Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

बाल कमजोर क्यों हो जाते हैं?

Baal Kamjor Hone Ke Karan : बालों का झड़ना या बालों का कमजोर होना एक ऐसी समस्या है जो कब किसके बालों में होने लगे पता ही नहीं चलता। कुछ लोग इसे प्रदुषण का प्रभाव मानते है तो कुछ इसे हेयर स्टाइलिंग का परिणाम बताते है। जो काफी हद तक ठीक भी है। लेकिन आमतौर पर होने वाली इस समस्या का केवल एक ही कारण नहीं होता बल्कि और भी कई कारण होते है जिनकी वजह से बाल कमजोर होने लगते हैं। इसलिए किसी के बाल काफी मात्रा में झड़ने लगते है तो किसी के बाल पतले हो जाते हैं।

-- Advertisement --

परन्तु बालों के कमजोर होने के पीछे मुख्यतः क्या कारण होता है इसके बारे में बहुत हो कम लोग जान पाते हैं। इसलिए यहां हम आपको बालों के कमजोर होने के कारणों के बारे में बता रहे हैं। क्योंकि कारण पता रहेगा तो समस्या को सावधानी बरतते हुए आसानी से ठीक किया जा सकेगा। तो आइये जानते है बाल किन कारणों की वजह से कमजोर होकर टूटने लगते हैं।

बाल कमजोर होने के क्या कारण होते हैं?

Baal Patle Hone Ke Karan – वैसे तो बालों के कमजोर होने और टूटने के बहुत से कारण होते हैं, लेकिन उनमे से कुछ मुख्य कारण होते है जो अक्सर बाल कमजोर होने की वजह होते है। यहाँ हम आपको उन्ही कारणों के बारे में बता रहे हैं।

1. अनुवांशिकता के कारण :

बहुत से लोगों के बाल अनुवांशिक कारणों से कमजोर होने लगते है। अर्थात अगर किसी के परिवार के अन्य सदस्यों के बाल कमजोर हुए तो हो सकता है अन्य सदस्यों में भी यह समस्या हो जाए।

बचाव – इससे बचने के लिए ज्यादा कुछ नहीं किया जा सकता। लेकिन सही आहार और बेहतर लाइफस्टाइल अपनाकर कुछ हद तक बालों को कमजोर होने से बचाया जा सकता है।

2. फंगल इंफेक्शन :

बहुत बार साफ़-सफाई ना रखने के कारण स्कैल्प में फंगल इंफेक्शन हो जाता है जिसकी वजह से बाल कमजोर होकर टूटने लगते है। कई बार इसके कारण बालों में डैंड्रफ की समस्या भी हो जाती है जिसे छुटकारा पाना बहुत मुश्किल हो जाता है।

बचाव – इस समस्या से बचने के लिए आपको साफ़-सफाई का खास ध्यान देना होगा। और साथ-साथ बालों के पोषण पर ध्यान देना होगा। अगर आप रेगुलर ऑइलिंग करते है तो भी इस समस्या से बचा जा सकता है।

3. हीट उपकरणों का प्रयोग :

अगर आप अपने बालों को स्टाइल करने के लिए हीट उपकरणों का इस्तेमाल करते हैं तो इनसे बालों को काफी नुकसान पहुंचता है। इन उपकरणों में – हेयर ड्रायर, कर्लिंग आयरन, स्ट्रैटनर, हेयर स्टाइलिंग उपकरण आदि सम्मिलित हैं। जो बालों को हीट की मदद से कर्ल, स्ट्रैट करते है और सुखाते हैं। कई बार इनके इस्तेमाल से भी बाल कमजोर होकर टूटने लगते हैं।

बचाव – बालों को सुखाने के लिए ड्रायर का इस्तेमाल ना करें। जितना हो सके हेयर स्टाइलिंग आयरन का इस्तेमाल ना करें। अगर करना ही है तो पहले बालों में हेयर प्रोटेक्टिंग स्प्रे और जेल जरूर लगा लें।

4. हेयर कलर :

हेयर कलर में बहुत से केमिकल मिले होते हैं, जो बालों को बहुत नुकसान पहुंचाते है। लेकिन अधिकतर लोग फिर भी इनका इस्तेमाल करते है। कभी-कभी हेयर डाई का इस्तेमाल करना नुकसानदेह नहीं होता। लेकिन अगर बार-बार हेयर डाई का प्रयोग किया जाए तो बाल कमजोर होने लगे हैं।

बचाव – सफ़ेद बालों को छुपाने के लिए हेयर डाई का कम से कम प्रयोग करें। अगर मेहंदी लगाते है तो उसे ही लगाएं क्योंकि ये बालों को रंगने के साथ-साथ मजबूत और मुलायम भी बनती है।

5. गर्म पानी :

गर्म पानी से बाल धोने उन्हें खुद कमजोर बनाने जैसा है। अच्छे हेयर स्टाइलिस्ट का कहना है की बालों को गुनगुने पानी से धोया जा सकता है लेकिन गर्म पानी बालों के लिए अच्छा नहीं। यह उनसे प्राकृतिक नमी छीन लेता है और उन्हें कमजोर कर देता है।

बचाव – गर्म पानी का इस्तेमाल बाल धोने के लिए ना करें और ठंडे पानी का इस्तेमाल करें।

6. रोजाना बाल धोने से :

हफ्ते में केवल 2 बार बाल धोने की सलाह दी जाती है। अगर आप रोजाना या हर एक दिन के गैप पर बल धोते है तो हो सकता है जल्द ही आपके बाल कमजोर हो जाएं। क्योंकि बार-बार बाल धोने से उनमे मौजूद प्राकृतिक आयल निकल जाता है, जिससे वे रूखे और बेजान होकर कमजोर होने लगते हैं।

बचाव – हफ्ते में केवल 2 बार बाल धोएं। और रेगुलर ऑइलिंग करें।

7. बाल बांधने का तरीका :

आपका बाल बांधने का तरीका भी काफी हद तक बालों की हेल्थ को प्रभावित करता है। अगर आप अपने बालों को कसकर या केवल एक तरफ स्टाइल करके बांधती है तो इससे बालों की जड़ों पर काफी दबाब पड़ता है जिसकी वजह से वे खींचने लगते हैं। और परिणामस्वरूप बाल कमजोर हो जाते हैं।

बचाव – बालों को कसकर ना बांधे और उन्हें नार्मल स्टाइल करें। ज्यादा स्टाइल बनाने से बाल टूट भी सकते हैं।

8. तौलिया से रगड़ना :

बहुत से लोग बाल धोने के बाद उन्हें सुखाने के लिए रगड़ते है, इसके आलावा कॉटन के तकिए पर सोने से भी बालों में घर्षण होता है जिसके कारण बाल कमजोर हो जाते है। क्योंकि तौलिया केवल पानी वाली नमी ही नहीं अपितु बालों की प्राकृतिक नमी भी छीन लेती है।

बचाव – बालों को कभी भी तौलिया से रगड़कर नहीं सुखाएं और ना ही कॉटन के तकिये पर सोएं। अगर आप कैप या टोपी पहनने के शौक़ीन है तो उसे पहनना भी छोड़ दें ये बालों को काफी नुकसान पहुंचाते हैं।

बाल कमजोर होने के अन्य कारण :

इसके अलावा भी कुछ कारण है जिनकी वजह से बाल कमजोर होने लगते हैं। वे कारण निम्न है –

  • खराब हेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से।
  • बॉडी में हॉरमोनल बदलाव के कारण।
  • थायराइड के कारण।
  • टाइफाइड या किसी वायरल संक्रमण के कारण भी बाल कमजोर हो जाते हैं।
  • एनेस्थीसिया या किसी सर्जरी के बाद।
  • गर्भावस्था के दौरान ली जाने वाली दवाओं के कारण।
  • कंट्रासेप्टिक दवाओं का अधिक सेवन करने से भी बाल कमजोर हो जाते हैं।
  • अत्यधिक तनाव लेना।
  • मीनोपॉज के बाद भी बाल कमजोर हो जाते हैं।

तो ये थे कुछ कारण जिनकी वजह से हमारे बाल कमजोर हो जाते है और कमजोर होकर टूटने लगते हैं। अगर आपके साथ भी ऐसी कोई समस्या है तो तुरंत उसका उपाय करें और बालों को झड़ने से बचाएं।

Leave a comment