Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

गिलोय का इस्तेमाल और इसके फायदे

0

गिलोय का इस्तेमाल, गिलोय के फायदे, गिलोय के लाभ, Benefits of Giloy, Advantages of Giloy, Uses of Giloy

एक ऐसी इंडियन हर्ब है जिसकी डिमांड पूरी दुनिया में है और उस पौधे का नाम है गिलोय। आयुर्वेद में गिलोय के पौधे को एक विशेष स्थान मिला है। पूरी दुनियां इसके गुणो और उपयोगों को मानती है। समय के साथ साथ आयुर्वेद ने इस हर्ब के बहुत से औषधीय गुण ढूढ़ लिए है। गिलोय के अनगिनत औषधीय गुण और उपयोग है। वैज्ञानिकों ने रिसर्च द्वारा गिलोय के सभी गुणों को प्रमाणित भी किया है।

गिलोय के फायदे

आइये जानते है किस तरह इस गुणकारी गिलोय को हम किन किन परेशानियों के लिए इस्तेमाल कर सकते है।

कब्ज में राहत:

  • गिलोय के पत्तियों को सूखा कर उनका पाउडर बना लीजिये।
  • इस पाउडर की आधा चम्मच को गुड़ के साथ लीजिये।
  • इसके सेवन से पेट से जुडी सभी समस्या दूर होंगी।
  • कब्ज के भी राहत मिलेगी।

 ब्लड शुगर में कमी:

  • गिलोय टाइप II डाइबिटीज़ के इलाज में बहुत ही फायदेमंद होता है।
  • डाइबिटीज़ पेशेंट को रोजाना गिलोय जूस का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • ऐसा करने से हाई ब्लड शुगर कण्ट्रोल होती है।
  • बाजार में आसानी से गिलोय जूस आपको मिल जाता है।

इम्युनिटी:

  • गिलोय ना सिर्फ बीमारियां ठीक करने के काम आता है बल्कि बिमारियों से लड़ने की ताकत भी बढ़ाता है।
  • इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते है।
  • यह हमारे शरीर के टॉक्सिन्स को निकाल करके ब्लड साफ़ करता है।
  • इसका नियमित इस्तेमाल आपकी इम्युनिटी बढ़ाता है।
  • इसके सेवन से कोई भी बीमारी आपको जल्दी से नहीं लगती।

पीलिया:

  • गिलोय का इस्तेमाल पीलिया को सहीं करने के काम भी आता है।
  • इसके पत्तों को पीस कर छाछ में मिलाकर रोगी को देने से पीलिया ठीक करने में मदद मिलती है।
  • गिलोय के 20 ml रस को 2 चम्मच शहद में देने से भी रोगी को आराम मिलता है।
  • यह उपाय दिन में तीन से चार बार करना चाहिए।

कोढ़ या कुष्ठ का इलाज:

  • कुष्ठ रोग का इलाज गिलोय से संभव है।
  • 20 ml गिलोय का रस कुष्ठी रोगी को देने से लाभ मिलता है।
  • यह उपाय दिन में दो तीन बार, तीन महीने तक करने से कोढ़ से पूरी तरह मुक्ति मिलती है।

हेल्दी हार्ट:

  • गिलोय के उपयोग से आप एक स्वस्थ दिल पा सकते है।
  • काली मिर्च और गिलोय के पाउडर को मिलाकर लेने से हार्ट प्रॉब्लम्स ठीक होती है।
  • यह उपाय करने से सीने का दर्द खत्म होता है।
  • यह तरीका लगातार सात दिनों तक करना चाहिए।

मोटापा:

  • गिलोय का नियमित इस्तेमाल मोटापे से भी निजात दिलाता है।
  • इसका एक चम्मच रस और एक चम्मच शहद मिलाकर सेवन करें।
  • एक महीने तक लगातार सुबह और शाम इसका सेवन करने से जल्दी फायदा मिलता है।

सर्दी खांसी या फ्लू:

  • 1 चम्मच गिलोय के रस का रोजाना सेवन करें।
  • इसके सेवन से सर्दी खांसी ठीक होगी।
  • खांसी जब तक ठीक ना हो तब तक इसका सेवन बंद ना करें।

गठियाँ रोग:

  • गिलोय के चूर्ण का इस्तेमाल गठियाँ रोग को भी ठीक करता है।
  • इसका इस्तेमाल जोड़ो का दर्द ठीक कर उन्हें मजबूत बनाता है।

इन सभी के अतिरिक्त गिलोय के और भी बहुत से औषधीय गुण है। गिलोय का इस्तेमाल बुखार, टी बी, कान दर्द, आखों आदि के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।

Leave a comment