Take a fresh look at your lifestyle.

सनस्क्रीन आपके शरीर के लिए इतना खतरनाक होता है

0

सनस्क्रीन आपके शरीर के लिए इतना खतरनाक होता है, सनस्क्रीन के नुकसान, सनस्क्रीन लगाने के नुकसान, सनस्क्रीन से होता है हड्डियों को नुकसान, सनस्क्रीन लगाने से क्या होता है, सनस्क्रीन के दुष्परिणाम, आप भी सनस्क्रीन लगाती है

महिलाओं के लिए उनकी खूबसूरती और सुंदरता से बढ़कर और कुछ नहीं। और इसी खूबसूरती को बरकरार रखने के लिए वे तरह तरह के प्रोडक्ट्स और ब्यूटी उत्पादों का प्रयोग करती है। ऐसे तो इन सभी को पूरी जाँच और टेस्ट के बाद फाइनल किया जाता है। लेकिन फिर भी इनमे से बहुत से प्रोडक्ट ऐसे है जिनके इस्तेमाल से व्यक्ति के स्वास्थ्य और स्किन पर प्रभाव पड़ता है जबकि उन प्रोडक्ट्स में कोई खराबी नहीं होती।

इन्हीं प्रोडक्ट्स में से एक है सनस्क्रीन। आज के समय में सनस्क्रीन का बहुत बड़े स्तर पर प्रयोग किया जा रहा है। छोटी उम्र के बच्चो से लेकर अधिक उम्र की महिलाएं सभी इसका इस्तेमाल करती है। ऐसे तो त्वचा के लिए ये प्रोडक्ट बहुत ही लाभकारी होता है क्योंकि इसे लगाने से बाद धुप की हानिकारक किरणे त्वचा पर नहीं पड़ती जिससे त्वचा को किसी प्रकार का नुकसान नहीं होता। साथ ही त्वचा में होने वाली समस्याएं भी नहीं होती।lgaa rhe hai sunscren

परन्तु क्या आप जानते है? की इसके रेगुलर यूज़ से आपकी हड्डियों पर कितना बुरा प्रभाव पड़ता है। सनस्क्रीन लोशन का इस्तेमाल हर कोई बाहर जाने से पहले करता है। बाहर से तो हम त्वचा को बचा लेते है लेकिन आंतरिक तौर पर ये लोशन हमारी हड्डियों को कमजोर करता है। इसके अलावा भी सनस्क्रीन लगाने से बहुत से नुकसान होते है जिनके बारे में आज हम आपको बता रहे है। हो सकता है इन परिणामो को जानने के बाद आप भी सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना छोड़ दें।

सनस्क्रीन लगाने के दुष्परिणाम :-

1. हड्डियों के लिए :

शायद आप नहीं जानती लेकिन अधिक सनस्क्रीन लगाने से हमारी सूर्य की किरणों को अवशोषित करने की क्षमता कम हो जाती है। जिसके चलते हमारा शरीर विटामिन D ग्रहण नहीं कर पाता। और विटामिन D हड्डियों के लिए कितना जरुरी है ये तो हम सभी भली भांति जानते है। हाल में हुए एक रिसर्च में पाया गया है की नियमित और अधिक मात्रा में सनस्क्रीन लगाने पर हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी होने लगती है। सनस्क्रीन त्वचा की सूर्य की किरणें अवशोषित करने की क्षमता कम कर देता है जिससे शरीर में जरूरत के मुताबिक विटामिन डी नहीं बन पाता है। और हड्डियां कमजोर होने लगती है।

2. त्वचा में जलन :

त्वचा में जलन होती है तो इसे पढ़े : त्वचा में जलन के कारण और उपचार

इसमें मौजूद केमिकल बहुत तेज होते है और अधिकतर इसका इस्तेमाल फेस पर ही किया जाता है। ऐसे में आँखों में जलन और त्वचा में जलन की समस्या भी हो सकती है। अगर आप पहली बार सनस्क्रीन लगा रही है और जलन कम नहीं हो रही है तो उसे तुरंत साफ़ कर दें।

3. स्किन एलर्जी :

केवल कुछ सनस्क्रीन को छोड़कर अन्य सभी में केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में इनका इस्तेमाल करने से त्वचा में खुजली, सूजन और एलर्जी की समस्या हो सकती है। तो अगर आपकी त्वचा में भी ऐसी समस्याएं है तो इसका इस्तेमाल बंद कर दें।

4. रूखी त्वचा :

बहुत से लोगों की शिकायत रहती है की सनस्क्रीन लगाने के बाद उनकी त्वचा रूखी हो जाती है। अगर आपके साथ भी ऐसा कुछ है तो तुरंत इसका इस्तेमाल करना बंद कर दें।

5. एक्ने में समस्या :

अगर आपके चेहरे पर पहले से ही एक्ने है और आप उसपर सनस्क्रीन का इस्तेमाल करती है तो स्थिति को और भी खराब कर सकते है। क्योंकि इसमें मिलाएं जाने वाले केमिकल त्वचा के लिए अच्छे नहीं होते जिसके कारण मुहांसे बढ़ भी सकते है।

एक्ने से छुटकारा पाने के लिये यह पढ़े : मुहांसे से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय

6. रैशेस :

ये समस्या हर उस कॉस्मेटिक की देन होती है जिसमे केमिकल आदि का इस्तेमाल किया जाता है। और सनस्क्रीन में केमिकल का इस्तेमाल होता ही है। ऐसे में इसका प्रयोग करना स्किन के लिए कुछ हानिकारक हो सकता है विशेषकर सेंसिटिव त्वचा के लिए। इसीलिए थोड़ा संभलकर।

Leave A Reply

Your email address will not be published.