Take a fresh look at your lifestyle.

आँख क्यों फड़कती हैं? और इसके क्या इलाज़ हैं

0

आँख क्यों फड़कती हैं? और इसके क्या इलाज़ हैं:-

आज के समय में भी लोग मानते हैं की आंको के फड़कने से कुछ अच्छे या बुरे का संकेत मिलता हैं| परंतु आँख का फड़कना एक आम लक्षण है| इस प्रक्रिया में आँख के आसपास की मांसपेशियां अपने आप संकुचित होती हैं| जिससे आपको परेशानी तो होती हैं| लेकिन नुक़सान कोई नहीं होता और थोड़ी बहुत देर में आँख फड़कनी अपने आप बंद भी हो जाती है| ये किसी प्रकार की कोई बीमारी नहीं हैं| जिसके लिए आप किसी डॉक्टर के पास जाये| ये हमारे शरीर में होने वाला एक आम लक्षण हैं|

इसका क्या कारण है ये कहना मुश्किल है लेकिन आंखों के डॉक्टर्स ये मानते हैं कि इसका सम्बन्ध आँखों की थकान से होता है| इसके बहुत से कारण हो सकते हैं, जैसे नींद की कमी, कैफ़ीन का ज़्यादा प्रयोग, कम रोशनी में काम करना या देर तक कम्प्यूटर पर काम करना, ज्यादा समय तक मोबाइल में लगे रहना, आदि| इनमे से इसका कुछ भी कारण हो सकता हैं| ये मानना की आँख फड़कने से कुछ बुरा होगा केवल व्यक्ति की बनाई हुई बाते हैं|

जबकि विज्ञानिको के अनुसार आँख फड़कने का मतलब ये है कि आपकी मांसपेशियां थक गई हैं| उन्हें आराम देने की ज़रूरत है| मासपेशियो को आराम देने के लिए आप बहुत सी तकनीको का इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे, आँख के आसपास की मांसपेशियों की हल्की मालिश, गर्म या ठंडी पट्टी लगाना, आंखों को गुनगुने पानी से धोना, आँखों को थोड़ी देर के लिए आधा बंद करना, आदि कुछ उपाय हैं जिन्हें आप कर सकते हैं| आइये आँख फड़कने को बंद करने के अन्य उपाय जानते हैं|

आँख फड़कने से बचने के लिए उपाय:-

आँखों को जोर-जोर से खोले व् बंद करे:-

eye-close

जैसे ही आपकी आँख फड़कने लगे, वैसे ही आपको आँखों को जोर-जोर से खोलना व् बंद करना चाहिए| ऐसा करने से आँख में आँसुओं की एक समतल परत बन जाती है| जिसके कारण पलकों को आराम, आँख और चेहरे के मसल्स की वर्जिश तथा आँखों मे रक्त का प्रवाह बढ़ जाता है जिससे समस्या से राहत मिलती है| आपको जब तक आँख फड़कनी बंद न हो जाये तब तक ये उपचार करना चाहिए| जिससे की आपकी आँखों मको आराम मिल सके|

आँखों की मसाज करे:-

आँखों को फड़कने से रोकने के लिए आँखों की मसाज करना भी एक अच्छा उपाय हैं| इससे आँखों को आराम मिलता हैं| व् आँखों में रक्त का प्रवाह बढ़ता हैं| जिससे मासपेशियो को आराम मिलता हैं| व् आँख फड़कने जैसी समस्या उत्त्पन्न नहीं होती हैं| जब भी आपकी आँख फड़कने लगे तो आपको हलके हाथो से अपनी आँखों की मसाज करनी चाहिए| जिससे की आपको इस समस्या से निजात मिल सके|

आँखों को गुनगुने पानी से धोएं:-

eye wash

यदि आपको आँख फड़कने की समस्या हैं तो आप ठण्डे पानी के छींटे मारने के स्थान पर आप, गुनगुने पानी का छींटा मार सकते हैं| और यदि आपकी आँख फडक रही हैं तो आप गुनगुने पानी का छींटा मारने से पहले, बर्फ के टुकड़ों को पलकों पर फिरा सकते हैं| इससे आँखों में रक्त का प्रवाह सही ढंग से होने लग जाता हैं| और इसके आलावा आपको ये प्रक्रिया रोजाना करनी चाहिए क्योंकि ये आँखों के लिए बहुत अच्छी होती हैं|

अपनी पलकों को झपकाएं:-

पलकों का झपकना आँखों के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता हैं| यह आँखों के अधिकांश माँस-पेशियों को आराम पहुंचाता है और साथ ही साथ पुतलियों को चिकनाई देता है| और यह आँखों की और पलकों की सफाई में भी करता है| जिससे फड़कना बंद हो सकता है, यदि दर्द का एहसास हो या आँख और जोर से फड़कने लगे तो इस क्रिया को तुरंत रोक दें| और अपनी आँखों को बंद करले| इससे आपको आराम मिलेगा|

आँखों को आधी खुली अवस्था में लाएं:-

साफ़ देखने के लिये आँखों को समायोजित करने से आँखों पर कम तनाव पड़ता हैं| इससे यदि आपकी आँखे फदक रही हैं तो आप अपनी आँखों को आधा खोले इससे आपकी आँखों पर कम तनाव पड़ेगा| और इससे आँखों के थकान के कारण होने वाले फड़कने की क्रिया को रोकने में सहायता मिल सकती है| जिससे आपको आँख फड़कने की समस्या से निजात मिलेगा| आपको यदि आँख फड़कने की समस्या हो तो तुरंत ही आप ये उपाय अपनाये|

आँखों का व्यायाम करे:-

eye-exercise

आँखों का व्यायाम करने से आपकी आँखों को आराम मिलता हैं| साथ ही आपको आँख फड़कने की समस्या से भी आराम मिलता हैं| आँखों के व्यायाम के लिए आपको अपनी आँखे अच्छे से खोलकर अपनी पुतलियों को चारो तरफ घुमाना चाहिए| इसके आलावा आप आँखों को थोड़ी देर के लिए बंद रखे, और फिर से खोल दे| ऐसा करने से भी आपकी आँखों को आराम मिलेगा| साथ ही आपको आँख फड़कने की समस्या से भी आराम मिलेगा|

अपनी आँखों को फड़कने से बचाने के लिए ऐक्यूप्रेशर मसाज दें:-

eye-accupressure

आपको आँखों के प्रत्येक प्वाइन्ट पर 5 से 10 सेकेण्ड्स तक गोलाई में मसाज करनी चाहिए| इससे आँखों को आराम मिलता हैं|समान ऐक्यूप्रेशर टेक्नीक के लिये अपने तर्जनी और मध्यमा ऊँगली को अपनी आँखों के नीचे रखे| और उसके बाद हल्के से दबाव डालते हुए आँखों के बाहरी किनारे पर मसाज करे| ये रक्त प्रवाह को बढ़ा कर आँख के फड़कने को रोकने में मदद करती है| किसी भी तरह की जलन या संक्रमण से बचने के लिये पहले अपने हाथों और चेहरे को साफ कर लें|

तो ये कुछ बाते हैं जिनसे आप आँख फड़कने की समस्या से बच सकते हैं| इसके आलावा आपको अपनी नींद पूरी लेनी चाहिए| जिससे की आपकी आँखों को आराम मिल सके| साथ ही समय-समय पर पानी पीते रहना चाहिए ताकि आँखों की नमी बनी रहे| इसके साथ यदि आपको ये समस्या एक हफ्ते से अधिक हो और आंको में दर्द या सूजन हो, या फिर आँखे लाल हो जाये ऐसे में आपको अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करना चाहिए|

आपको ये टॉपिक कैसा लगा इस बारे में अपनी राय जरूर व्यक्त करे, क्योंकि आपकी राय हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं, और यदि आपको ये टॉपिक पसंद आये तो इसे शेयर भी जरूर करें|

आँख क्यों फड़कती हैं, आँखों के फड़कने की समस्या से बचने के उपाय, आँखों को फड़कने से रोकने के लिए कुछ टिप्स, आँखों को फड़कने से कैसे रोकें, eye beats, eye beats problem, aankh kyon phadkti hain, aankho ke pahadne se kaise paayen nijat, Aankho ke Phadkne Se Kaise Paayen Nijat,

Leave A Reply

Your email address will not be published.