Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

विटामिन ई के क्या क्या फायदे होते है

0

हमारे शरीर के विकास के लिए सभी पोषक तत्वो का सेवन अनिवार्य होता है, फिर चाहे वो प्रोटीन, कैल्शियम हो या फिर विटामिन, हर एक खनिज अपनी विशेषताओ के लिए होता है, हमारे शरीर में यदि सभी खनिज पर्याप्त मात्रा में विद्यमान होते है, तो इसके कारण शरीर के विकास को तेजी से बढ़ने में मदद मिलती है, ऐसे ही विटामिन ई के भी बहुत से ऐसे फायदे होते है, जो आजके शारीरिक विकास के साथ आपके सौन्दर्य को बढ़ाने में भी मदद करते है, इसके कारण आपके शरीर में होने वाली लाल रुधिर कोशिकाओं की संख्या में बढ़ोतरी होती है, जिसके कारण शरीर में होने वाली अनीमिया की समस्या से आपको राहत मिलती है।

इसके साथ ये आपकी त्वचा से जुडी परेशानियों का हल करने में भी आपकी मदद करता है, ऐसे ही बहुत से फायदे है, जो आपको विटामिन ई का सेवन करने पर मिलते है, विटामिन ई वनस्पति तेल, हरी पत्तेदार सब्जियां, दूध, दाल, मक्खन, चोकर युक्त आटा, गाय के दूध, फलो आदि में प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, और जिन व्यक्तियों में विटामिन ई की कमी होती है वो बहुत सी शारीरिक परेशानियों के घिराव में आ जाते है, जैसे की प्रजनन शक्ति का कमजोर हो जाना, शारीरिक रूप से कमजोरी होना, मांसपेशियों में कमजोरी आ जाना।

नेत्र दृष्टि का कमजोर होना, शरीर के अंगो का सही ढंग से काम न कर पाना, थकान की समस्या होना, अचानक से चक्कर आना, आदि। ऐसी कुछ परेशानियां आपको हो जाती है, इसीलिए आपको ऐसा आहार लेना चाहिए जिसमे सरे खनिज उचित मात्रा में विद्यमान हो, आज हम आपको विटामिन ई युक्त आहार लेने के कुछ फायदे बताने जा रहे है, और यदि आप अपने आहार में विटामिन ई का सही इस्तेमाल करते है, तो इसके कारण आपको बहुत से फायदे भी होते है, तो आइये जानते है विटामिन युक्त आहार का सेवन करने के क्या क्या फायदे होते है।

कैंसर की संभावनाओ को कम करता है:-

विटामिन ई का सेवन करने से कैंसर की सम्भावना कम होती है, और यदि आपके शरीर में कैंसर फैलाने वाली कोशिकाएं पनप रही होती है, तो इसके इस्तेमाल से उन्हें भी सामान्य होने में मदद मिलती है, इसीलिए आपको इसका सेवन जरूर करना चाहिए, ताकि आपको इस भयंकर बीमारी से आराम मिल सकें और आप इसकी चपेट में न आएं।

एनीमिया से निजात दिलाता है:-

शरीर में रक्त की कमी होने के कारण एनीमिया की समस्या उत्त्पन्न हो जाती है, जिसके कारण थकान, कमजोरी, जैसी समस्या भी आपको परेशान करता है, इसके सेवन करने सेआपके शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ने में मदद मिलती है, जिसके कारण आपके शरीर में रक्त पर्याप्त मात्रा में रहता है, और इसका प्रवाह भी सही ढंग से होता है, गर्भवती स्त्री को इसका सेवन जरूर करना चाहिए, क्योंकि गर्भवती महिला के अंदर खून की मात्रा का पर्याप्त होना बहुत जरुरी होता है, इससे उसे कमजोरी का अनुभव भी नही होता है।

हदय रोगों के लिए अच्छा होता है:-

रिसर्च के अनुसार जो लोग विटामिन ई का सेवन भरपूर मात्रा में करते है, उन्हें हदय से सम्बंधित समस्या से राहत मिलती है, क्योंकि रक्त की मात्रा पर्याप्त होने के कारण हदय अपनी सही गति से काम करता है, इसीलिए यदि आप भी चाहते है की आपको भी हदय संबंधी परेशानी न हो, तो आपको जितना हो सकें इसका सेवन करना चाहिए। इसके अलावा महिलाओ में मेनोपॉज के बाद ये स्ट्रोक की सम्भावना को भी कम करता है।

इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है:-

कई लोग से पेट संबंधी परेशानी से जूझते रहते है, जैसे की अपज, बदहज़मी, पेट में गैस बनना आदि की समस्या रहती है, विटामिन ई का सेवन करने से आपके पाचन तंत्र को मजबूत होने में मदद मिलती है, और साथ ही इसके कारण आपको भोजन को पचाने में आसानी होती है, आपका इम्यून सिस्टम बेहतर होता है, ओटर साथ की कब्ज़ जैसी समस्या से भी राहत मिलती है।

स्तन कैंसर की रोकथाम करता है:-

जिन महिलाओ के स्तन में गांठ होती है, या ब्रैस्ट कैंसर की समस्या होती है, ये उन महिलाओ के लिए फायदे का काम करता है, क्योंकि इसके सेवन से स्तन कैंसर को फैलाने वाली कोशिकाएं सामान्य हो जाती है, जिससे ये स्तन कैंसर की रोकथाम में आपकी मदद करता है। जिन महिलाओ को स्तन से जुडी कोई परेशानी हो उन्हें इसका सेवन जरूर करना चाहिए।

पीरियड्स में होने वाले दर्द से राहत दिलाता है:-

सभी महिलाओ को पीरियड्स होते है, और पीरियड्स के दौरान कई महिलाओ को पेट में कमर व् पीठ के साथ टांगो में दर्द की भी शिकायत रहती है, और जिन महिलाओ को इस दर्द का अनुभव नहीं करना पड़ता है वो बहुत भाग्यशाली अपने आप को समझ सकती है, क्योंकि कई बार पीरियड्स में होने वाला दर्द असहनीय होता है, और यदि आप भी मासिक धर्म के दौरान होने वाले इस दर्द की समस्या से परेशान है, तो इससे बचने के लिए आपको विटामिन ई युक्त पदार्थो का सेवन करना चाहिए, ये इस परेशानी से बचने में आपको मदद करता है।

तनाव को कम करने में मदद करता है:-

स्टडीज़ के अनुसार पता किया गया है, की जिन व्यक्तियों में विटामिन ई की कमी पायी जाती है, वो लोग मानसिक रूप से ज्यादा परेशान रहते है, जिसके कारण उन्हें तनाव की समस्या हो जाती है, इसके लिए यदि आप भी तनाव से राहत पाना चाहते है तो आपको विटामिन ई का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए, जिसके इस्तेमाल से आपको मानसिक रूप से फिट रहने में मदद मिल सकें।

कलींजर का काम करता है:-

विटामिन ई युक्त पदार्थ जैसे की एलोवेरा आदि प्राकृतिक कलींजर का काम करते है, इनके इस्तेमाल से आपकी त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाकर त्वचा का सौन्दर्य को और भी बढ़ाने में मदद मिलती है, और ये आपकी त्वचा को गोरा करने में भी आपकी मदद करता है, सत्रह ही त्वचा पर जमने वाली धूल मिट्टी की समस्या से निजात पाने में भी ये आपकी मदद करता है। इसके साथ इसका सेवन करने से भी आपको त्वचा को निखारने में भी मदद मिलती है।

बढ़ती उम्र को रोकने में मदद करता है:-

विटामिन-ई में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो त्वचा पर बढ़ती उम्र के असर को कम करके आपको जवान बनाएं रखने में मदद करते है, इसके अलावा यह चेहरे पर होने वाली झुर्रियों और मुहांसे की समस्या से निजात दिलाने में भी आपकी मदद करते है, इसीलिए यदि आप भी हमेशा जवान बने रहना चाहते है, और चाहते है की आपकी त्वचा पर ऐसी कोई भी समस्या न हो, तो आपको विटामिन ई का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए।

त्वचा संबंधी समस्या का हल करता है:-

कई महिलाओ की त्वचा रूखी सुखी व् बेजान होती है, जिसके कारण उनकी त्वचा में वो आकर्षण नहीं होता है, तो यदि आप चाहते है की आपको इस समस्या का समाधान मिलें, तो आपको अपने आहार में विटामिन ई की मात्रा को बढ़ावा देना चाहिए, क्योंकि इसका सेवन करने से आपकी त्वचा को नमी मिलती है, जिसके कारण त्वचा की नई कोशिकाओं का निर्माण होता है, जिसके कारण आपको इस समस्या से राहत पाने में मदद मिलती है।

डायबिटीज के खतरे को कम करने में मदद करता है:-

विटामिन ई की पर्याप्त मात्रा यदि आपके शरीर में होती है, तो इसके कारण आपके शरीर में डायबिटीज के खतरे को कम करने में मदद मिलती है। और ये देखा गया है की जिन व्यक्तियों में विटामिन ई की मात्रा की कमी होती है, उनके लिए डायबिटीज का खतरा बाद जाता है, इसीलिए जिन लोगो को ये समस्या हो, उन्हें विटामिन ई का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए।

कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है:-

विटामिन ई का सेवन सही मात्रा में करने से आपके शरीर में ये कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम करता है और शरीर में वसीय अम्लों के संतुलन को बनाए रखने में सहायता करता है, क्योंकि यदि कोलेस्ट्रॉल और वसा आपके शरीर में बढ़ जाता है, तो इसके कारण आपको मोटापे की समस्या भी हो जाती है, जो आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होने के साथ और भी बीमारियों को आपके शरीर में जन्म देती है, इसीलिए इससे बचने के लिए आपको इसका सेवन कजरूर करना चाहिए। इसके साथ ही यह थायराइड और पिट्यूटरी ग्रंथि‍ के कार्य में होने वाले अवरोध को रोकने में भी मदद करता है।

बालों के लिए है फायदेमंद:-

विटामिन ई का सेवन करने से बालों से जुडी परेशानी को हल करने में भी मदद मिलती है, इसके सेवन करने से रक्त का प्रवाह पुरे शरीर में अच्छे से होता है, जिससे बालों को भी अच्छे से पोषण मिलता है, और ये बालों को लंबा और घना बनाने में आपकी मदद करता है, इसके साथ यदि आप मार्किट में आई बाल झड़ने की समस्या से निजात पाने के लिए किसी दवाई का सेवन कर रही है, तो ये उसके साइड इफ़ेक्ट को कम करने में आपकी मदद करता है।

विटामिन ई के सेवन से होने वाले अन्य फायदे:-

  • इसके सेवन से त्वचा पर जमी गंदगी और मृत कोशिकाओं की सफाई करने में मदद मिलती है।
  • त्वचा में नई कोशिकाओं का निर्माण करके त्वचा के सौन्दर्य को बढ़ाने में मदद करता है।
  • सूरज की हानिकारक अल्ट्रावायलेट किरणों से बचाने में विटामिन-ई आपकी बहुत मदद करता है।
  • सनबर्न की समस्या या फोटोसेंसेटिव होने जैसी समस्याओं से विटामिन-ई आपकी रक्षा करता है।
  • विटामिन-ई का भरपूर मात्रा में सेवन करने पर अल्जाइमर जैसी समस्याओं का खतरा कम होता है।
  • शरीर में होने वाली किसी भी प्रकार की एलर्जी के रोकथाम के लिए विटामिन ई बहुत उपयोगी होता है।
  • बच्चों में यह कंकाल तंत्र के विकास के लिए एक अहम भूमिका निभाता है।
  • विटामिन ई का सेवन करने से बाल झड़ने के लिए ली जाने वाली दवाइयों के साइड इफेक्ट को भी कम करने में मदद करता है।
  • विटामिन ई का सेवन करने से यह चेहरे के काले धब्बो को निकालने का काम करता है।
  • विटामिन ई हमारे शरीर में हाई ब्लड प्रेशर को बढ़ने से रोकता है।

तो इन सब फायदों को उठाने के लिए आपको विटामिन ई का सेवन उपरोक्त मात्रा में करना चाहिए, अखरोट, अंडे, आम, कद्दू,पपीता, एवोकेडो, ब्रोकली, शलगम, बादाम, पॉपकार्न, सूखे मेवे, शकरकंद, कड लीवर ऑयल,
सूरजमुखी के बीज, हरी पत्तेदार सब्जियां, आदि का सेवन करके अपने शरीर में विटामिन ई की मात्रा की पूर्ति कर सकते है, तो आपको विटामिन ई के लिए इनका सेवन करना चाहिए।

Leave a comment