Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

आँखों में जलन होने के कारण

Ankhon Me Jalan 

-- Advertisement --

आंखों में जलन होने के कारण, Ankho me jalan hone ke kya karan hai, Eyes Problem, आंखों में जलन और लालिमा के कारण, आंखों से जुडी समस्याएं

व्यक्ति का शरीर बहुत नाजुक और सेंसिटिव होता है, इसलिए शरीर में हुई छोटी सी बिमारी भी व्यक्ति के लिए परेशानी का कारण बन जाती है। फिर चाहे वो खांसी हो या मामूली जुखाम। ऐसी ही एक समस्या है आंखों में जलन होना। वास्तव में आंखों में जलन होना कोई बीमारी नहीं है यह एक आम समस्या है जो किसी के भी साथ हो सकती है। बच्चा हो या बड़ा, बूढ़ा हो या जवान किसी भी उम्र के व्यक्ति के साथ हो सकती है।

वैसे तो ये बीमारी अधिकतर इन्फेक्शन या आंखों पर तनाव के कारण होती है लेकिन कई बार इसके होने की वजह कुछ और कारण भी होते है जिन्हे सामान्य जीवन में पहचानना काफी मुश्किल होता है। हो न हो, आप भी देर रात तक टीवी, लैपटॉप या स्मार्टफोन आदि का इस्तेमाल करते होंगे।

लेकिन क्या आप जानते है की आपके द्वारा की जाने वाली ये गतिविधियां आपकी आंखों को कितना नुकसान पहुंचाती है। जी हां, इन सभी इलेक्ट्रॉनिक्स वस्तुओं में से निकलने वाली वेव्स आंखों के लिए बेहद खतरनाक होती है। ऐसे में अगर आप देर रात तक इनका प्रयोग करते है तो इसका सीधा प्रभाव आपकी आंखों पर पड़ता है। जिसके कारण आंखों में जलन और लालीपन की समस्या आने लगती है।

कई बार ये समस्या प्रदुषण और धूल मिटटी आदि के कारण भी उत्पन्न हो जाती है। ऐसी में अधिकतर लोग बाजार में मौजूद दवाओं का इस्तेमाल करते है। परन्तु सभी के लिए इन दवाओं को खरीद पाना संभव नहीं। इसीलिए यहाँ हम आपको आंखों में जलन होने के कारण बताने जा रहे है जिन्हें जानकर आप सावधानियां बरत सकते है और इस समस्या को हमेशा के लिए दूर कर सकते है।

आंखों में जलन होने के क्या-क्या कारण है?

1. कंजंक्टिवाइटिस :आँखों में जलन

यह आंखों से जुडी एक बिमारी है जिसमें आई बाल के ऊपर की पतली झिल्ली पर सूजन आ जाती है। और इस सूजन के कारण आंखों में लालिमा भी आ जाती है। वैसे तो यह एक आम बीमारी है लेकिन ध्यान न देने पर समस्या गंभीर रूप ले सकती है। इस समस्या के कारण अक्सर आंखों में जलन होती है।

2. Uveitis :

ये आंख के रेटिना और उसके सफ़ेद हिस्से के बीच की परत में सूजन होने की वजह से होता है। इस समस्या के होने पर व्यक्ति को धुंधला दिखने लगता है साथ ही आंखों में दर्द और दूर की नजर कमजोर हो जाती है साथ ही आंखों में जलन भी होने लगती है।

3. कॉर्नियल अलसर :

इस समस्या के होने पर आंखों के कॉर्निया पर प्रभाव पड़ता है। जो कांटेक्ट लेंस के प्रयोग या इन्फेक्शन की वजह से होता है। इस समस्या के होने पर आंखों से पानी बहना, दर्द, सूजन आदि की समस्या होती है। इस बीमारी के होने के कारण भी आंखों में जलन और लालिमा आती है।

4. ड्राई आई सिंड्रोम :

आँखों को सुचारु रूप से कार्य करने के लिए लुब्रिकेशन की जरुरत होती है जो हमारे आंसू होते है और जब आँखे पर्याप्त मात्रा में आसूं नहीं बना पाती है तो ये समस्या होती है। कई बार आसूं भी इस समस्या का कारण बन जाते है। इस बीमारी के होने के बाद अक्सर आंखों में जलन होने लगती है।

5. अधिक टीवी देखना :

बहुत अधिक देर तक टीवी देखने से भी आंखों में जलन होने लगती है। क्योंकि देर रात तकल टीवी देखने से आंखों पर प्रेशर पड़ता है जिसे आंखों की मांसपेशियां खींचने लगती है जिससे आंखों में जलन और लालीपन की समस्या होने लगती है। इसके अलावा अधिक देर तक कंप्यूटर पर काम करने से भी आंखों में जलन होने लगती है।

6. बार-बार छूना :

बहुत से लोगों की यह आदत होती है की वे बार-बार अपनी आंखों को छूते है। जबकि ऐसा करने से आंखों में इन्फेक्शन हो सकता है। इसके अलावा घटिया क्वालिटी वाले मेकअप का इस्तेमाल करने से भी आंखों में जलन हो सकती है।

7. कांटेक्ट लेंस :

लंबे समय तक कांटेक्ट लेंस पहनना और उसे पहनने के दौरान सही देखभाल नहीं करने से आंखों में जलन हो सकती है। इतना ही नहीं इससे आंखों में फंगल इन्फेक्शन भी हो सकता है।

8. हर्पीज :

यह एक तरह का वायरल इन्फेक्शन है जो टाइप 1 हर्पीज सिंप्लेक्स वायरस की वजह से होता है जो कॉर्निया के लिए बहुत नुकसानदेह होता है। इसमें आंखे लाल हो जाती है इसी के साथ सूजन, दर्द और पाने बहने की समस्या भी हो सकती है।

9. एलर्जी :

बहुत से लोगों को धूल, केमिकल और कांटेक्ट लेंस से एलर्जी होती है जिसके कारण भी आंखों में जलन और लालिमा आ जाती है।

10. आई ड्राप :

बहुत से लोग अपने नजरे ठीक करने या किसी अन्य कारण की वजह से आई ड्राप का इस्तेमाल करते है, जो कई बार उनके लिए परेशानी का कारण बन जाती है। जी हां, लम्बे समय तक आई ड्राप का इस्तेमाल करने से भी आंखों में जलन हो सकती है।

Leave a comment