Take a fresh look at your lifestyle.

बालों में जुएं होने के ये कारण होते है!

0

बालों में जूं होने के कारण :- जूं होना आजकल के समय में बालों में होने वाली आम समस्यायों में से एक है. जो किसी भी उम्र के व्यक्ति और बच्चे में हो सकती है. जिसकी वजह से बच्चे तो बच्चे बड़े भी काफी परेशान रहते है. जिसका कारण बालों में एकत्रित गंदगी होती है जो बाद में जुओं का रूप ले लेती है.

जिस व्यक्ति के सिर में जूं हो जाते है वो न तो ठीक से खा पाता है और न ही ठीक प्रकार से काम कर पाता है. क्योकि जुओं की वजह से सिर में इतनी खुजली और पीड़ा होती है की उसे सहना बेहद मुश्किल हो जाता है. ऐसे तो वर्ष के किसी भी मौसम में पड़ जाती है लेकिन गर्मी और बरसात में इनका प्रकोप सबसे अधिक देखने को मिलता है.

कारण गंदगी और बालों में मौजूद गीलापन. जी हां, बालों में एकत्रित हुई गंदगी और उनके बहुत देर तक गीले बंधे रहने से भी सिर में जुएं हो जाती है.

जूं क्या है?

जूं एक ऐसा परजीवी है जो सामान्यतः हमारे बालों में पाया जाता है. इसका आकार बहुत ही छोटा होता है जिसे बेहद तीखी नजरो और ध्यान देने पर ही देखा जा सकता है. ये परजीवी हमारे सिर में रहती है और स्कैल्प से खून चूसकर जीवित रहती है. एक महीने में एक जूं 50 से 100 अंडे दे सकती है. ये अंडे जूं हमारे सिर में ही रहकर देती है. जुओं के इन अंडो को लीख के नाम से भी जाना जाता है. 10 दिन के भीतर ये अंडा एक जूं बन जाता है. जुओं को पोषण हमारे स्कैल्प की खून से मिलता है.

क्या जूं स्कैल्प के लिए हानिकारक भी हो सकती है?

ऐसे तो जूं होना कोई बड़ी समस्या नहीं है लेकिन यदि इनका समय और उचित उपचार न किया जाये तो आपके बालों और स्कैल्प के लिए बेहद खतरनाक भी हो सकती है. ऐसे तो जूं को पोषण को हमारी ऊपरी स्कैल्प से ही मिल जाता है लेकिन लंबे समय तक इनका सिर में रहना न केवल आपकी स्कैल्प अपितु आपके स्वास्थ्य के लिए भी हानिकारक हो सकता है.

क्योकि ये हमारा खून पीकर जिन्दा रहती है और जब इन्हें सिर की स्कैल्प से खून मिलना बन्द ही जाता है तो ये उसके भीतरी भाग को भी नुकसान पहुँचाना प्रारंभ कर देती है. जिसके परिणाम स्वरुप स्कैल्प में जख्म और खून निकलने की समस्या हो जाती है. यदि आपके बच्चे के सिर में भी जुएं हो गयी है तो तुरंत ही उन्हें निकाल दीजिये क्योकि ये उसकी स्कैल्प को नुकसान पहुँचा सकती है.

बालों में जूं होने के क्या कारण है?

ऐसे तो बालों में जुएं होने का मुख्य कारण गंदगी ही होता है लेकिन कई बार अन्य वजहों से भी बालों में जुओं की समस्या होने लगती है. इसीलिए आज हम आपको सिर में जूं होने के विभिन्न कारणों के बारे में बताने जा रहे है. क्योकि किसी भी बीमारी का सिर्फ इलाज जानने से बात नहीं बनती उसके लिए जरुरी है की आपको उसके कारणों के बारे में भी ज्ञात है.

गंदगी : –बालों में जूं होने पर क्या करें

जुएं होने का सबसे बड़ा कारण गंदगी होता है. जो लोग नियमित रूप से अपने बालों की साफ़-सफाई नहीं करते और उनकी देखभाल नहीं करते उनके सिर में जूं हो जाती है. इसके अलावा गंदे बालों को कई दिनों तक बांधे रखने से भी ये समस्या हो सकती है. इसीलिए कभी भी अपने बालों में गंदगी इकटठा न होने दें. एक नियमित अंतराल के बाद बालों को शैम्पू करके धोएं और उन्हें अच्छे से साफ़ करें. दिन में कम से कम एक बार बालों को खोलकर दोबारा बांधे.

किसी दूसरे का समान प्रयोग करें से :-

जिन लोगो के सिर में जूं होती है और यदि कोई अन्य व्यक्ति उनका प्रयोग किया गया समान प्रयोग करें तो उसके सिर में भी जूं हो जातीहै. क्योकि जुओं से ग्रसित व्यक्ति के द्वारा प्रयोग की जाने वाली प्रत्येक वस्तु में जुएं के अंडे मौजूद होते है और जब वह उस वस्तु को इस्तेमाल करता है तो वे अंडे उसके सिर में चले जाते है जिससे उसके सिर में भी जूं हो जाती है.

विशेषकर ग्रसित व्यक्ति की बालों से जुडी वस्तुएं और कपड़ो का प्रयोग करने से ये समस्या अधिक होती है. सामान्य तौर पर इस समस्या के फैलाव का यही कारण माना जाता है. इसीलिए कभी भी किसी अन्य व्यक्ति द्वारा प्रयोग की जाने वाली वस्तुयों का प्रयोग न करें और किसी भी वस्तु के इस्तेमाल से पहले उसे अच्छे से झाड़ लें. चाहे वो आपकी ही क्यों न हो. क्योकि कई बार दुसरो के सिर से भी ये अंडे हमारे कपड़ो पर गिर जाते है. हमेशा अपनी यूज़ करने वाली चीजो को अलग रखें. जिससे संक्रमण का खतरा न हो.

ग्रसित व्यक्ति के अत्यधिक संपर्क में रहने से :-

बालों में जुओं की समस्या सबसे अधिक संक्रमण की वजह से फैलती है. खासकर बच्चो में इसके फैलाव की यही वजह होती है. क्योकि जिस व्यक्ति के सिर में जूं होती है उसके साथ अधिक मेल मिलाप करने उठने बैठने और सिर से सिर मिलाने से जूं एक से दूसरे के सिर में प्रवेश कर जाती है और जैसा की आपको बताया की एक जूं 50 से 100 अंडे दे सकती है.

जिसके बाद धीरे-धीरे इनकी तादाद में वृद्धि होने लगती है. यदि किसी व्यक्ति के सिर में जूं है और कोई अन्य व्यक्ति उसके बहुत निकट रहता है तो उसे भी जुएं हो जाती है. क्योकि एक सिर से दूसरे सिर में जाने में ये 1 सेकंड भी नहीं लगाती. इसीलिए यदि कोई व्यक्ति इससे परेशान है तो उससे थोड़ी दुरी बनाये रखे. और उस व्यक्ति ई अत्यधिक निकट न जाये. ये आपके लिए ही फायदेमंद होगा.

बालों में पसीने या पानी की वजह से :-

सिर में जुएं होने का एक कारण नमी को भी माना जाता है. कई लोग गीले बाल ही बांध लेते है या उनके बालों में कितना ही पसीना आये वे उन्हें नहीं खोलते. ऐसा करने से उनके बालों में गंदगी इकट्ठी होने लगती है जो बाद में जूं का रूप ले लेती है.

गीले बालों को बंधने से भी ये समस्या हो जाती है क्योकि ऐसा करने से बालों को पूरी हवा नहीं लग पाती और न ही वे सूख पाते जिसके परिणामवश उनमे बदबू और जूं जैसी समस्या होने लगती है. इसीलिए कभी भी गीले बालों को न बांधे और जब भी बालों में पसीना आये उन्हें कुछ देर के लिए खोल लें और पसीना सूख जाने के बाद उन्हें बांध लें.

बीमारी भी हो सकती है वजह :-

कई बार किसी बीमारी के कारण भी ये समस्या देखने को मिलती है. लेकिन ऐसा बहुत ही कम होता है. क्योकि जुओं के होने की मुख्य वजह गंदगी ही होती है.

क्या करें?

ऐसे तो बाजार में ढेरो उत्पाद उपलब्ध है जिनकी मदद से आप बच्चो के सिर से आसानी से जूं निकाल सकती है लेकिन इन उत्पादों के निर्माण में केमिकल्स और रसायनों का प्रयोग किया जाता है जो बच्चो के लिए नुकसानदेह हो सकता है.

यदि आपके बच्चे के सिर में भी जूं हो गयी है और आप बाजार के उत्पादों का प्रयोग नहीं करना चाहती तो परेशान न हो इनके अलावा ऐसे कई घरेलु उत्पाद है जिनकी मदद से बच्चो के सिर से जुओं को आसानी से निकाला जा सकता है. औए=र सबसे बड़ी बात इसके लिए आपको ढेरो पैसे खर्च करने की भी आवश्यकता नहीं है.

इसके अलावा आप अपने बच्चे को भीड़ भाड़ वाले क्षेत्र से दूर रखे ताकि समस्या अन्य लोगो को न हो. साथ ही उसके बालों की साफ सफाई पर भी विशेष ध्यान दें. हफ्ते में कम से कम 3 बार उनका सिर जरूर धोएं. बालों में प्रॉपर आयलिंग करें और छुट्टी वाले दिन उनके बालों को देखती रहे यदि कोई ऐसा लक्षण दिख रहा है तो तुरंत उसका उपचार करें.

बालों में जुओं के उपचार के लिए इसे पढ़े : बच्चो के सिर से जूं निकलने के प्राकृतिक उपाय!!

बालों में जूं होने के कारण, जानें क्यों होती है बालों में जूं और इससे बचने के उपाय, बच्चो के बालों में जूं होने के कारण और उपचार, जूं होने की क्या वजह है

Leave A Reply

Your email address will not be published.