Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

1 से 9 महीने तक बच्चे में कौन कौन से अंग का विकास कब कब होता है और कैसा दिखता है

0

गर्भ में भ्रूण का विकास, गर्भ मे शिशु का विकास, भ्रूण विकास साप्ताहिक, मानव भ्रूण का विकास, गर्भावस्था का तीसरा महीना, भ्रूण का बनना, गर्भावस्था का पांचवा महीना, गर्भावस्था का चौथा महीना, भ्रूण किस प्रकार विकसित होता है हर एक सप्ताह और महीने, बच्चे में क्या क्या विकास होता है हर एक महीने और हप्ते, जाने पहले महीने से नौ महीने तक, 1 to 9 months of pregnancy pictures, pregnancy month by month photos, pregnancy month by month development, 1 to 9 months of pregnancy video, 9 months of pregnancy stages, baby growth during pregnancy month by month video, 1 to 9 months of pregnancy in hindi, fetal development pictures

प्रेगनेंसी किसी भी महिला के लिए बहुत ही सुखद अहसास होता है, ऐसे में गर्भधारण से लेकर शिशु के जन्म तक महिला बहुत ही उत्साहित रहती है, क्योंकि जब तक शिशु गर्भ में होता है, तब तक माँ जानना चाहती है की शिशु गर्भ में कैसे विकसित हो रहा है, वो कितना बड़ा हो गया है, क्या कर रहा है, कैसा दिखता है, और उसकी क्या पोजीशन है, तो लीजिये आज हम आपको गर्भधारण के पहले सप्ताह से लेकर शिशु के जन्म तक वो गर्भ में क्या करता है इस बारे में जानेंगे और साथ ही एक सप्ताह से लेकर डिलीवरी तक शिशु गर्भ में क्या करता है, इस बारे में भी बात करेंगे।

पहले हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

first week pregnancy

सच पूछिए तो आपको पहले हफ्ते में शिशु के गर्भ में होने का पता ही नहीं होता है, और न ही आपको पता होता है की आप प्रेग्नेंट है, लेकिन आपके गर्भाशय में यह प्रक्रिया आपके आखिरी पीरियड के पहले दिन से ही शुरू हो जाती है, चाहे आपकी प्रेगनेंसी 40 सप्ताह लंबी हो, लेकिन आपका शिशु लिए केवल 38 सप्ताह की ही होती है।

दूसरे हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

second week pregnancy

प्रेगनेंट होने का सबसे अच्छा समय और सबसे ज्यादा गर्भवती होने की सबसे अच्छी संभावना के लिए ओव्यूलेशन पीरियड होता है, यदि आप ओव्यूलेशन पीरियड से एक से दो दिन पहले यौन संबंध बनाते है, तो इस समय में अंडे के निषेचन होने की सम्भावना अधिक होती है।

तीसरे हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

third week pregnancy

तीसरे हफ्ते में ऐसा हो सकता है की आप प्रेगनेंट हो जाएँ परन्तु ऐसा कोई जरुरी नहीं है की आपको इसका कोई भी लक्षण साफ़ दिखाई दे, लेकिन एक महीने के बाद तेजी से शरीर में हो रहे हार्मोनल बदलाव के कारण आपको इसका पता चलने लगता है।

चौथे हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

four week pregnancy

उसके बाद चौथे हफ्ते जब आपको अठाइस दिन के बाद पीरियड्स नहीं आते है तो आप प्रेगनेंसी का टेस्ट कर सकते है, यदि आपका टेस्ट पॉजिटिव आता है, तो आप को कमजोरी, थका हुआ और मूडी होने के साथ और स्तनों में दर्द का सामना भी आपको करना पड़ सकता है, इसके अलावा आपको मतली / उल्टी और पेशाब की भी परेशानी हो सकती है, लेकिन यदि आप गर्भवती नहीं है तो सब कुछ सामान्य होता है।

पांचवे हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

five week pregnancy

इस समय में भ्रूण केवल रेत के एक अनाज के आकार के बारे में होते है, और शिशु का हृदय रक्त को पम्पिंग करना शुरू कर देता है, साथ ही शिशु के अधिकांश अंग विकसित हो गए है, हाथों और पैर की उंगलियां भी दिखती है साथ ही अब आप गर्भावस्था का अनुभव शुरू कर सकते हैं।

छठे हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

six week pregnancy

इस समय आप प्रेगनेंसी को बहुत अच्छे से महसूस कर सकते है क्योंकि आपके बॉडी में इसके लक्षण साफ़ दिखाई देते है, साथ ही इस समय महिलाओ को सबसे ज्यादा घबराहट भी होती है, क्योंकि इस समय में गर्भपात के चांस सबसे ज्यादा होते है, इसीलिए अपनी दुगुनी केयर करनी चाहिए।

सातवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

seven week pregnant

इस समय भ्रूण आकार में डबल हो गया है, लेकिन अब तक भी वो एक आधे इंच से कम है साथ ही इस समय आपके हार्मोन में वृद्धि होने के कारण सुबह होने वाली परेशानी अधिक होने लगती है, और कई महिलाओ को तो पूरा दिन ही कमजोरी का अहसास होता है।

आठवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

eight week pregnancy

इस समय पर आपके डॉक्टर बच्चे के दिल की धड़कन को सुन सकते है, और ऐसा अल्ट्रासाउंड के माध्यम से होता है, और वो चाहे तो आपको भी शिशु के दिल की धड़कन को सुना सकते है, और इस समय पर आपके गर्भपात के चांस भी कम हो जाते है, साथ ही इस समय आपकी डॉक्टर आपको बेबी के जन्म के लिए एक डेट भी दे देती है।

नौवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

nine week pregnant

नौवें हाफे में बच्चे का थोड़ा और विकास होता है, जिसके कारण आपके गर्भाशय का साइज भी बढ़ता है, और आपके मूत्राशय पर आपके बढ़ते गर्भाशय के दबाव के कारण आपको थोड़ी थोड़ी देर में बार बार यूरिन आने लगता है, जिसके कारण महिलाओ को परेशानी हो सकती है, परन्तु इसे ज्यादा देर के लिए रोकना भी नहीं चाहिए,और यूरिन को जरूर पास करना चाहिए।

दसवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

ten week pregnant

इस समय पर आपका भ्रूण एक इंच लम्बा हो जाता है, साथ ही आपका शिशु से भावनात्मक रूप से लगाव होना शुरु हो जाता है, और आपका शिशु स्वस्थ हो इसकी इच्छा भी आपके अंदर जागृत होने लगती है।

ग्याहरवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

eleven week pregnant

इस हफ्ते में आपके जीभ का स्वाद बढ़ जाता है, इस समय कई महिलाओ का बर्गर तो कई महिलाओ को चॉक खाने का दिल करता है जो की बिलकुल सच है, और इस समय आपके भ्रूण के लगभग सभी अंग काम भी करना शुरू हो जाते है, साथ ही शिशु के जननांग भी पुरुष या महिला रूप लेना शुरू कर देते है।

बाहरवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

twelve week pregnancy

इस हफ्ते तक आते आते आपका गर्भाशय सुरक्षात्मक श्रोणि की हड्डियों के बाहर विस्तार करने के लिए शुरू हो जाता है, और साथ ही यह आपकी गर्भावस्था के अंत तक 1000 गुना आकार में बढ़ता ही रहता है, अगर यह आपका पहला बच्चा नहीं है तो आप इस बारे में अच्छे से महसूस कर सकते है।

तेहरवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

thirteen week pregnant

अब आपकी गर्भावस्था की पहली तिमाही ख़त्म हो जाती है और इसके बाद आपको अपने आहार का ध्यान रखना चाहिए आपको दो व्यक्तियों के लिए खाना है, क्योंकि गर्भ में पल रहा शिशु भी अपने आहार के लिए आप पर निर्भर करता है, और आने वाले चौदह या उससे ज्यादा हफ्तों में उसका वजन कम से कम 12 पौंड तक बढ़ना चाहिए।

चौदह हफ्तों के बाद शिशु का गर्भ में विकास:-

fourteen week pregnant

इस समय ऐसा महसूस होता है की आपकी नई ऊर्जा (और सुबह होने वाली परेशानी का अंत) को देखकर आप सोचने लगते है कि आप मैराथन पर ले सकते हैं लेकिन इन बातों का जरूर ध्यान रखें, इस समय भी आपको अपनी केयर अच्छे से केयर करनी चाहिए और व्यायाम करते समय आप इस बात का ध्यान रखें की आप उतना ही व्यायाम करें, जिसमे आपको बात करते करते सांस न चढ़ें।

पंद्रहवे हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

fifteen week pregnancy

इस हफ्ते में आपको बहुत से टेस्ट करवाने पड़ते है जिसमे आपको शिशु की स्थिति का पता चलता है, जैसे की शिशु का वजन कितना है, शिशु के अंग अच्छे से विकसित हो रहे है, या वो क्या कर रहा है, और आपको इस स्क्रीनिंग टेस्ट के लिए जरूर जाना चाहिए।

सोहलवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

sixteen week of pregnancy

इस हफ्ते में आप बच्चे की हलकी फुलकी मूवमेंट का अनुभव गर्भ में करने लग जाते है, और बाइस हफ्ते तक ऐसे ही शिशु गर्भ में कभी भी घूमता हुआ आपको महसूस होता है।

सत्रहवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

seventeen week pregnancy

प्रेगनेंसी के इस समय तक आते आते आपकी नींद भरपूर नहीं होती है, और आपको अलग अलग बातों के बारे में सोचने लगते है, जैसे ही आपको बच्चे के जन्म को लेकर या आप माता पिता बनने के बाद अच्छे से उसे संभाल पाएंगे इस बात की चिंता पैदा होने लगती है।

अठारवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

eighteen week pregnancy

इस समय में आपके गर्भशय का आहार और भी तेजी से बढ़ता है जिसके कारण आपके मूत्राशय पर तेजी से दबाव पड़ता है, और आपको हर समय बस यूरिन पास करने की तलब ही लगी रहती है।

उन्नीसवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

nineteen week pregnancy

उन्नीसवें हफ्ते में आते आते आप अच्छा महसूस करने लगती है, अब आप अपने साथी के साथ कुछ अच्छा समय बिता सकती है, यदि आप चाहे तो आप उनके साथ सेक्स सम्बन्ध भी स्थापित कर सकती है, लेकिन इस बात का ध्यान रखें की आपकी प्रेगनेंसी में किसी तरह की कोई समस्या नहीं है तो, यदि कोई समस्या है तो इसे नहीं करना चाहिए।

बीसवे हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

twenthy week pregnancy

लगभग आधा समय आपकी प्रेगनेंसी का बीत चुका है, और आपका गर्भाशय अब नाभि तक पहुँच चुका है ऐसे समय में आपको ऐसा कई बार महसूस होता है की गर्भ में शिशु आपको लात मारने की कोशिश कर रहा है, परन्तु यदि खुद मूवमेंट हो तो अच्छी बात को आपको अपने गर्भाशय के साथ कुछ नहीं करना चाहिए।

इक्कीसवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

twenthy one week pregnancy

अगर आपकी उम्र 35 या उससे ज्यादा है तो इस समय आपको हाई ब्लड प्रैशर, शुगर व् ने परेशानियों के होने की आशंका सबसे ज्यादा होती है, साथ ही इस समय पर आपको preeclampsia होने के चांस सबसे ज्यादा होते है, साथ ही इसकी परेशानी आपको पहले भी हो सकती है, और प्रेगनेंसी की तीसरी तिमाही में भी यह ठीक नहीं होता है।

बाइस हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

twenty two

इस समय तक शिशु का वजन लगभग एक पौंड तक हो जाता है, साथ ही इस समय कई महिलाओ को कब्ज़ और बवासीर की परेशानी हो जाती है, यदि नहीं होती तो बहुत अच्छी बात होती है।

तेईस हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

twenty three week pregnancy

इस समय पर आपकी डॉक्टर आपको किसी भी तरह की दूर की यात्रा के लिए मना कर देती है, ऐसा नहीं होता है की यह आपको नुकसान पहुंचा देती है, बल्कि इसीलिए वो ऐसा करती है की आपको जिस समस्य भी लेबर पेन हो आपको उनके पास होना चाहिए।

चौबीसवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

twenty four week of pregnancy

यदि आपकी उम्र तीस ता उससे ज्यादा होती है, और आपके घेर में कोई शुगर, मोटापे, या ने किसी बिमारी से परेशान होता है, तो आपको भी उस परेशानी के होने के चांस बढ़ जाते है, और इसके कोई लक्षण भी आपको दिखाई नहीं देते है।

पच्चीसवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

twenty five week pregnancy

गर्भावस्था का ये समय आने तक आपको घबराहट, और पैरों में ऐंठन आदि की परेशानी का अनुभव होने लगता है, और ज्यादातर ये परेशानी का अहसास तब होता है जब आप रात को सोने के लिए जाते है।

छब्बीसवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

twenty six week pregnancy

इस समय आपको अपने शिशु के लिए क्या क्या करना है इसकी लिस्ट लम्बी होती जाती है, साथ ही शिशु अब लम्बे समय के लिए गर्भ में सोने लगता है, साथ ही वो अपनी आँखों को बंद करना और खोलना भी शुरू कर देता है।

सत्ताइसवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

twenty seven week pregnancy

इस समय शिशु गर्भ में अधिक देर तक मोमेंट करता है, और साथ ही उसका वजन भी तेजी से बढ़ता है, और इसके लिए वो 300 कैलोरीज़ को खर्च करता है, इसके लिए जरुरी है की महिला अपने आहार में कोताही न बरते।

अठाइसवे हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

twenty eight week pregnancy

आपके प्रेगनेंसी की तीसरी तिमाही की शुरुआत हो चुकी है, और इस समय आपके पेट का आकार भी बढ़ चुका होता है, साथ ही शिशु का आकर भी बढ़ जाता है, ऐसे में आपके पेट में आप कसाव का अनुभव कर सकते है, और शिशु की गर्भ में होने वाली हलचल को भी अधिक महसूस कर सकते है।

उन्नतीस हफ्ते बाद शिशु का गर्भ में विकास:-

twenty nine week pregnancy

इस समय आपके पेट का आकार बास्केटबाल की तरह हो जाता है, और शिशु भी अपने पैरों से आपको लाते मारता है, और इस समय शिशु लाइट और साउंड का भी अनुभव कर सकता है, और अचानक लाइट या तेज रौशनी से उसे घबराहट होती है जिससे आपको गर्भ में होने वाली उसकी मूवमेंट का अहसास भी होता है।

तीसवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

thirty week pregnancy

अब आप अपने आप को तेजी से बहुत थका हुआ महसूस कर सकते हैं क्योंकि आपके बढ़ते गर्भाशय आपके डायफ्राम आपस में टकराने लगते है, और जब गर्भावस्था में बच्चा आपके पेल्विक में आ जाता है तो आपको अपने आप को भरपूर आराम भी देना चाहिए।

इक्कतीस्वें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

thirthy one week pregnancy

इस हफ्ते में आप शिशु की मूवमेंट गर्भ में कम होने लगती है, क्योंकि शिशु का साइज बढ़ने लगता है, जिसके कारण उसे घूमने के लिए कम जगह मिलती है, लेकिन यदि काफी लम्बे समय से बच्चे ने कोई प्रतिक्रिया न दी हो, तो आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए।

बतीसवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

thirty two week of pregnancy

इस समय थोड़ी सी लापरवाही आपके लिए गलत हो सकती है, ऐसे में आपको अपनी जरूरतों का ध्यान रखना चाहिए जैसे की अपने खान पान, आदि का यदि आप इन सबका ध्यान रखते है तो प्रेगनेंसी में आपका ग्लो बना रहता है।

तेतीस हफ्ते गर्भ में शिशु का विकास:-

thirty three week pregnancy

इस दौरान डिलीवरी का समय नजदीक आता है, ऐसे में कई महिलायें नार्मल डिलीवरी करवाना चाहती है, तो वो अपने शरीर पर जोर डालने लगती है, ऐसा न करें, यदि आप स्वस्थ है तो आपके नार्मल डिलीवरी के चांस ज्यादा होते है, और साथ ही तीन में से किसी एक महिला के सिजेरियन डिलीवरी के चांस होते है।

चौतीस हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

thirty four week pregnancy

इस महीने में शिशु के आने का इंतज़ार और भी बढ़ जाता है, और उसके आने के लिए तैयारिया घर में शुरू हो जाती है, जैसे की शिशु का बैड, उसकी जरुरत के कपडे, उसकी स्किन की कोमलता को बनाएं रखने के लिए प्रोडक्ट्स, डायपर आदि।

पैंतीस हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

thirty six week pregnancy

इस समय पर महिलाओं के प्राइवेट पार्ट में स्ट्रेप्टोकोकस बैक्टेरिया फैलने का खतरा होता है, जो यदि गर्भाशय तक पहुँच जाएँ तो इससे शिशु को भी नुकसान पहुँच सकता है, इसीलिए महिलाओ को अपनों अच्छे से केयर करनी चाहिए।

छतीसवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

thirty five week pregnancy

क्योंकि डिलीवरी का समय पास आ रहा होता है, तो शिशु भी पेलिस के काफी पास आ जाता है, ऐसे में आपको यूरिन से जुडी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है, और आपको पहले से ज्यादा परेशानी होने लगती है।

सेतीसवें हफ्ते में गर्भ में शिशु का विकास:-

thirty seven week pregnancy

इस समय महिला के ब्रैस्ट से कोलोस्ट्रम निकलने लगता है, इसे आप शिशु का पहला आहार भी बोल सकते है, और इसे देखकर ज्यादातर महिलायें घबरा जाती है, और उन्हें डॉक्टर से इस बारे में जल्द से जल्द राय लेने की इच्छा होती है।

अड़तीसवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

thirty eight week pregnancy

इस समय आपकी प्रेगनेंसी का समय पूरा हो जाता है, और शिशु भी बाहर आने के लिए कोशिश करता है, ऐसे में लेबर पेन होने पर या प्राइवेट पार्ट से पानी के निकलने पर आपको तुरंत ही डॉक्टर से राय लेनी चाहिए।

उन्तालीसवे हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

thirty nine week pregnancy

अगर आप कही काम करती है या घर में ही है और आपको लेबर पेन का नुभव नहीं हो रहा है तो ऐसे में आपको अपने ऊपर ज्यादा दबाव नहीं डालना चाहिए बल्कि हो सकें तो इस बारे में डॉक्टर से राय लेनी चाहिए।

चालीसवें हफ्ते में शिशु का गर्भ में विकास:-

fourty weeks pregnancy

अगर अभी भी आपको डिलीवरी नहीं हुई है और आपकी डेट भी चली गई है, तो आपको अपनी डॉक्टर से इस बारे में बात करनी चाहिए, ताकि कोई समस्या न हो, और यदि कोई समस्या है तो डिलीवरी में समय न लिया जाए।

Leave a comment