Ultimate magazine theme for WordPress.

प्रेगनेंसी के पहले महीने डॉक्टर को दिखाना क्यों जरुरी होता है?

पीरियड्स मिस होने के बाद जब कोई महिला घर पर प्रेगनेंसी के लिए टेस्ट करती है वो टेस्ट पॉजिटिव आता है तो महिला की ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहता है, लेकिन कुछ कपल अभी शिशु नहीं चाहते हैं तो वो इस बात को लेकर थोड़ा परेशान भी हो सकते है। इसके अलावा

प्रेगनेंसी में संतरे खाने के फायदे और नुकसान

गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान कई तरह के खाद्य पदार्थों को खाने की सलाह दी जाती है। जैसे की साबुत अनाज, डेयरी प्रोडक्ट्स, हरी व् अन्य सब्जियां, अंडे, नॉन वेज, फल आदि। क्योंकि यह सभी पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं और गर्भवती महिला और

क्या कारण होते हैं गर्भधारण न होने के?

माँ बनना बहुत ही अनमोल और प्यारा अहसास होता है और इस बेहतरीन अनुभव का अहसास केवल महिलाओं को ही होता है। इसीलिए महिला को भी अपनी जिंदगी में इस खास अनुभव के होने का इंतज़ार भी रहता है। और शादी के बाद कुछ कपल जल्द से जल्द प्रेगनेंसी के बारे

गर्भावस्था में खजूर खाना चाहिए या नहीं?

प्रेगनेंसी के दौरान खान पान को लेकर प्रेग्नेंट महिला बहुत परेशान हो सकती है, खासकर जो महिलाएं पहली बार माँ बन रही होती है उन्हें तो बहुत दिक्कत हो सकती है। क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान कितने आहार का सेवन किया जाए या जो आप खा रही है उसमे

प्रेगनेंसी में अंडा खाना कब नुकसानदेह होता है?

गर्भावस्था में महिला द्वारा लिया जाने वाला आहार न केवल गर्भवती महिला को हष्ट पुष्ट व् तंदरुस्त रखने में मदद करता है। बल्कि इससे गर्भस्थ शिशु के भी बेहतर शारीरिक व् मानसिक विकास में मदद मिलती है। लेकिन गर्भवती महिला के मन में हर खाने पीने

स्ट्रेच मार्क्स से बचाव के लिए प्रेगनेंसी के तीसरे से नौवें महीने तक यह करें

गर्भावस्था के दौरान जहां महिला अपनी जिंदगी में शामिल होने वाले नन्हे मेहमान के आने से खुश होती है वहीँ प्रेगनेंसी के दौरान बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण महिला को तरह तरह की परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है। और इन

डिलीवरी के बाद चेहरे के दाग हटाने के लिए क्या करें?

गर्भावस्था एक ऐसा समय होता है जहां महिला बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण बहुत सी शारीरिक परेशानियों का सामना करने के साथ स्किन से जुडी समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है। हो सकता है की प्रेगनेंसी के दौरान महिला स्किन पर ज्यादा

डिलीवरी के बाद सम्बन्ध कब बनाएं? और किन बातों का ध्यान रखें

डिलीवरी के बाद गर्भवती महिला और उनके पार्टनर को कब सम्बन्ध बनाना सेफ होता है इसके बारे में बहुत से कपल जानना चाहते हैं, क्योंकि डिलीवरी के बाद महिला शारीरिक व् मानसिक रूप से थोड़ी कमजोर हो जाती है। और महिला को वापिस से स्वस्थ होने में थोड़ा

कम नींद लेने से गर्भ में पल रहे शिशु को क्या नुकसान हो सकते हैं?

प्रेगनेंसी किसी भी महिला के लिए बहुत ही ख़ुशी का पल होता है, क्योंकि इस दौरान महिला अपनी जिंदगी के सबसे प्यारे और खास अनुभव का अहसास कर रही होती है। ऐसे में प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को हर परेशानी से बचाव और गर्भ में शिशु के बेहतर

प्रेगनेंसी में गाजर खाने के फायदे

प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला का कुछ अलग अलग खाने के मन हो सकता है, लेकिन किसी भी चीज के सेवन से पहले गर्भवती महिला को इस बात का ध्यान रखना बहुत जरुरी होता है की जो आप खा रही है वो गर्भवती महिला के साथ शिशु के के लिए फायदेमंद है या

नोर्मल डिलीवरी के लिए प्रेगनेंसी के अंतिम महीने में यह खाएं

प्रेगनेंसी के दौरान हर गर्भवती महिला के मन में यह सवाल जरूर आता है की उसकी डिलीवरी नोर्मल होगी या सिजेरियन? लेकिन यह तय करना आपके हाथ में नहीं होता है, क्योंकि यह पूरी तरह से गर्भ में शिशु की पोजीशन व् स्वास्थ्य पर निर्भर करने के साथ

प्रेगनेंसी में बार-बार यूरिन आना क्या खतरनाक हो सकता है?

गर्भावस्था एक ऐसा समय होता है जहां गर्भवती महिला को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। और कुछ दिक्कतें तो ऐसी होती है जिनके कारण महिला बहुत अधिक परेशान हो सकती है, जैसे की बार बार यूरिन पास करने की समस्या होना। प्रेगनेंसी के