Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्रेगनेंसी के शुरूआती दिनों में भूलकर भी नहीं खाएं यह 5 चीजें

0

महिला की प्रेगनेंसी की न्यूज़ पक्की होने से लेकर बच्चे के जन्म होने तक का पूरा समय गर्भवती महिला के लिए बहुत ही अहम होता है। इसीलिए गर्भावस्था के दौरान महिला को अपना अच्छे से ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। लेकिन प्रेगनेंसी के शुरूआती दिनों में महिला को अपना और भी ज्यादा ध्यान रखने की जरुरत होती है।

क्योंकि प्रेगनेंसी के शुरुआती दिनों में की गई एक छोटी सी गलती गर्भपात जैसी समस्या खड़ी कर सकती है, ब्लीडिंग की समस्या महिला को हो सकती है, आदि। शारीरिक रूप से अपना ध्यान रखने के साथ महिला को अपने खान पान में भी सावधानी बरतने की जरुरत होती है। क्योंकि गलत खान पान भी महिला और बच्चे की सेहत पर बुरा असर डाल सकता है।

ऐसे में माँ और बच्चे दोनों को कोई दिक्कत नहीं हो इसके लिए महिला को खान पान से जुडी बातों का ध्यान रखना चाहिए। तो आइये अब इस आर्टिकल में हम आपको प्रेगनेंसी के शुरूआती दिनों में कौन सी 5 चीजें गर्भवती महिला को नहीं खानी चाहिए उसके बारे में बताने जा रहे हैं।

पपीता

गर्भावस्था के शुरूआती दिनों में महिला को कच्चा पपीता बिल्कुल नहीं खाना चाहिए। क्योंकि इसमें कुछ ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो गर्भाशय में संकुचन पैदा करते हैं। जिससे महिला का गर्भपात हो सकता है। कच्चे पपीते के अलावा महिला को पका हुआ पपीता या अधपका पपीता खाने से भी बचना चाहिए।

गर्म तासीर वाली चीजें

जिन खाद्य पदार्थों की तासीर गर्म होती है जैसे की मसाले, ड्राई फ्रूट्स, अंगूर, तिल के बीज आदि इनका सेवन भी महिला को नहीं करना चाहिए। क्योंकि गर्म तासीर वाली चीजों का सेवन करने से भी गर्भ में शिशु पर बुरा असर पड़ता है जिसकी वजह से महिला का गर्भपात होने का खतरा रहता है।

सहजन

वैसे सहजन में विटामिन, पोटैशियम व् अन्य पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो माँ और बच्चे के लिए फायदेमंद होते हैं लेकिन साथ ही सहजन में एल्फा सीटोस्टेरॉल भी मौजूद होता है। जो बच्चे के विकास के लिए सही नहीं होता है ऐसे में प्रेग्नेंट महिला को सहजन का सेवन भी नहीं करना चाहिए।

एलोवेरा

सेहत के लिहाज़ से देखा जाये तो एलोवेरा जूस बहुत फायदेमंद होता है लेकिन गर्भवती महिला को गलती से भी एलोवेरा जूस का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि एलोवेरा जूस का सेवन करने से ब्लीडिंग होने का खतरा रहता है जिससे गर्भपात हो सकता है।

कच्चे अंडे

प्रेगनेंसी की शुरुआत के साथ पूरी प्रेगनेंसी के दौरान महिला को कच्चे अंडे या अच्छे से न पके हुए अंडे का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इसमें हानिकारक बैक्टेरिया मौजूद होता है जिससे महिला को पेट सम्बन्धी समस्या, डायरिया आदि होने का खतरा रहता है। जिससे गर्भाशय प्रभावित हो सकता है यहां तक की गर्भपात की सम्भावना भी हो जाती है।

तो यह हैं वो चीजें जो गर्भावस्था के शुरूआती दिनों में महिला को नहीं खानी चाहिए। साथ ही महिला को मर्करी युक्त मछली, जंक फ़ूड, कच्चा दूध, बिना धुले फल व् सब्जियों आदि का सेवन भी नहीं करना चाहिए। इसके अलावा गर्भावस्था के दौरान महिला को पौष्टिक व् हेल्दी डाइट लेनी चाहिए जिससे माँ और बच्चे दोनों को स्वस्थ रहने में मदद मिल सके।

Avoid these food in starting days of pregnancy

Leave a comment