Take a fresh look at your lifestyle.

बढ़ती उम्र में त्वचा की देखभाल करने के तरीके

2

बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करने के उपाय  (Badhti umr aur twacha ki dekhbhal)

Badhti umr aur twacha ki dekhbhal कहते है प्रत्यक्ष को प्रमाण की आवश्यकता नहीं होती, जो बिलकुल सत्य कथन है. बढ़ती उम्र का प्रभाव सबसे पहले हमारी त्वचा पर ही दिखता है जिसके लिए कुछ करने और सोचने की अवशयकता नही होती. खास तौर पर महिलाएं जिन्हे अपनी उम्र का बढ़ना बिल्कुल भी पसंद नही होता. ऐसे मे त्वचा पर दिखने वाले बढ़ती उम्र के लक्षण उनके आत्मविश्वास को लगभग समाप्त ही कर देते है. उम्र किसी की चाहने और न चाहने से नही बढ़ती वो तो कुदरत का दस्तूर है जो हर किसी के साथ घटित होता है.

30 के बाद हमारी त्वचा मे वो बात नही रह जाती जो पहले होती है. उम्र बढ़ने के साथ साथ त्वचा पर झुर्रियाँ पड़ने लगती है जिसका समय पर ख्याल न रखने से आगे आप और भी बूढ़ी दिखने लगती है. कुछ की त्वचा तो प्राकृतिक रूप से बूढ़ी होती है लेकिन क्या आप जानती है कई बार त्वचा के बूढ़े होने के पीछे अन्य कारण भी छुपे होते है. जिनमे सूर्य की UV rays, आपका दैनिक आहार, तनाव और आपकी lifestyle सम्मिल्लित होते है.

उम्र का समय से पहले बूढ़ा दिखने के एक कारण सेहतमंद जीवन शैली न होना भी है. यदि आप अपने खाने पीने मे लापरवाहियां करती है तो अब इन्हे बंद कर दीजिये क्योकि स्वस्थ आहार त्वचा संबंधी समस्ययो से छुटकारा पाने का सबसे प्रथम उपाय है.

Umr ke badhne ke sath kare twacha ki sahi dekhbhal 

यदि आप की उम्र 30 के आस पास की है तो अब सतर्क हो जाइए अन्यथा समय हाथ से निकलते देर नही लगती. क्या आप अब भी अपनी त्वचा की देखभाल नही करती यदि नही तो समय आ गया है की त्वचा की देखभाल की जाएँ. अपने ख़ान पान और दिनचर्या मे कुछ परिवर्तन करके बढ़ती उम्र की प्रक्रिया को धीमा किया जा सकता है. आज हम आपको कुछ ऐसे तथ्य बताने जा रहे है जिनकी मदद से अपनी बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम किया जा सकता है. इन सबसे पहले ये जानना आवश्यक है की वे ऐसे कौन से लक्षण है जिनकी मदद से पता लगाया जा सकता है की आप बूढ़ी हो रही है. तो आइए जानते है उम्र बढ़ने के साथ त्वचा पर दिखने वाले लक्षण और उनसे बचने के उपाय !!

उम्र बढ़ने के साथ त्वचा पर दिखने वाले लक्षण :

Badhti umr aur twacha ki dekhbhal झुर्रियाँ : उम्र बढ़ने के साथ आनी वाली सबसे बड़ी समस्या झुर्रियो की है. झुर्रियों से निजात पाने के लिए महिलाए क्या कुछ नही करती. सामान्य रूप से देखा जाए तो आज कल हर तीसरी महिला इस स्मास्या से ग्रसित है चाहे वो वयस्क हो या बूढ़ी. आपकी त्वचा पर आई महीन रेखाए और झुर्रियाँ आपको समय से पहले बूढ़ा बना देती है.

काले धब्बे : उम्र बढ़ने के साथ साथ आपकी त्वचा पर काले धब्बे भी आने लगते है जो त्वचा के सामान्य रंग को छुपाकर उसे और ही गहरा कर देते है. चेहरे पर काले धब्बे आने का कारण सूर्य की किरणों के अधिक संपर्क मे आना भी हो सकता है. इसके अतिरिक्त त्वचा पर आये मुहांसे और उनके दाग भी संकेत करते है की अब आप बूढ़ी हो रही है.

बेजान और चमक हीन त्वचा : आज कल के वातावरण मे चलने वाली गर्म और प्रदुषण भरी हवाओ के कारण त्वचा रूखी होने लगती है जिससे वो ख़राब दिखती है. जहां एक ओर गर्म हवा और लू हमारी त्वचा को नुकसान पहुँचाती है वही दूसरी ओर Airconditioner भी हमारी त्वचा को रूखा और बेजान बनाते है जिससे उसमे दरारे आने लगती है और आप बूढी दिखने लगती है.

Badhti umr aur twacha ki dekhbhal 

लटकी हुई त्वचा : बढ़ती उम्र के साथ साथ कई व्यक्तिओ का वजन भी बढ़ने लगता है और इस वजन को कम करने के बाद त्वचा लटक जाती है जिसे बढ़ती उम्र का सबसे विशेष प्रतीक माना जाता है. आपने भी अपनी नानी और दादी को देखा होगा उनकी त्वचा अक्सर लटकी हुई सी रहती है. जिसका कारण बढ़ती हुई उम्र है.

रूखी त्वचा : अन्य कारणों के अलावा उम्र के बढ़ने के साथ साथ चेहरे पर आई महीन लकीरो (fine lines) के कारण भी त्वचा रूखी होने लगती है जिससे कई बार उसमे दरारे भी आने लगती है. कई बार त्वचा के अत्यधिक रूखेपन के कारण उसकी बाहरी परत भी निकल आती है.

चितकबरी और विभिन्न रंगो से युक्त त्वचा : कई बार हमारी त्वचा का रंग एक समान नही रहता और उसपर एक से ज़्यादा रंग दिखने लगते है. जिसका कारण मैलेनिन के असंतुलन या उनमे आए बदलाव होता है. यदि आपको भी अपनी त्वचा मे कुछ ऐसा प्रतीत होता है तो ये एक चिंता का विषय है. और वो चिंता ये है की अब आप बूढी होती जा रही है.

खुले हुए रोम छिद्र : त्वचा पर मौजूद खुले हुए रोमछिद्रों को स्ट्रॉबेरी नोस के नाम से भी जाना जाता है. ये हमारे चेहरे के अतिरिक्त उपरी पीठ, गर्दन और हाथो पर भी हो सकते है. उम्र बढ़ने के साथ आनी वाली समस्याओ को खास देखभाल और सही ख़ान पान के साथ कम किया जा सकता है.

बढ़ती उम्र में त्वचा की देखभाल करने के तरीके :-

बढ़ती उम्र की निशानियों को रोकने के लिए अभी से सतर्क हो जाएँ : ऐसे तो हम त्वचा की देखभाल करते ही है लेकिन वो सही नहीं है. अब आपकी त्वचा को उससे भी अधिक देखभाल की आवश्यकता है जिसके अभाव में आपको दुष्परिणामो का सामना करना पड़ सकता है. 30 के बाद त्वचा अपनी नमी खोने लगती है इसके बाद धुप, धुप और प्रदुषण के कारण उसपर आये प्रभावो से आप बूढी लगने लगती है. इसलिये अपनी त्वचा की देखभाल करना प्रारम्भ कर दीजिये कही ऐसा न हो की आप सोचती रह जाएँ और समय हाथ से रेत की तरह फिसल जाएँ.

moizturizerएजिंग के लक्षणों से बचने के लिए चेहरे पर मॉइस्चराइज़ लगाएं : Aging के लक्षणों की बात करे तो सबसे पहला कार्य मॉइस्चराइज़ का होता है जो त्वचा को नमी देने के साथ साथ उसे सुरक्षित भी करता है. यदि आपकी त्वचा कितनी ऑयली है और उसपर मुंहासे निकलते है तो किसी अच्छे से आयल फ्री मॉइस्चराइज़ का प्रयोग कर अपनी त्वचा को नमी प्रदान कर सकती है. यदि आपकी स्किन रूखी है तो दिन में दो बार मॉइचराइज़ का प्रयोग करें.

अच्छी त्वचा पाने के लिए डेड स्किन को स्क्रब करके निकाल दें : कुछ नियमित अंतराल के बाद हमारी ऊपरी स्किन डेड होने लगती है जिसके कारण चेहरा दबा दबा सा लगने लगता है. इस डेड स्किन को निकालना आवश्यक है ताकि त्वचा खिली खिली रहे. इसके अलावा त्वचा पर ग्लो लाने के लिए भी नियमित स्क्रब करना चाहिए. संभव हो तो हफ्ते में कम से कम दो बार स्क्रब अवश्य करना चाहिये. यदि आपके चेहरे पर मुहांसे आदि की शिकायत हो या चेहरे की स्किन सेंसिटिव हो तो स्किन स्पेशलिस्ट की सलाह लें. डॉक्टर से सलाह लेने के पश्चात् अपनी त्वचा के मुताबिक क्रीम का चुनाव करें.

Twacha ki dekhbhal Karne ke tarike 

त्वचा को धूप से बचाने के लिए रोज़ाना सनक्रीन लगाएँ : सूर्य की हानिकारक UV rays हमारी त्वचा को बुरी तरह से झुलसा देती है. जिसके कारण हम समय से पहले बूढ़े लगने लगते है. हमे ये सुनिश्चित करना चाहिये की हमारी त्वचा इन किरणों के अत्यधिक संपर्क में न आये. यदि धुप में निकलना आवश्यक हो तो SPF 30॰ वाले सनस्क्रीन का प्रयोग करना चाहिए. सनस्क्रीन का प्रयोग न केवल घर के बाहर अपितु घर के अंदर भी करना चाहिए. इसके अलावा धुप में निकलते समय अपनी त्वचा को ढक कर रखे.

त्वचा को अधिक हानि ना हो इसके लिए नरम क्लीन्ज़र का प्रयोग करें : क्लीन्ज़र का कार्य त्वचा में मौजूद गंदगी को साफ़ करना होता है इसके लिए घरेलु प्रयोगों अथवा बाजार में उपलब्ध क्लीन्ज़र का प्रयोग किया जा सकता है. बाजार में विभिन्न त्वचा के अनुकूल क्लीन्ज़र उपलब्ध है जिनमे से रूखी त्वचा के लिए क्रीम युक्त और ऑयली त्वचा के लिए आयल फ्री क्लीन्ज़र उपयुक्त रहेगा. इसके अलावा यदि आपकी स्किन सेंसेटिव है तो डॉक्टर की सलाहनुसार क्लीन्ज़र का प्रयोग करें. चेहरे को धोते समय उसे किसी भी प्रकार की हानि न पहुचाएं. चेहरे को हमेशा हलके हाथो से पोंछे रगड़े नहीं.

बढ़ती उम्र में त्वचा की देखभाल करने के तरीके

उम्र को जवां दिखाने के लिए हर्बल प्रोडक्ट्स हमेशा बेस्ट नही होते : कई व्यक्ति त्वचा को यंग दिखाने के लिए हर्बल प्रोडक्ट्स का प्रयोग करते है जो कारगार भी होते है. लेकिन हमेशा नहीं !! जी हां, जिन व्यक्तियों की त्वचा सेंसिटिव होती है उन्हें हर्बल प्रोडक्ट्स से दूर ही रहना चाहिए क्योकि वे उनकी त्वचा को हानि पंहुचा सकते है. कई बार पेड़ पौधों के रस को मुंह पर लगाने से एलर्जी या रैशेस जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है. इसलिये किसी भी वस्तु का प्रयोग करने के पूर्व यह सुनिश्चित कर लें की वो आपकी स्किन को सूट करती है या है. हमेशा स्किन को सूट करें ऐसे उत्पादों का ही प्रयोग करें.

facial tipsBadhti umr aur twacha ki dekhbhal त्वचा को टाइट रखने के लिए सही फ़ेशियल का चुनाव करें : त्वचा को सही पोषण देने के लिए सभी महिलाएं फ़ेशियल का प्रयोग करती है. सही तरह से Cleanser और exfoliating facials न करवाने से त्वचा पर अन्य समस्याएं उत्पन्न हो सकती है. यदि आपकी त्वचा सेंसिटिव है तो अपनी त्वचा के अनुकूल फ़ेशियल का प्रयोग करें ताकि उससे होने वाली हानि से बचा जा सके. यदि आप फ़ेशियल करने की विद्या जानती है तो घर पर भी स्वयं फ़ेशियल कर सकती है. चेहरे के लिए प्रोडक्ट्स का प्रयोग थोड़ा सोच समझकर करना चाहिए क्योकि चेहरा बाकी त्वचा से अधिक संवेदनशील होता है.

क्या 30 के बाद भी आपके चेहरे पर मुहासे आते है ?

यदि आपके चेहरे पर आज भी मुंहासे और blackheads निकलते है तो उसके लिए आप क्या करती है. निश्चित रूप से कास्मेटिक का प्रयोग जो बिलकुल गलत है. Badhti umr aur twacha ki dekhbhal बढ़ती उम्र में त्वचा पर मुहांसे निकलने का कारण हॉर्मोन, हेयर प्रोडक्ट्स और तनाव है जिनका प्रभाव सीधे हमारी त्वचा पर पड़ता है. ऐसे तो कई घरेलू उपचार है जिनकी मदद से मुहासों से छुटकारा पाया जा सकता है लेकिन यदि आप उन सब का प्रयोग कर चुकी है तो अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लें.

कैसे पाएँ बेजान त्वचा से निखरी और ग्लोयिंग स्किन ?

निखरी और ग्लोइंग स्किन पाने के लिए ज्यादातर महिलाएं कास्मेटिक का प्रयोग करती है. जो उनकी त्वचा को हानि पहुचते है. यदि उम्र बढ़ने के साथ साथ आपकी त्वचा का रंग भी डार्क होने लगा है तो सर्वप्रथम धूम्रपान आदि गलत आदतों का परहेज करें. इसके अलावा अधिक से अधिक पानी का सेवन करें, फल और सब्जियों को अपने आहार में अधिक स्थान दें, बिना चर्बी के मांस का सेवन करें और साबुत अनाज खाएं. नियंमित व्यायाम करें और तनाव मुक्त रहे जिससे चेहरे पर इनका (बढ़ती उम्र की निशानिया) प्रभाव न दिखे. एक बात और जितना हो सके तेज़ धुप के संपर्क में न आएं.

Badhti umr aur twacha ki dekhbhal बढ़ती उम्र में त्वचा की देखभाल करने के तरीके skincare tips in hindi badhti umr ke lakshan aur twacha ki dekhbhal kaise kare, Bejan aur rukhi twacha se mukti ke upay, umr ke badhne ke sath aane wale lakshano ko km karne ke upay

skincare tips for ladies to prevent aging signs, 30 ke baad twacha ho jati hai dull, dull twacha ke karan aur unke upay, badhti umr me twacha ki sahi dekhhal karne ke tarike

2 Comments
  1. jannat says

    Mere face par pimple ke purane nishaan rah gaye hai kya aap bata sakti hai ki isse kaise door kare.

    1. Srishti Dudeja says

      kai saare articles hai whatinindia.com par jaha par aap apne pimple ka daag hatane ke tarike padh sakti hai, Jannat

Leave A Reply

Your email address will not be published.