जब एक महिला को पता चलता है के वह गर्भवती है तब वह अपने खाने और अपने आप के लेकर बहुत ही जागरूक हो जाती है। गर्भावस्था के दौरान हर महिला छोटी और बड़ी बात का ध्यान रखती है जैसे की क्या खाना है क्या नहीं खाना है। अक्सर प्रेगनेंसी में घर के बड़े सूखा मेवा खाने की भी सलाह देते है। सूखे मेवों में अख़रोट (Walnut) खाने के अलग ही फायदे है।

क्या अख़रोट खाना गर्भावस्था के दौरान सहीं है ? Is Walnut Safe to eat during Pregnancy?

जी हाँ प्रेगनेंसी के दौरान अख़रोट का सेवन पूरी तरह से सेहतमंद और सेफ है।

अख़रोट खाने से प्रेगनेंसी में किसी को भी कोई नुक्सान नहीं होगा जब तक की वह पहले से अख़रोट से एलर्जिक नहीं है।

प्रेगनेंसी के दौरान अख़रोट खाने के क्या क्या फायदे है? What are the benefits of eating Walnuts in Pregnancy?

आइये जानते है गर्भावस्था में अख़रोट खाने के फायदे।

  • अख़रोट के अंदर का हिस्सा, जिसे हम खाते है, सिर्फ हमारे दिमाग के आकर से मिलता जुलता ही नहीं बल्कि हमारे दिमाग का विकास भी करता है।
  • इसमें में ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में होता है, जो की गर्भवती महिला के बच्चे के दिमाग को विकसित करने बहुत ही सहायक होता है।
  • अख़रोट का सेवन गर्भवती महिला के खराब कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने से रोकता है।
  • शुरुआती महीनो में गर्भवती महिला का ब्लड प्रेशर भी घटता और बढ़ता रहता है, अख़रोट खाने से ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित करने में मदद मिलती है।
  • अख़रोट, प्रोटीन और फाइबर का अच्छा स्तोत्र है। दोनों ही चीजे एक प्रेग्ननेंट महिला के बहुत जरुरी है।
  • अख़रोट में पाया जाने वाला कॉपर, भूर्ण के पूर्ण विकास के लिए बहुत ही सहायक होता है।
  • रोजाना नियमित मात्रा में अख़रोट खाने से गर्भावस्था के शुरुआती 3 महीनों में होने वाली घबराहट से भी छुटकारा पाया जा सकता है।
  • मैंगनीज एक बहुत ही जरुरी पोषक तत्व है जो के बच्चे के हड्डियों को मजबूत बनता है। गर्भवती महिला को मैंगनीज तत्व को पाने के लिए अख़रोट का सेवन जरूर करना चाहिए।
  • रोजाना एक अख़रोट खाने से गर्भवस्था में होने वाला तनाव भी दूर होता है।

तो आपने देखा यह सभी गुण एक अख़रोट में होते है। गर्भावस्था में इसे खाने से और भी कई बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है।

गर्भावस्था में किसी भी चीज की एक नियमित मात्रा का सेवन ही करना चाहिए।

किसी भी चीज की अति उसके गुणों के जगह हमे नुक्सान भी पहुंचा सकती है।