Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

गर्भावस्था में कैसा हो आहार, Pregnancy diet

0

गर्भावस्था में कैसा हो आहार:-

गर्भावस्था के दौरान महिलाएं बहुत से अलग-अलग अनुभवो का अहसास करती हैं| इसमें से एक ऐसा अहसास खाने को लेकर भी हैं| गर्भावस्था के दौरान कई महिलाओ का खट्टा खाने का बहुत दिल करता हैं| आपने सुना होगा शादी के बाद यदि कोई महिला कह देती हैं, मेरा खट्टा खाने का दिल कर रहा हैं| तॉ इसे सुन कर सभी कहते हैं की कोई खुशखबरी हैं क्या? महिलाओ को गर्भावस्था के दौरान अपने खाने को लेकर बहुत सी सावधानियां बरतनी पड़ती हैं|

गर्भावस्था के दौरान माँ के खाने का सीधा असर उनके बच्चों पर पड़ता हैं| ऐसे में महिलाओ को ध्यान रखना चाहिए की कौन सा आहार उनके और गर्भ में पल रहे शिशु के लिए अच्छा हैं| और कौन सा नहीं, महिला को ऐसा आहार लेना चाहिए जिससे गर्भ में उसके शिशु का विकास पूरी तरह से हो सकें| और बच्चा स्वस्थ हो, अब आप सोचेंगे की गर्भ में पल रहे शिशु का माँ के आहार से क्या लेना देना, वो इसलिए क्योंकि गर्भ में पल रहा शिशु अपनी सारी जरूरतों की पूर्ति अपनी माँ से ही करता हैं|

गर्भावस्था के दौरान महिला के लिए जरुरी हैं की वो स्वस्थ आहार ग्रहण करें, जिसमे सारे पोषक तत्व मौजूद हो| इसके आलावा महिला को पानी का भी भरपूर मात्रा में सेवन करना चाहिए, फलो का सेवन करना चाहिए, ताजी हवा लेनी चाहिए, इससे बच्चे पर अच्छा असर पड़ता हैं| और उसे वो सभी मिनरल्स मिलते हैं, जिसकी जरुरत शिशु के विकास के लिए जरुरी होती हैं| इसके आलावा महिला को कुछ ऐसी चीजो का भी ध्यान रखना चाहिए की ऐसी कौन सी चीजे हैं जिसका बुरा असर बच्चे पर पड़ सकता हैं|

इसके लिए महिलाओ को ऐसे पदार्थो का सेवन नहीं करना चाहिए जिसमे विटामिन सी की मात्रा अधिक हो, इसके आलावा पपीता, इलायची, तिल के बीज, ज्यादा गरम पदार्थो का सेवन नहीं करना चाहिए| क्योंकि शुरूआती दिनों में इनके ज्यादा सेवन से गर्भपात होने का खतरा बढ़ जाता हैं| तो आइये जानते हैं की ऐसी कौन सी चीजे हैं जिनका सेवन महिलाओ को गर्भावस्था में करना चाहिए, और जिनका सेवन नहीं करना चाहिए|

गर्भावस्था में महिलाओ को किन-किन चीजो का सेवन करना चाहिए:-

स्वस्थ व् पोष्टिक आहार का सेवन करे:-

vegetables

गर्भावस्था के समय महिलाओ को भी ऊर्जा की जरुरत होती हैं, जिससे वो फिट और स्वस्थ रह सकें, इसके लिए महिलाओ को स्वस्थ व् पोष्टिक आहार का सेवन करना चाहिए| हरी पत्तेदार सब्जियों को भी अपने आहार में शामिल करना चाहिए| क्योंकि इनमे आयरन की मात्रा बहुत होती हैं, जो शरीर में हीमोग्लोबिन को बढ़ाने में मदद करती हैं| और गर्भावस्था के समय ये भी जरुरी हैं की आप थोड़े -थोड़े समय के बाद कुछ न कुछ खाते रहें| क्योंकि स्वतः व् पोष्टिक आहार से आपके महिला के साथ आने वाला बच्चा भी स्वस्थ होता हैं|

फलो का सेवन करें:-

fruits

गर्भावस्था के दौरान काफी समय तक पड़े हुए कटे फलों का सेवन नहीं करना चाहिए| सदैव ताजे फलों को ही अपने आहार में सम्मिलित करना चाहिए| आपको अनार ,आंवला ,चुकंदर,सेब आदि का सेवन करना चाहिए ,इन सबका सेवन करते समय आपको नीबू का प्रयोग करना चाहिए क्योंकि यह पाचनक्रिया में मदद करता हैं| फलों को थोड़े-थोड़े समय के बाद खाते रहना चाहिए| इससे हमारे शरीर में प्रोटीन, कैल्शियम आदि की मात्रा बनी रहती हैं,  हरे नारियल का पानी भी गर्भावस्था के दौरान अच्छा होता हैं|

अंडे व् मछली का सेवन करें:-

गर्भवती महिलाये यदि मसहरी हैं तो वो मछली का सेवन कर सकती हैं| क्योंकि इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड्स की काफी मात्रा होती है जो बच्चे के दिमाग के विकास और आँखों के लिए काफी अच्छी होती हैं, और यह आपको प्रोटीन एवं विटामिन बी भी भरपूर मात्रा में देता हैं| इसके आलावा अंडे का सेवन करने से भी महिलाओ में परतें की मात्रा बढ़ती हैं| परंतु अंडो के सेवन से पहले आप ध्यान रखें की न तो अंडे आधे कच्चे और आधे पके हुए हो, या फिर आप कभी भी कच्चे अंडो का सेवन न करें|

दालों का सेवन करें:-

pulses

दाले प्रोटीन से भरपूर होती हैं| और इसमें कैल्शियम, जिंक, आयरन जैसे भी पोषक तत्व होते हैं| जो आपको शरीर में होने वाली मिनरल्स की कमी को पूरा करते हैं| आपको गर्भावस्था के दौरान जरुरी हैं की माँ और बच्चे को सभी प्रकार के मिनरल्स मिले इसलिए जरुरी हैं की आप रोजाना दाल का सेवन करें , और आप चाहे तो दालों को बिना तड़का लगाएं इसका सेवन सूप के रूप में भी कर सकती हैं|

गर्भावस्था के दौरान क्या-क्या नहीं खाना चाहिए:-

पपीता, अंगूर अनानास जैसे फलो के सेवन से बचें:-

गर्भावस्था के दौरान फलो का सेवन व् फलो का रस बहुत ही फायदा करता हैं| परंतु गर्भवती महिलाओ को कुछ ऐसे फल भी हैं जिसका सेवन गर्भावस्था के समय नहीं करना चाहिए| जैसे की पपीता, अंगूर, अनानास आदि| क्योंकि इन फलो में विटामिन सी की मात्रा अधिक होती हैं| जो कई बार गर्भ में परेशानी उत्तपन कर सकती हैं| और बाकी फलो का आप जब भी सेवन करें तो ताजे व् अच्छे से धो कर उन्हें खाएं| ताकि उनका भरपूर फायदा आपको मिल सकें|

ज्यादा मसाले व् तली हुई चीजो का सेवन नहीं करना चाहिए:-

fast-food

गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए जरुरी हैं की ऐसा आहार हो, जो संतुलित व् पोष्टिक हो| और ज्यादा मसालेदार व् तले हुए भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए| क्योंकि इससे कई बार पेट से जुडी समस्या उत्तपन हो सकती हैं| और बासी व् फ्रिज़ में रखें हुए ठन्डे खाने का भी सेवन नहीं करना चाहिए| बाहे के बने खाने से भी परहेज रखना चाहिए| घर का बना हुआ संतुलित आहार हो उसका सेवन करना चाहिए|

चाय, कॉफ़ी का सेवन कम से कम करें:-

चाय कॉफ़ी का सेवन भी गर्भावस्था के समय में कम से कम करना चाहिए| क्योंकि इसमें टॉनिक एसिड के साथ कैफीन की मात्रा भी उपलब्ध होती हैं| जो प्रेग्नेंट महिलाओ के लिए अच्छा नहीं होता हैं| महिलाओ को इससे नींद से जुडी परेशानी हो सकती हैं और इससे महिलाओ को बार-बार बाथरूम में जाने की समस्या होती हैं| और खाली पेट तो बिलकुल भी चाय या कॉफ़ी का सेवन नहीं करना चाहिए| इसीलिए जितना हो सके इसका कम से कम सेवन करना चाहिए|

अपाश्चयुरिकृत दूध के सेवन से बचे:-

अपाश्चयुरिकृत दूध (भैंस या गाय का) और उस से बने डेयरी उत्पादों का सेवन गर्भावस्था में सुरक्षित नहीं है| इन में ऐसे विषाणुओं के होने की संभावना रहती है, जिन से पेट के संक्रमण का खतरा रहता है| गर्भावस्था के समय आप पाश्चयुरिकृत दूध का ही प्रयोग करें| और घर में ही पन्नेर निकाल कर उसका सेवन करें| कहीं बाहर खाना खाते समय भी पनीर से बने व्यंजनों से बचें| बसी व् कच्चे दूध का सेवन भी नहीं करना चाहिए|

गर्भावस्था के दौरान अन्य ध्यान देने योग्य बातें:-

  • शरीर में पानी की कमी न होने दें|
  • यदि आप विमान में सफर कर रही हैं तो ऐसी जगह का चुनाव करे जहा पैर खुले करके रख सकें|
  • गाड़ी में सफर करते समय हमेशा आगे की सीट पर बैठे|
  • नशीले पदार्थो का सेवन न करें|
  • कच्चे दूध का सेवन नहीं करना चाहिए|
  • अधपके खाने व् मास का सेवन भी नहीं करना चाहिए|
  • सभी किस्म के मांस को तब तक पकाएं जब तक कि उस से सभी गुलाबी निशान न हट जाएं|
  • कच्चे अंडो का सेवन न करें|
  • बिना किसी डॉक्टर की सलाह के दवाइओ का सेवा भी नहीं करना चाहिए|
  • सफर को शुरूआती दिनों में न करे, 14 हफ्ते के बाद ही डॉक्टर के परामर्श के बाद ही ऐसा करें|
  • चाय व् कॉफ़ी का सेवन कम मात्रा में करें|
  • ज्यादा भाग दौड़ व् व्यायाम न करें|
  • भारी सामान न उठायें|
  • पेट के बल कोई काम न करें|
  • सेक्स के दौरान सावधानी बरतें|
  • स्मोकिंग से परहेज रखें|
  • ज्यादा मसालेदार भोजन का सेवन न करें|

गर्भावस्था में कैसा हो आहार, गर्भावस्था के दौरान महिला क्या खाएं और क्या न खाएं, गर्भावस्था के दौरान ध्यान देने योग्य बातें, गर्भावस्था के दौरान महिलाएं इन चीजो का रखें ध्यान, pregnancy diet, diet tips for pregnancy, kaisa ho garbhvati mahila ka aahar

Leave a comment