Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

आप खुद से ऐसे जान सकते है बेबी गर्भ में स्वस्थ है या नहीं

0

गर्भावस्था के दौरान हर महिला अपने आने वाले शिशु के लिए सपने बुनती रहती है। इन नो महीनो में गर्भवती महिला अपना खाना पीना यहाँ तक के अपना सोना भी अपने भूर्ण को ध्यान में रखते हुए करती है। शिशु को कहीं किसी चीज से नुक्सान ना पहुँचे इस चीज को ध्यान में रखकर बहुत सी अपनी पसंदीदा चीजों को भी त्याग देती है। बस इसी इंतजार में के प्रेगनेंसी का यह समय सही निकल जाए और जन्म से ही शिशु पूर्ण रूप से स्वस्थ हो।

भूर्ण पूरी तरह स्वस्थ है या नहीं इसके लिए डॉक्टर भी समय समय पर जाँच करवाते रहते है। प्रेगनेंसी के शुरुआती पांच महीनो में हम डॉक्टरों द्वारा करवाए गए टेस्ट के आधार पर ही शिशु के स्वास्थ्य के बारे में जान सकते है। डॉक्टर बच्चे की धड़कन चेक करके आपको बताते है बच्चे हार्ट रेट नार्मल है या नहीं। अल्ट्रासाउंड करवाने पर बच्चे के वजन और शारीरिक संरचना के बारे में भी आपको पूरी जानकारी मिलती है। प्रेगनेंसी के दौरान एक लेवल दो का अल्ट्रासाउंड होता है जिसमे डॉक्टर आपके बच्चे की हाथो और पैरों की उँगलियाँ तक देख सकते है और गईं पाते है। इसके अतिरिक्त और भी कई ब्लड टेस्ट होते है जिनके आधार पर बच्चे का मेन्टल लेवल भी चेक कर पाते है। यह सभी टेस्ट पांच से छः महीनो के अंदर अंदर हो जाते है। इन्हीं के आधार पर आपके डॉक्टर आपको खाने पीने की सलाह भी देते है।

डॉक्टर द्वारा किये गए टेस्ट के अलावा आपके वजन और खाने पीने की आदतों से भी आप अपने शिशु की सेहत का अंदाजा लगा सकते है। इसके अलावा प्रेगनेंसी के छठे महीने में बच्चे के मूवमेंट्स आपको महसूस भी होने लगती है। इस समय में आपको भूख भी अच्छे से लगने लगती है। धीरे धीरेड समय के साथ साथ शिशु में घूमना भी शुरू कर देता है। कभी वह आपको लात मारता जिसे आप अपने पेट पर हाथ रखकर महसूस भी कर पाते है। खाना खाने के बाद यह मूवमेंट्स अलग से ही महसूस की जाती है। हर दो घंटे में कुछ न कुछ खाइये और देखिये आपके पेट में कुछ हलचल हुई या नहीं, अगर आप बेबी को घूमते हुए, लात मारते हुए महसूस करेंगे तो आपको खुद ही समझ आ जायेगा की आपका शिशु स्वस्थ है।

इसके अतिरिक्त जब जब आपको खाना खाने में देर हो जाएगी तब तब पेट से हल्की हलचल भी होने लगेगी खाने के लिए इसका मतलब होता है शिशु को भूख लगी है। गर्भवास्था के आंठवे महीनें में तो डॉक्टर भी आपको सलाह देते की अब आपको बेबी की मूवमेंट्स को गिनना है क्योंकि यह वो समय होता है जब गर्भाशय में शिशु को घूमने के लिए जगह कम पड़ने लगती है। इस समय में खाना खाने के बाद बेबी की कम से कम 8 से 10 मूवमेंट्स या हरकत जरूर होनी चाहिए। प्रेगनेंसी के आठंवे माह में अगर आपको शिशु को मूवमेंट्स महसूस ना हो तो तुरंत अपने डॉक्टर को बताये।

आप अपने शिशु के स्वास्थ्य के बारे में कितना जान पाते है यह पूरी तरह आप पर निर्भर करता है। हो सकता है गर्भ में आपका बेबी थोड़ा सुस्त हो इसीलिए कम हिले डुले या हल्की मूवमेंट्स करें। आपको अपने व्यस्त समय से उसके लिए समय निकाल कर उन मूवमेंट्स को महसूस करना होगा तभी आप अपने बेबी के स्वास्थ्य के बारे में जान पाएंगे।

Leave a comment