Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

पेट में बच्चा क्या-क्या हरकत करता हैं? और कौन से महीने से

0

पेट में शिशु के हरकत: पेट में बच्चा क्या-क्या हरकत करता हैं? और कौन से महीने से:-

जैसे ही किसी भी महिला को पता चलता हैं की वो माँ बनने वाली हैं, तो उसकी ख़ुशी का कोई ठिकाना नहीं होता हैं, और महिला क्या उसका सारा परिवार ही बच्चे के आने की ख़ुशी से झूम उठता हैं| गर्भावस्था के दौरान महिला में बहुत से बदलाव आते हैं| जिसकी वजह से महिला बहुत परेशान रहती हैं| इसके साथ आपको बच्चे के आने के बाद इन बातो का अहसास तक नहीं होता हैं| बच्चे के आने से हर महिला की जिंदगी की नई शुरुआत होती हैं| और साथ ही उसकी जिंदगी के लिए नया अनुभव भी होता हैं|

ऐसा कहा जाता हैं की जैसे ही बच्चा जन्म लेता हैं तो उसकी नई जिंदगी की शुरुआत होती हैं| परंतु सच्चाई तो ये हैं की बच्चे की जिंदगी की शुरुआत तो माँ के गर्भ में ही शुरू हो जाती हैं| क्योंकि माँ के गर्भ में भी बच्चा घूमता हैं| साँस लेता हैं, और ये सत्य हैं, यदि आपको जानना हैं तो आप किसी भी महिला से पूछ सकती हैं| क्योंकि कई बार बच्चे पेट में अचानक से ऐसी हरकत करते हैं की माँ हंसती हैं, और सबसे अपने बच्चे की हरकत के बारे में चर्चा करती हैं| और जैसे -जैसे बच्चे के गर्भ में दिन बीतते हैं वैसे ही वो ज्यादा हरकते करनी शुरू कर देता हैं|पेट में शिशु के हरकत

कई बार ऐसा होता हैं की बच्चा थोड़े समय के लिए शांत हो जाता है | तो माँ चाहती हैं की वो हरकत करे, इसके लिए वो तरह-तरह के प्रयत्न करती हैं| परंतु यदि ज्यादा समय तक बच्चा हरकत न करे तो हमे अपने डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए| आइये अब जानते हैं की बच्चा माँ के पेट में कौन-कौन सी हरकत करता हैं| और कौन से महीने से माँ इस अनुभव का अहसास कर पाती हैं|

बच्चा पेट में क्या-क्या हरकत करता हैं:-

आइये जानते है की बच्चा माँ के गर्भ में कौन- कौन सी हरकत करता हैं और कबसे करना शुरू कर देता हैं, इसके आलावा कुछ ऐसी हरकते भी होती हैं , जिन्हें आप महसूस नहीं कर सकते हैं, परंतु बच्चे करते हैं वो भी इस प्रकार हैं|

  • सात से आठ सप्ताह के बीच तक आपका शिशु माँ के गर्भ में सामान्य गतिविधियां शुरु कर देता है, जैसे कि एक तरफ मुड़ना और चौंकना, आदि पर आप इसका अनुभव थोड़े समय के बाद ही कर पाते हैं|
  • नौ सप्ताह के आसपास वह हिचकी लेना शुरु कर सकता है|
  • 10 सप्ताह में वह अपना सिर झुका और घुमा सकता है, और अपना जबड़ा खोल और फैला सकता है|
  • 11 सप्ताह का होने पर वह जम्हाई यानि की अंगड़ाई ले सकता है|
  • 14 सप्ताह में वह अपनी आंखें घुमा सकता है|
  • इन गतिविधियों को आप अल्ट्रासॉउन्ड या स्कैन के दौरान महसूस कर सकते हैं|

20 से 24 सप्ताह में बच्चे करते हैं माँ के गर्भ में ये हरकते:-

जैसे-जैसे माँ के गर्भ में बच्चे के सप्ताह गुजरते हैं, आपके शिशु की गतिविधियां धीरे-धीरे बढ़ने लगती हैं| आप यह जान सकती हैं कि आपका शिशु दिन में अधिक गतिशील रहता है| या फिर अपने हाथ-पांव की हलचल और कला बाजियों का प्रदर्शन वह शाम को ही करता है| और बच्चे शाम के समय ही सबसे ज्यादा हरकते करते हैं|

24 से 28 सप्ताह में बच्चा करता हैं ये प्रदर्शन:-

24 से 28 सप्ताह में आप यह ध्यान देना शुरु कर सकती हैं कि आपका शिशु हिचकियां कब लेता है| शिशु की हिचकियां आपको धक्का लगने जैसा महसूस कराती हैं। एमनियोटिक थैली में अब करीब 750 मि. ली. द्रव्य होता है| इससे शिशु को अपनी मर्जी से चारों तरफ घूमने के लिए पूरा स्थान मिल जाता है| आप यह भी महसूस कर सकती हैं कि अचानक हुई आवाज से शिशु उछलने लगता है| क्योंकि वो अचानक से चौक जाता हैं|

29 से 32 सप्ताह में क्या करता हैं शिशु माँ के गर्भ में:-

29 से 32 सप्ताह में बच्चा आकर में बढ़ने लगता हैं, इसीलिए उसके बढ़ने के साथ-साथ गर्भ में उसे जगह कम पड़ने लगी है| जिसके कारण आप शिशु की हलचल में शायद आप काफी तेजी महसूस करेंगी| इस सप्ताह के बाद आपको महसूस होने वाली शिशु की गतिविधियों की संख्या धीरे-धीरे कम होती जाएगी| क्योंकि आपके शिशु के पास अब घूमने के लिए काफी कम स्थान है| और आपको ज्यादा देरी की नहीं बल्कि थोड़े समय के लिए ही अपने बच्चे की गतिविधियां महसूस कर पाती हैं|

36 सप्ताह के बाद माँ के गर्भ में होने वाली शिशु की हरकत:-

इस समय तक आमतौर पर शिशु सिर के बल हो कर नीचे की ओर जन्म से पहले की मुद्रा में आ जाता है| और इस समय में बच्चे के हाथो और पैरो की गतिविधियां बहुत ज्यादा शुरू हो जाती हैं| और कई बार तो आप शिशु के नन्हें पैरों की मार से दर्द भी महसूस हो सकता है| और ऐसे समय पर आपको बच्चे के आने की बहुत ज्यादा बेसब्री हो जाती हैं| आपको अपना पूरा ध्यान रखना चाहिए| और साथ ही बच्चे की माँ के गर्भ में होने वाली गतिविधियों का आनंद लेना चाहिए|

बच्चा पेट में कब से हरकत करना शुरू कर देता हैं:-

गर्भावस्था के पांचवे महीने के बाद बच्चा माँ के गर्भ में हलचल करनी शुरू कर देता हैं, शुरुआत में ये थोड़ी कम होती हैं| उन महिलाओ को सामझने में वक़्त लग सकता हैं जो की पहली बार माँ बनने के अनुभव ले रही होती हैं| और यदि आप पहले भी माँ बन चुकी हैं, तो इन संकेतों से आप आसानी से पहचान लेंगी| और आप शिशु के हिलने-डुलने का एहसास 16 हफ्तों के आसपास महसूस कर सकती हैं| परंतु पहली बार माँ बनने वाली महिलाओ को इन सब को समझने में समय लग सकता हैं|

पहली बार माँ बनने वाली महिलाओ को बहुत सी बातो को पता चलता हैं, जो बच्चा माँ के गर्भ में करता हैं| और इन सबका अहसास लेने का अनुभव भी भगवान् ने केवल एक औरत को ही दिया हैं| तो हर एक औरत को इस अनुभव का अहसास होता हैं| और ये उनके जीवन का सबसे खास लम्हा होता हैं| और यदि 24 सप्ताह तक आपने अपने शिशु की कोई गतिविधि महसूस नहीं की है, तो अपनी डॉक्टर से संपर्क जरूर करें|

वह आपके शिशु के दिल की धड़कन सुनेंगी और अल्ट्रासाउंड स्कैन या फिर जरुरत हुई तो किसी और चीज की जरुरत हुई तो उसकी भी व्यवस्थज करेगी| और ऐसा होने पर बिलकुल भी देरी न करे|

तो ये सब वो पल हैं जो एक माँ जब जीती हैं जब बच्चा माँ के गर्भ में होता हैं| और साथ ही साथ इस अनुभव को हमेशा के लिए अपने साथ जोड़ कर रखती हैं| महिलाओं को ये अपने खूबसूरत पल अपने साथी के साथ जरूर शेयर करने चाहिए| क्योंकि इससे आपकी खुशिया और भी बढ़ जाती हैं| और इन पलो को आप अपनी जिंदगी के यादगार पलो में शामिल कर सकते हैं| ये बात जान कर ही आप ख़ुशी से झूम उठती हैं की आप माँ बनने वाली हैं| और जैसे ही बच्चा आपकी गोद में आता हैं तब तो आपको लगता हैं की जिंदगी बस यही थम जाएँ|

इसके साथ जरुरी है की आप अपने बच्चे के ध्यान के बारे में पूरी जानकारी रखे, डॉक्टर द्वारा बताएं गए सभी परामर्श का पालन करे| आपको अपने बच्चे के पैदा होने के बाद भी उसकी हरकतों से हर दम हैरान करता रहता हैं| तो इन सब बातो का आपको ध्यान रखना चाहिए| और अपने बच्चे के साथ अपने आने वाले कल की नई उम्मीद को बढ़ाना चाहते हैं| तो आप पाने पति और अपने बच्चे के साथ हर एक पल के मजे ले|

आप इस टॉपिक को जरूर पड़े, और यदि आपको ये टॉपिक पसंद आएं तो इसे शेयर भी जरूर करे| और इस बारे में अपनी राय भी व्यक्त करे|

पेट में शिशु के हरकत किस मंथ में क्या क्या होता हैं।, शिशु माँ के गर्भ में क्या हरकत करता हैं, शिशु माँ के गर्भ में कबसे हरकत करता हैं, माँ के गर्भ में शिशु क्या-क्या करता हैं, शिशु की हरकते माँ के गर्भ में, पेट में शिशु के हरकत moments of infant in mothers womb, when infant locomotion in mothers womb, baccha ma ke garbh me kya harkate karta hain, Infant moments

Leave a comment