Ultimate magazine theme for WordPress.

जुएं हटाने के उपाय और घरेलु नुस्खे

2

जुओं को भगाने के घरेलु तरीके (Juon ko bhagane ke tarike)

Juon ko bhagane ke tarike :- बालों मे जुएं होना आज कल की बालों मे होने वाली आम समस्याओ मे से एक है जिसके कारण व्यक्ति बहुत परेशान रहता है. ऐसे तो ये साल के किसी भी मौसम मे आपके बालो मे पड़ सकती है लेकिन जुओं का सबसे ज़्यादा प्रकोप गर्मी व बरसात मे देखने को मिलता है. क्योकि इस मौसम मे हमारे सिर मे गंदे पानी की मात्रा अधिक रहती है. जिसका कारण बारिश का पानी और पसीना आदि होता है. कई बार बारिश मे भीगने के कारण हमारे बाल गीले हो जाते है और उनमे मौजूद गंदगी के कारण जुएं हो जाती है. जुओं के पनपने का मुख्य कारण बालो मे मौजूद गंदगी होती है.

यदि हम अपने बालों को साफ़ रखेंगे तो इस समस्या से दूर रह सकते है. बालो में एक बार जूं हो जाने के पश्चात् उनसे छुटकारा पाना बेहद कठिन हो जाता है लेकिन फिर भी यदि हम प्रयास करे तो इनसे राहत पा सकते हैं.

क्या होती है जूं ?

जूं एक प्रकार का छोटा सा जीव है जो व्यक्ति के सिर मे रहकर उनका खून पीती है. एक जूं महीने मे 50 से 100 अंडे दे सकती है. और ये अंडे जुएं हमारे सिर मे रहकर देती है. 10 दिन के अंदर ये अंडा (जिन्हे सामान्य भाषा मे लीख कहा जाता है) नये जूं का रूप ले लेती है. हमारे शरीर का खून जुओं के लिए पोषण का कार्य करता है. बालो मे जुएं होना कोई बीमारी या बहुत बड़ी समस्या नही है जिससे निजात नही पाया जा सकता. ये एक तरह की आम समस्या है जो सबसे ज़्यादातर बच्चो के बालो मे देखने को मिलती है. क्यों अक्सर बच्चे अपने बालों के प्रति लापरवाहियां कर देते है जिनके कारण ये उनके सर में पनाह ले लेती है.

क्यों होती है बच्चो के बालों मे जूं ?

bacho me juon ki smasyaऐसे तो कभी न कभी किसी न किसी कारण के वजह से बच्चो के सिर मे जुएं आ ही जाती है लेकिन कई बार इनके कारण बच्चो को किसी बड़ी परेशानी का भी सामना करना पड़ सकता है. क्योकि लंबे समय तक जुओं का सिर मे रहना न केवल बच्चो के लिए अपितु उनके शरीर के लिए भी हानिकारक होता है. क्योकि ये खून पीकर जिंदा रहती है और जब इन्हे सिर की स्कैल्प से खून मिलना बंद हो जाता है तो ये उसके भीतरी भाग को नुकसान पहुचाना प्रारंभ कर देती है.

ऐसे मे बच्चे के सिर मे घेहरे घाव आदि जैसी गंभीर समस्या उत्पन्न हो सकती है. बालो मे जूं होने के कारण बच्चे के सिर मे खुजली होने लगती है जिसके बढ़ने पर स्कैल्प पर दाने भी हो सकते है. और यदि इन फुंसियो का समय पर इलाज न करवाया जाए तो परिणाम उससे भी बदतर हो सकते है. इसलिए सही समय पर सही इलाज आवश्यक है.

जूं हो जाने पर क्या करें (Ju ho jane par kya kare)?

यदि आपके बच्चे के सिर मे जूं की समस्या हो गयी है तो उसके सिर का ख़ास ख्याल रखे. ऐसे मे हो सके तो उसे भीड़ भाड़ वाले क्षेत्र से दूर रखे जिससे अन्य व्यक्तिओ मे जुएं न फैल सके. क्योकि बालो मे जूं हो जाने के कारण कई बार बच्चो को शर्मिंदगी भी महसूस होती है. बच्चो के बालो मे जूं होने से बहुत सी परेशानिया होने लगती है जैसे सिर मे खुजली, बालो मे रूखापन आदि.

ऐसे तो बाज़ार मे कई शैम्पू और तेल उपलब्ध है जिनकी मदद से बालो से जुओं को निकाला जा सकता है लेकिन इनका प्रयोग करते समय कुछ सावधानिया बरतनी पड़ती है जैसे अन्य व्यक्तिओ से दूरी बनाए रखना, बालो को सॉफ रखे, गीले बालो को न बांधे आदि. क्योकि कई बार जुएं दूसरो के सिर मे से भी आपके सिर मे चढ़ जाती है और अंडे दे देती है जिससे आपके सिर मे भी जुएं होने लगती है.

juon ko nikalne wale upkarnaबाज़ार मे उपलब्ध उत्पादो के अलावा और भी कई उपाए है जिनकी मदद से बालो से जुओं को निकाला जा सकता है. क्योकि बिना किसी उपाय की मदद के इन्हे निकालना संभव है. लेकिन कई बार इनमे मिले कैमिकल बच्चो के बालों के लिए नुकसानदेह भी हो सकते है. इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसी उपाय बताने जा रहे है जिनकी मदद से बालो मे जुए होने की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है और इसके लिए आपको कही जाने की भी आवश्यकता नही है क्योकि ये उपाय आपके घर मे ही छुपे हुए है. तो जानते है बालो से जुएं निकालने के घरेलू उपाय !!

बालो से जुएं निकालने के घरेलू उपाय (home remedies for Headlice)

ऐसे तो बालो में Juon से छुटकारा पाने के लिए कई उपाय है लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे है जिनकी मदद से न केवल आपके सिर से जुएं खत्म होंगी बल्कि आपके बच्चो के बालो को किसी प्रकार की हानि भी नहीं झेलनी पड़ेगी.

लहसुन और नींबू का रस खत्म करता है Juon को :

लहसुन में मौजूद गुण जुओं को समाप्त करते है जबकि नींबू का रस उनके अंडो की जूं बनने के प्रक्रिया को रोकता है. यदि इन दोनों गुणकारी उत्पादों को मिलाकर बालों में लगाया जाये तो क्या कहने..! इसके लिए लहसुन की कुछ कलियों को पीसकर उनका पेस्ट बना लें. अब इस पेस्ट में नींबू के रस की कुछ बुँदे मिलाएं. इसके बाद इसे अपने बालो में व् जड़ो में लगाएं जिससे इसका असर पुरे बालो में हो. 20 से 30 मिनट तक लगे रहने देने के बाद बालो को धो दे. जब इस पेस्ट को आपने अपने बालो में लगा रखा हो तो किसी कपडे या शावर कैप की मदद से बालो को ढक लें. इसके पश्चात् शैम्पू की मदद से बालो से इस पेस्ट को निकल दें. ऐसा हफ्ते में दो बार करे. कुछ ही प्रयोगों से आपके बालो की लीखे और जुएं खत्म होने लगेंगी.

कपूर और नारियल का तेल ka mishran rahat dilayega juon ki samasya se  :

कपूर को जुएं खत्म करने का सबसे उत्तम उपाय माना जाता है, क्योकि कपूर की खुशबू से जुएं बालों में साँस नहीं लें पाती और मर जाती है. मर जाने के पश्चात् किसी कंघी की मदद से इन्हें आसानी से निकाला जा सकता है. इसके अलावा ये नुस्खा सस्ता और असरदार भी है. गावो में बालों से जुओं को निकालने के लिए अक्सर इसी नुस्खे का प्रयोग किया जाता है. जहा एक तरफ कपूर जुओ को मारने का कार्य करता है वही दूसरी तरफ नारियल का तेल बालो को पोषण प्रदान करता है. इसके लिए नारियल के तेल में कपूर को अच्छी तरह से मिलकर बालों में लगाएं. ऐसा करने से आपके बालो में मौजूद जुएं और लीखे मर जाएँगी और आपके बाल भी अच्छे हो जायेंगे. इस उपाय का प्रयोग तब तक करते रहे जब तक जुए पूरी तरह से बालो में से खत्म न हो जाएँ.

Ju se Chutkara पाने के लिए Upay प्याज का रस :

pyaas ka ras juon ke liyeJuon को बालो से हटाने के लिए ऐसे उत्पादो का प्रयोग किया जाता है जिनसे वे सांस न ले पाए और उनका दम घुटने लगे. इसके लिए प्याज का रस एक अतिरिक्त उपाय है जिसकी मदद से इन्हे बालो से निकाला जा सकता है. इसके लिए प्यास को पीसकर उसका रस निकाल ले. इस रस को 10 मिनट के लिए अपने बालो मे लगाएँ और बालो को किसी कपड़े आदि से ढक ले. ऐसा करने से जुओं का दम घुटने लगेगा और वे मर जाएँगी. प्याज के स्थान पर आप मूली का भी प्रयोग कर सकते है.

नीम का तेल hai juon ke liye jahar :

नीम एक तरह की आयुर्वेदिक औषधि है जिसका प्रयोग त्वचा संबंधी समस्याओ के लिए किया जाता है. इन्हे मे से एक जुओं की स्मास्या है जिसे खत्म करने के लिए नीम का प्रयोग किया जा सकता है. नीम मे Anti Bacterial गुण होते है जो जुओं को मारने का कार्य करते है. अच्छे परिणामो के लिए नीम के तेल मे तुलसी के पत्तो को पीसकर मिलाकर एक साथ भी लगाया जा सकता है. इसके लिए इस मिश्रण को आधे घंटे के लिए बालो मे लगाकर रखे और बाद मे पानी से धो दे. ऐसा करने से आपके बालो से जूं पूरी तरह समाप्त हो जाएँगी.

पेट्रोलियम जेली से भी मिलेगी Juon se rahat  :

अक्सार इसका प्रयोग रूखी त्वचा को नमी देने के लिए किया जाता है लेकिन क्या आप जानते है की जुओं को खत्म करने के लिए भी इसका प्रयोग किया जा सकता है. दरअसल पेट्रोलियम जेली मे ऐसे गुण पाए जाते है जो जुओं को नष्ट करने का कार्य करते है. इसके लिए रात को पेट्रोलियम जेली अपने बालों मे लगाकर सोए और सुबह बाल धोने से पूर्व कंघी की मदद से बालो को काढ़े जिससे मरी हुई जुए बाहर निकाल आएँगी. लगातार प्रयोग करने से आपके बालो की जुएं पूरी तरह नष्ट हो जाएँगी.

Juon ko खत्म karega सीताफल का बीज :

खाने मे प्रयोग किए जाने वाले सीताफल के बीजो का प्रयोग भी जुओं को बालो से हटाने के लिए किया जा सकता है. इसके लिए इसके बीजो को पीसकर एक पेस्ट बना ले और इसमे बेसन मिलाकर अपने बालो मे लगाएँ. बालो मे लगाने के बाद थोड़ी देर सूखने के लिए छोड़ दे और सूखने के बाद बालो को धो ले. ऐसा करने से आपके बालो से जुएं खत्म हो जाएँगी.

Vinegar या सिरका bhi upyogi hai juon ki smasya me :

सिरके का प्रयोग भी बालो से जुओं को समाप्त करने के लिए किया जा सकता है. क्योकि सिरके मे मौजूद गुण जुओं को मारने का कार्य करते है. इसके लिए रुई की मदद से सिरके को स्कैल्प पर लगाएँ और रात भर लगे रहने दे लेकिन सिरका लगाने के बाद बालो को कपड़े से ढक ले. ताकि सिरका अच्छे से कार्य कर सके. अगली सुबह शैम्पू की मदद से बालो को धो दे.

balo ki anay samasyao ke baar me janne ke liye padhe : बालों की समस्याएं 

juon ko bhagane ke upay, जुएं भगाना, juon se chutkara pane ke liye ya marne ke liye ya bhagane ka aasan upay, jue hone ke karan, juen bhagane ke gharelu upchar, kya hoti hai juen lice, जुएं हटाने के उपाय और घरेलु नुस्खे, Juon ka ilaj

sir se juen bhagane ke tarike, jue bhagane ke tarike, ju marne ke upay, lice khatam karne ka totka in urdu, ju marne ka upay, treatment of head lice in hindi, sar me ju ka ilaj in hindi, sir ki ju ka ilaj , juye marne ke upay