगा की पैसे से सबकुछ खरीद सकते है पर सेवा भाव नही। अगर आपके सास ससुर या जेठ जिठानी या किसी बड़े को कोई रोग/ बिमारी है और उनको सही समय पर दवाइयां, चाय, नाश्ता या खाने की जरूरत है तो आप उनकी सेवा करके सभी को अपना प्रिय बना सकती है। आमतौर पर सभी घरो में कोई न कोई बुजर्ग किसी न किसी बिमारी से ग्रस्त होते है ऐसे में आप उनकी देखभाल/ सेवा पर खास ध्यान देकर सभी का दिल जीत सकते है।

सभी को अपना माने

आपको अपनी ननदों को अपनी बहन और देवरों को अपना छोटा भाई समझना चाहिये। सास को अपनी सगी माँ की तरह देखे और ससुर को पिताजी की तरह समझे। अगर ऐसा आप कर पाती है तो उन लोगो को भी आप बेटी जैसी मालुम होंगी और फिर परिवार में प्यार बना रहेगा। दिक्कत तब होती है जब नई दुल्हन ननदों और देवरों को बोझ समझने लग जाती है और सोचती है की उसके पति की सारी कमाई उनके उपर खर्च हो जाएगी। ऐसा करने से बचे।

इन्हें भी पढ़ें :
1 of 18

ससुराल में नई दुलहन को इस चीजो से बचना चाहिए

पीठ पीछे बुराई करने से बचे

ये बात पहले स्थान पर आती है। अगर आप किसी दूसरी औरत या किसी पड़ोस की औरत से अपनी सास, नन्द, या किसी और की चुगली/ बुराई करती है तो घूमफिर पर उन लोगो को ये बात मालुम हो जाएगी क्यूंकि स्त्रियाँ स्वाभाव के अनुसार कोई बात नही छिपा पाती है। ऐसा होने पर सीधा निगेटिव असर होगा और रिश्तो में दरार पड़ सकती है।

अपना पराया की भावना से बचे

ज्यादातर नई लड़कियाँ इस बात का शिकार हो जाती है। वो समय समय पर अपने पति/ बच्चो की सेवा तो खूब करती है पर सास ससुर और बाकी लोगो को भूल जाती है। ध्यान रखे की आपके इस अपने पराये वाली बात को वो लोग जल्दी ही समझ जाएगे। और घर में कानाफूसी शुरू हो जाएगी।

बहस करना आपको बना देगा एक बुरी बहु

फ्रेंड्स, भारतीय परम्पराओं के हिसाब से ससुराल में बहस करना और जवाब लड़ाना सबसे अप्रिय समझा जाता है। हमारे भारत में ऐसा समझा जाता है की अगर नई बहुवो को थोड़ा दबकर रहना चाहिये क्यूंकि वो भी एक दिन सास बनती है और तब वो बॉस बन जाती है और पावर उनके हाथ में आ जाता है। इसलिए मैं कहूंगी की आप अपनी सास को अपनी बॉस माने और उनके अनुरूप ही काम करे। क्यूंकि एक दिन आपका भी प्रमोशन हो जाएगा और आप भी सास बन जाएगी। सारी पावर आपके हाथ में आ जाएगी।

स्वार्थ की भावना से बचे- फ्रेंड्स

असली इन्सान की परख मुसीबत में ही होती है। देखा गया है की कई बार नई वधुओ/ बहुओ को विपरीत हालात का सामना करना पड़ जाता है। जैसे आपके ससुर गुजर गये है, या बीमार है और 2 3 ननदें शादी के लिए है। देवर की पढाना लिखाना है। ऐसी विपरीत स्तिथि में ऐसा सम्भव है की आपके पति की सारी कमाई ननदों की शादी करने में लग जाये। ऐसे में जादातर लड़कियाँ पति को पैसा खर्च करने से रोकती है और अपना बैंक बेलेंस बनाने को कहती है। अगर आप भी ऐसे करेंगी तो नैतिक आधार पर सही नही होगा। क्यूंकि आपकी परिवार के प्रति कुछ जिम्मेदारी है। आप अपने पति के साथ मुसीबत में अपनी सास ससुर और अन्य सदस्यों को साथ दे। स्वार्थ भावना न दिखाये।

इन्हें भी पढ़ें  बॉयफ्रेंड को बर्थडे पर क्या गिफ्ट दें?

मायके पर घमंड करने से बचे

ऐसा मुमकिन है की आपके मायके वाले काफी अमीर और पैसे वाले हो। पर अगर आपकी ससुराल कमतर है, सुख सुविधाओ की कमी है तो आपको अपने मायके के पैसो का घमंड नही दिखाना चाहिये। याद रखे की पैसा ही सब कुछ नही होता है। कई बार ऐसा होता है की बड़े घर में सुख सुविधाये तो बहुत होती है पर उतनी बंदिश भी होती है। इसलिए पैसा का रॉब न जमाये।

निष्कर्ष: आशा है की आपको सभी बाते पसंद आई होंगी। याद रखिये की एक लड़की कभी भी ससुराल में लड़ झगड़ के सुखी जीवन नही रह सकती। इसलिए आपका सकारात्मक व्यवहार जरूरी है। जिस तरह दूध और पानी में फर्क आसानी से हो जाता है उस तरह आपका व्यवहार कैसा है ये बात जल्द ही ससुराल में पता चल जाएगी। अगर आप सच में परिवार के सभी सदस्यों को प्यार, सम्मान, और इज्जत देती है तो सभी जान जाएगी और आपकी तारीफ़ करेंगे। ऊपर दिए गए टिप्स को आप अपनाएं और खुश रहे और खुश रखें।

[Total: 3    Average: 3/5]