शिवरात्रि कब है? Shivratri 2018 Date, किस तारीख को मनाये शिवरात्रि?

शास्त्रोक्त और शिवपुराण के रूद्र संहिता के तहत शिवरात्रि कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मानी जाती है. फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को ही महाशिवरात्रि का त्यौहार माना जाता है. शिवपुराण के अनुसार श्रवण नक्षत्र युक्त चतुर्दशी व्रत के लिए उचित मानी गई है. जो कि चतुर्दशी तिथि 13 फरवरी को रात में 11:34 से लग रही है साथ ही 14 फरवरी को रात में 12:47 तक है. श्रवण नक्षत्र 14 फरवरी को सुबह 4:56 से शुरू हो रहा है. अतः महा शिवरात्रि 14 फरवरी को ही मनानी चाहिए

0

शिवभक्तों के लिए महाशिवरात्रि बहूत ही अहम् दिन होता है, और इसके लिए शिव भक्त पुरे साल इंतज़ार करते हैं. इस वार शिवरात्रि के लिए असमंजस की स्थिति है कई भक्तों में, शायद आप भी यही सुन और सोच रहे होंगे की वर्ष २०१८ में शिवरात्रि कब है? और कसी दिन मनाएं शिवरात्रि?

Shivratri 2018 : महाशिवरात्रि इस वार ऐसी स्थिति इसलिए बनी हुई है क्योंकि ये पर्व फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी तिथि को मनाई जाती है। 13 जनवरी को पूरे दिन त्रयोदशी तिथि है और मध्यरात्रि में 11 बजकर 35 मिनट से चतुर्दशी तिथि लग रही है। जबकि 14 फरवरी को पूरे दिन और रात 12 बजकर 47 मिनट तक चतुर्दशी तिथि है।

इसलिए इस वार महाशिवरात्रि में लोग दुविधा में हैं कि महाशिवरात्रि 13 फरवरी को मनेगी या 14 फरवरी को। इस स्थिति को समझने के लिए आपको उत्तर धर्मसिंधु नामक ग्रंथ का सहारा लेना होगा। इसमें कहा गया है ‘परेद्युर्निशीथैकदेश-व्याप्तौ पूर्वेद्युः सम्पूर्णतद्व्याप्तौ पूर्वैव।।’ यानी चतुर्दशी तिथि दूसरे दिन निशीथ काल में कुछ समय के लिए हो और पहले दिन सम्पूर्ण भाग में हो तो पहले दिन ही यह व्रत करना चाहिए।

निशीथ काल रात के मध्य भाग के समय को कहा जाता है जो 13 तारीख को कई शहरों में अधिक समय तक है। ऐसे में शास्त्रानुसार उज्जैन, मुंबई, कर्नाटक, तमिलनाडु, नागपुर, चंडीगढ़, गुजरात में 13 फरवरी महाशिवरात्रि मनाई जाएगी।

ऐसा इसलिए कि यहां 13 तारीख को ही चतुर्दशी तिथि संपूर्णरूप से निशीथव्यापनी रहेगी। पूर्वी भारत में जहां स्थानीय रात्रिमान के अनुसार निशीथकाल 14 फरवरी को रात 12 बजकर 47 मिनट पर समाप्त हो रहा है वहां 14 फरवरी को महाशिवरात्रि का व्रत किया जा सकता है।


2018 में महाशिवरात्रि का पर्व 13 फरवरी 2018 और कुछ भाग में 14 फरवरी को मनाई जाएगी।

महा शिवरात्रि मुहूर्त

इस दिन शिवरात्रि निशिता काल पूजा का समय 24:09+ से 25:01+ तक होगा। 
मुहूर्त की अवधि कुल 51 मिनट की है।

रात्रि पहले प्रहर पूजा का समय = 18:05 से 21:20
रात के दूसरा प्रहर में पूजा का समय = 21:20 से 24:35+
रात्रि तीसरा प्रहर पूजा का समय = 24:35+ से 27:49+
रात्रि चौथा प्रहर पूजा का समय = 27:49+ से 31:04+

चतुर्दशी तिथि 13 फरवरी 2018, मंगवलार 22:36 से प्रारंभ होगी जो 15 फरवरी 2018, 00:48 बजे खत्म होगी।


 

[Total: 0    Average: 0/5]