Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

आम के पत्ते द्वार पर लगाने से ये फायदे होते है

Mango Leaves Benefits

-- Advertisement --

आम के पत्ते द्वार पर लगाने से ये फायदे होते है, Benefits of Mango Leaves, Aam ke patton ke fayde, मुख्य द्वार पर आम की पत्तियां क्यों लगते है, आम की पत्तियां

भारतीय संस्कृति और हिन्दू समाज में आम के वृक्ष को पूजनीय माना जाता है क्योंकि इसके फल के साथ-साथ इसकी लकड़ियां तब सभी बेहद लाभकारी एवं गुणकारी होती है। पूजा पाठ में अनुष्ठान आदि में जब कलश स्थापना की जाती है तब जल से भरे कलश के ऊपर आम की पत्तियां भी रही जाती है। घर में किसी भी मंगल कार्य के होने पर आम की पत्तियों को पतले धागों में लटककर घर के मुख्य द्वार पर बांधा जाता है।

इसके अतिरिक्त मंडप सजाने के लिए भी आम की पत्तियों का प्रयोग किया जाता है। तोरण, बांस के खम्बे आदि में भी आम की पत्तियां लगाने की परम्परा बहुत पुरानी है। हिन्दू धर्म में आम के पेड़ की लकड़ियां का प्रयोग समिधा के रूप में भी किया जाता है।

माना जाता है इस लकड़ी को घी के साथ जलाने पर घर में सकात्मक ऊर्जा का वास होता है जिससे घर में सुख और समृद्धि बढ़ती है। इन्हे लटकने से सभी मंगल कार्यों को पूर्ण करने में कोई मुश्किल नहीं आती। सभी कार्य निर्विघ्न पुरे हो जाते है। इसलिए आज हम आपको आम के पत्तों को दरवाजें पर लगाने के फायदे और उनका प्रयोग करने के बारे में बता रहे है। जिसकी मदद से आप भी इस दैविक पेड़ की देविक शक्तियों को जान पाएंगे।

क्यों लगाएं जाते है मुख्य द्वार पर आम के पत्ते ?

वृक्षों का महत्व :

केवल हमारे देश में ही अपितु बाहर भी वृक्षों को बहुत अधिक महत्ता दी जाती है, धर्म चाहे कोई भी हों लेकिन विभिन्न रिवाजों में प्रकृति को एक खूबसूरत स्वरुप देने वाले वृक्षों की सभी जगह अहम् भूमिका होती है। वैसे भी हिन्दू धर्म में वृक्षों का काफी सम्मान किया जाता है उन्हें पूजा जाता है। और उन्हें अन्न देवता भी माना जाता है।

हिन्दू मान्यताएं :आम के पत्ते द्वार पर लगाने से

हिन्दू धर्म में बहुत से विशेष वृक्षों के फलों और पत्तियों का इस्तेमाल किया जाता है। इस बात से भी आप सभी अच्छी तरफ वाकिफ है की हिन्दू मान्यता में तुलसी के पौदे को बहुत अधिक पवित्र माना जाता है और इसे पौधा न कहकर माँ तुलसी के नाम से पुकारा जाता है। इसी प्रकार पीपल, बरगद, आम के वृक्ष अपना खास महत्व रखते है।

आम का वृक्ष :

इसके अतिरिक्त आम के वृक्ष को हिन्दू मान्यता में बहुत खास माना गया है। किसी भी शुभ कार्य की शुरुआत से पूर्व घर के मुख्य द्वार पर आम के पेड़ के पत्तों को बंदनवार के रूप में लगाया जाता है।

कारण :

क्योंकि भारत में आम के पेड़ काफी लोकप्रिय होते है, और इनसे मिलने वाला फल हर भारतीय का पसंदीदा फल है। इसके अतिरिक्त भारत में आम को फलों का राजा भी माना गया है शायद इसीलिए इसका प्रयोग प्रत्येक शुभ कार्य में किया जाता है।

इस्तेमाल का कारण :

केवल घर का द्वार ही नहीं अपितु कलश पूजन में भी कलश पर आम के वृक्ष की पत्तियों को लगाया जाता है। हिन्दू मान्यतानुसार, शादी के दौरान मंडप को भी आम की पत्तियों से सजाया जाता है।

मांगलिक कार्य :आम के पत्ते द्वार पर लगाने से

नवजात बच्चे के पलने को भी आम के पेड़ के पत्तों से सजाया जाता है, इसके अतिरिक्त प्रत्येकधार्मिक कर्म कंध और मांगलिक कार्यों में आम के पत्तो का इस्तेमाल किया जाता है।

प्रवेश द्वार पर महत्व :

माना जाता है मुख्य द्वार पर आम के पत्तों को लगाने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है साथ ही घर में आने वाली वायु भी पवित्र हो जाती है। ऐसी वायु घर में सुख और समृद्धि लाती है और ऐसे घर में कलश कभी नहीं होती।

आम के पत्तो के लाभ :-

=> हिन्दू धर्म में पिछली कई सदियों से आम के वृक्ष को पूजनीय माना जाता आ रहा है। इसीलिए कोई भी मंगलकार्य हो उनमे आम के पत्ते का प्रयोग सर्वप्रथम किया जाता है।

=> हिन्दू धर्म की संस्कृति में आम के पेड़ की लकड़ियों का प्रयोग समिधा के रूप में किया जाता आ रहा है। माना जाता है आम की लकड़ी, घी, हवन सामग्री, आदि को साथ मिलाकर हवन करने से वातावरण में सकारात्मकता बढ़ती है और नकारत्मक ऊर्जा दूर होती है।

=> घर के मुख्य द्वार पर आम की पत्तियां लगाने से घर में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति के साथ सकारात्मक ऊर्जा भी घर में आती है। जिससे घर में कलेश नहीं होता और सुख समृद्धि बढ़ती है।

=> आम के पत्तों का तोरण मुख्य द्वार या द्वार पर लगाने से सभी मांगलिक व् शुभ कार्य निर्विघ्न पुरे हो जाते है। बुरी शक्तियां एवं नकारात्मक ऊर्जा भी शुभ कार्य में बाधा नहीं डाल पाती। शास्त्रों में भी दरवाजें पर आम के पत्तों को लटकाना अत्यंत शुभ माना गया है।

=> धार्मिक मान्यतानुसार आम हनुमान जी का प्रिय फल है इसीलिए जहां आम और आम के पत्ते होते है वहां हनुमान जी की विशेष कृपा बनी रहती है।

Leave a comment