Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

मिसकैरिज से बचने के लिए ये चीजे भूलकर भी न खाएं

0

प्रेगनेंसी के समय गर्भ में पल रहा शिशु स्वस्थ रहे इसके लिए महिला को जरुरत होती है की वो अच्छे से अपनी केयर करें, जैसे की चलने फिरने में सावधानी बरतें, भारी सामान उठाने से परहेज करें, पेट के भार कोई काम न करें, ज्यादा झुकने से बचें, अपने शरीर पर अधिक दबाव न डालें, खान पान का ध्यान रखें, ताकि आपके शिशु को कोई परेशानी न हो, और आप गर्भपात के खतरे से बचें रहें, खासकर प्रेगनेंसी के पहले तीन महीने सावधानी बरतनी बहुत जरुरी होती है, क्योंकि इस समय गर्भपात के चांस सबसे अधिक होते है, इसके अलावा प्रेगनेंसी में खान पान महिला और शिशु को स्वस्थ रखता हैं, वहीँ कुछ ऐसी चीजे भी हैं जो महिला को नहीं खानी चाहिए क्योंकि उनसे गर्भपात यानी मिसकैरिज का खतरा बना रहता हैं तो आइये जानते हैं की वो चीजे कौन सी हैं जिनका सेवन महिला को नहीं करना चाहिए।

इन्हें भी पढ़ें:- प्रेगनेंसी में इन चीजों को खाएं! बच्चा हष्ट पुष्ट और बुद्धिमान होगा

अनार के सेवन से परहेज करें:-

pomegranete-juice

अनार के बीजो का इस्तेमाल गर्भपात के लिए किया जाता है, इसीलिए महिलाओ को जितना हो सकें प्रेगनेंसी के समय अनार खाने से परहेज करना चाहिए, कई महिलाएं इसे शरीर में खून की वृद्धि के लिए सेवन करती हैं, लेकिन पुराने जमाने से ही इसका इस्तेमाल प्राकृतिक रूप से गर्भपात के लिए किया जाता है।

ग्रीन टी का सेवन न करें:-

यदि आप प्रेगनेंसी में अधिक ग्रीन टी का सेवन करती हैं तो इससे आपको फर्टिलिटी से जुडी समस्या खड़ी हो जाती है, जिसके कारण आपके गर्भ के गिरने का डर रहता है, इसीलिए जितना हो प्रेगनेंसी के दौरान इससे परहेज करें।

एस्पिरिन से परहेज करें:-

एस्‍पिरिन के सेवन से भी प्रेगनेंसी में परहेज करना चाहिए और इसके साथ जितना हो लौंग, कॉफी, पार्सले, अदरक और अंजीर भी न खाएं, इसे खाने से आपका मासिक धर्म शुरु होने का खतरा रहता है, जिससे आपको गर्भपात हो सकता है।

इन्हें भी पढ़ें:- गर्भावस्था में उल्टी और गैस की समस्या से निजात पाने के टिप्स

पपीते का सेवन न करें:-

papaya-leaf

पपीते में विटामिन सी की मात्रा अधिक होने के साथ पेपाइन नामक एसिड होता है जो कि प्राकृतिक रूप से मिसकैरेज करवाता है, इसीलिए डॉक्टर्स भी प्रेगनेंसी के दौरान इसके लिए मनाही करते हैं, और यदि आप मिसकैरिज की समस्या से बचना चाहते हैं तो जितना हो सकें इनके सेवन से परहेज रखें।

विटामिन सी युक्त पदार्थो का अधिक सेवन न करें:-

विटामिन सी एक प्राकृतिक कंट्रासेप्‍टिव मानी जाती है जिसमे शुद्ध एस्‍कॉर्बिक एसिड मौजूद होता है जो कि आपके शरीर में प्रोजेस्‍ट्रॉन के प्रोडक्‍शन को रोक कर एस्ट्रोजन के प्रोडक्‍शन को उत्‍तेजित कर देता है जिसके कारण अंडाशय में अंडा अपनी जगह नहीं बना पाता है, और साथ ही विटामिन सी इन हार्मोन्‍स को कंट्रोल कर के शरीर में हार्मोन इंबैलेंस पैदा करता है जिससे मिसकैरेज होने के चांस बढ़ जाते हैं।

अनानास का सेवन न करें:-

अनानास में भी पपीते के ही तरह एक तत्व होता है जो की मिसकैरिज के चांस को बढ़ाने के लिए असरदार होता है, और वो होता है bromelain नामक एंजाइम, जो कि सर्विक्‍स को मुलायम बना कर गर्भपात करवा देता है, इससे महिलाओ के स्वास्थ्य पर तो कोई बुरा असर नहीं पड़ता है, लेकिन इसके सेवन से गर्भपात होने का खतरा बना रहता है इसीलिए प्रेग्नेंट महिलाओ को जितना हो सकें इससे परहेज रखना चाहिए।

गरम तासीर वाली वाली चीजों से परहेज रखें:-

गरम तासीर वाली चीजों का सेवन करने से भी आपके गर्भपात होने के चांस बढ़ जाते हैं, इसीलिए जितना हो सकें, ड्राई फ्रूट्स जैसे अखरोट, पिस्ता, बादाम, छुहारे, आदि से परहेज रखना चाहिए इलायची का सेवन भी नहीं करना चाहिए, यहां तक की जितना हो गरम पानी से नहाने से भी बचना चाहिए, क्योंकि गरम पानी से अधिक नहाने से भी गर्भपात के चांस बढ़ जाते हैं।

कटहल का सेवन भी नहीं करना चाहिए:-

प्रेगनेंसी के समय कटहल का सेवन भी नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमे भी ऐसे तत्व होते है जो की गर्भपात करवाने में सहायक होते है, इसीलिए प्रेगनेंसी के दौरान इस सब्ज़ी से परहेज करें यदि आप इसका सेवन करते हैं।

प्रेगनेंसी के दौरान गर्भपात से बचने के लिए ध्यान देने योग्य अन्य बातें:-

  • महिला को ख़ुश रहना चाहिए और तनाव नहीं लेना चाहिए क्योंकि तनाव से गर्भपात के चांस बढ़ने के साथ शिशु के विकास पर भी असर पड़ता है।
  • अधिक भागादौड़ी व् शारीरिक श्रम नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे स्पॉटिंग का खतरा बना रहता है।
  • पेट बल या पेट पर जिसके कारण दबाव पड़े ऐसे किसी भी काम को नहीं करना चाहिए।
  • खान पान में बिलकुल भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए।
  • नशीले पदार्थो और बिना डॉक्टर के परामर्श के किसी भी तरह की दवाई का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अधिक सीढ़ियां नहीं चढ़नी चाहिए, और कुछ भी काम करते हुए यदि आपको थकावट महसूस हो तो बैठकर आराम करना चाहिए न की अपने शरीर पर दबाव डालना चाहिए इसे आपको परेशानी का अनुभव करना पड़ सकता है।
  • अधिक कड़ा व्यायाम भी नहीं करना चाहिए, क्योंकि इससे भी आपको परेशानी हो सकती है।
  • नींद को भरपूर मात्रा में लेना चाहिए क्योंकि इससे आपको स्वस्थ रहने के साथ शिशु के अच्छे से विकास होने में भी मदद मिलती है।
  • इसके अलावा समय समय पर डॉक्टर से अपना चेकअप जरूर करवाना चाहिए ताकि आपको प्रेगनेंसी के समय आने वाली परेशानियों से बचाने में मदद मिल सकें।

तो ये हैं कुछ आहार जिनका सेवन महिला को प्रेगनेंसी के समय नहीं करना चाहिए क्योंकि इनसे महिला के गर्भपात के चांस बढ़ जाते हैं, और महिला को परेशानी का अनुभव करना पड़ सकता है, इसीलिए महिला और शिशु दोनों को ही स्वस्थ रखने के लिए महिला को इन टिप्स पर ध्यान देंना चाहिए।

इन्हें भी पढ़ें:- गर्भावस्था के दिनों में पैरो में सूजन है? ये है उपाय

Leave a comment