Take a fresh look at your lifestyle.

ये हैं 10 प्रेगनेंसी हेल्दी फ़ूड

0

ये हैं 10 प्रेगनेंसी हेल्दी फ़ूड, प्रेगनेंसी के दौरान क्या क्या खाना चाहिए, गर्भवती महिला को यह आहार जरूर खाने चाहिए, गर्भवस्था के लिए 10 हेल्दी फ़ूड कौन से हैं, प्रेगनेंसी के लिए महिला की डाइट, Pregnancy food, Healthy food for pregnancy

गर्भवती महिला के लिए खान पान का बेहतर तरीके से ध्यान रखना बहुत जरुरी होता है, क्योंकि इस समय महिला का खान पान यदि पोषक तत्वों से भरपूर होता है। तो इससे प्रेगनेंसी के दौरान आने वाली परेशानियों को कम करने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर विकास में भी मदद मिलती है। लेकिन प्रेगनेंसी के समय क्या खाना सही होता है और क्या नहीं इसे लेकर महिला बहुत परेशान होती है। तो लीजिये आज हम गर्भवती महिलाओं को इस समस्या का समाधान बताने जा रहे हैं जिससे उन्हें पता चलेगा की प्रेगनेंसी के दौरान अपनी डाइट में क्या क्या शामिल करना चाहिए।

अंडे

अंडे में कोलिन नामक तत्व होता है जो शिशु के मानसिक विकास को बेहतर करने में मदद करता है, साथ ही यह शारीरिक विकास को भी बढ़ावा देता है। और ऐसा भी माना जाता है की यदि बॉडी में कोलिन नामक तत्व की कमी हो तो इससे शिशु के मानसिक विकास में कमी आ सकती है। इसीलिए गर्भवती महिला को एक या दो अंडो का सेवन जरूर करना चाहिए, लेकिन ध्यान रखें की अधपके या कच्चे अंडे का सेवन न करें क्योंकि इससे डायरिया जैसी समस्या के कारण महिला को परेशान होना पड़ सकता है। अंडे को खाने का सबसे बेहतरीन समय सुबह नाश्ते के समय होता है।

हरी सब्जियां

आयरन, फाइबर, प्रोटीन जैसे पोषक तत्वों से भरपूर हरी सब्जियों का सेवन भी गर्भवती महिला को जरूर करना चाहिए। और एक समय के आहार में इन्हे जरूर शामिल करना चाहिए, इससे शरीर में आयरन की कमी को पूरा करने के साथ अन्य पोषक तत्व भी मिलते है। जो गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान फिट रखने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु के बेहतर विकास में भी मदद करते है, लेकिन ताज़ी व् अच्छे से धोने के बाद ही इन्हे प्रयोग में लाना चाहिए।

फल व् उनका रस

फलों में भी पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं, साथ ही कई फल जैसे की तरबूज, संतरा आदि में पानी की मात्रा की अधिकता होती है। जिसके कारण बॉडी में पानी की कमी को पूरा करने में भी मदद मिलती है। आप चाहे तो फलों का घर में बना ताजा रस भी पी सकते हैं क्योंकि वह भी आपके लिए फायदेमंद होता है। इसीलिए प्रेगनेंसी के दौरान ताजे फल व् उनके रस का सेवन जरूर करना चाहिए।

दूध व् दूध से बने पदार्थ

दूध का सेवन दिन में दो से तीन गिलास गर्भवती महिला को जरूर करना चाहिए। क्योंकि इसमें कैल्शियम की मात्रा भरपूर होती है जो की गर्भ में पल रहे शिशु की हड्डियों के बेहतर विकास के साथ महिला की हड्डियों को मजबूत बनाएं रखने में मदद करता है। साथ ही कच्चे दूध या मलाई वाले दूध का सेवन नहीं करना चाहिए। और दूध के अलावा गर्भवती महिला दूध से बने पदार्थ जैसे की दही, पनीर आदि का सेवन भी कर सकती है।

दालें

प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, मिनरल्स से भरपूर दालों का सेवन भी गर्भवती महिला को जरूर करना चाहिए। गर्भवती महिला एक समय के आहार में इसे जरूर शामिल करें, क्योंकि इसके सेवन से बॉडी में पोषक तत्वों की मात्रा को पर्याप्त बने रहने में मदद मिलती है।

नॉन वेज

वेज से ज्यादा नॉन वेज के आयरन की मात्रा अधिक होती है, इसके अलावा नॉन वेज में अन्य पोषक ततब भी भरपूर मात्रा में होते हैं। ऐसे में कभी कभी गर्भवती महिला चाहे तो नॉन वेज का सेवन भी कर सकती है। लेकिन नॉन वेज का सेवन करते हुए बहुत सी बातों का ध्यान रखना चाहिए जैसे की बासी, अधपके, मर्करी युक्त मछली आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से गर्भवती महिला को पेट से सम्बंधित समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

आयरन युक्त आहार

खून की कमी के कारण गर्भ में पल रहे शिशु के विकास में कमी आने के साथ, प्रेगनेंसी के दौरान महिला को एनीमिया की समस्या से भी परेशान होना पड़ सकता है। साथ ही खून की कमी के कारण डिलीवरी के दौरान भी महिला को बहुत परेशानी होती है। ऐसे में इन सभी दिक्कतों से बचने के लिए गर्भवती महिला को आयरन युक्त आहार का भरपूर सेवन करना चाहिए, जैसे की अनार, गाजर, पालक, आदि का सेवन करना चाहिए।

सूप

सब्जियों, दालों को अच्छे से उबाल कर मिक्स करके घर में ही सूप बनाकर पीना भी न केवल गर्भवती महिला के पेट को भरने में मदद करता है। बल्कि इससे महिला को भरपूर मात्रा में पोषक तत्व मिलते हैं, और खाने में कुछ नया शामिल करने में मदद मिलती है। सूप में आप अपनी इच्छानुसार सब्जियों व् दालों को शामिल कर सकते हैं।

स्नैक्स

खाने में ज्यादा समय का अंतराल रखना गर्भवती महिला को कमजोरी व् थकान की समस्या से परेशान कर सकता है। ऐसे में खाने के दो घंटे बाद आपको स्नैक्स का सेवन भी जरूर करना चाहिए। इसमें आप घर में ही अपनी पसंद के स्नैक्स बना सकते हैं जो की पोषक तत्वों से भरपूर हो।

पेय पदार्थ

गर्भवती महिला को खाने से जितना फ़ायदा होता है, उतना ही प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में पानी भी होना चाहिए। क्योंकि पानी की कमी के कारण गर्भवती महिला और गर्भ में शिशु दोनों को परेशानी हो सकती है। ऐसे में गर्भवती महिला को हाइड्रेटेड रहने के लिए दिन में आठ से दस गिलास पानी पीने के साथ अन्य पेय पदार्थ जैसे की फलों का रस, निम्बू पानी, नारियल पानी आदि का सेवन भी जरूर करना चाहिए।

तो यह हैं वो हेल्दी फ़ूड जो गर्भवती महिला को अपनी डाइट में जरूर शामिल करने चाहिए। यदि प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला इन सभी को अपनी डाइट में भरपूर मात्रा में शामिल करती है। तो ऐसा करने से गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने के साथ गर्भ में पल रहे शिशु के शारीरिक व् मानसिक विकास को बेहतर तरीके से होने में मदद मिलती है। इसके अलावा आपको उन चीजों का सेवन बिलकुल भी नहीं करना चाहिए जिनके सेवन से आपको एलर्जी की समस्या होती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.