Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

प्याज खाना आजकल क्यों जरुरी है प्रेगनेंट महिलाओं के लिए?

0

आजकल के दिनों में मौसम बार बदल रहा है, कभी तेज धुप, कभी हल्की ठण्ड और कभी बारिश। ऐसे मौसम में किसी को फ्लू होना आम बात है। इन दिनों में लगभग सभी को खांसी, जुकाम और वायरल फीवर हो ही जाता है। ऐसे में गर्भवती महिला को फ्लू का खतरा और भी बढ़ जाता है जब के उनकी इम्युनिटी पावर पहले से कम हो जाती है।

इन दिनों को ध्यान में रखते हुए जरुरी है के गर्भवती महिलायें अपने पहनने-ओढ़ने से लेकर अपने खाने पीने का भी विशेष ध्यान रखें। इस मौसम में गर्भवती महिलाओं को प्याज का सेवन जरूर करना चाहिए। जी हाँ बिलकुल सहीं प्याज हमारे बहुत से काम आता है। आज हम आपको गर्भावस्था के दौरान प्याज खाने के फायदे बताएंगे।

इम्युनिटी सिस्टम

आपको यह जान कर हैरानी होगी की प्याज के सेवन से हमारी इम्युनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। प्याज एक विटमिन सी का बहुत अच्छा स्रोत है विटामिन सी हमारे इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग बनाता है। इसके सेवन से ना सिर्फ गर्भवती महिला का बल्कि उसके शिशु का भी इम्यून सिस्टम स्ट्रांग बनता है।

हार्ट से संबंधित बीमारियाँ

प्याज में क्वेरसेटिन फ्लैवोनॉइड पाया जाता है, जो के हमारे खराब कोलस्ट्रोल लेवल को कण्ट्रोल करता है। इसमें मौजूद फ्लैवोनॉइड और ऑर्गनॉसुल्फर गर्भवती महिलाओं में हृदय रोगों के खतरे को कम करती है।

पाचन शक्ति

गर्भावस्था में कच्चे प्याज के सेवन से पाचन क्रिया अच्छी होती है। प्याज में डाइटरी फाइबर होता है जो हमरे पाचन शक्ति को मजबूत बनाता है। प्रेगनेंसी में रोजाना प्याज के सेवन से गैस्ट्रिक अलसर नहीं होता, इसमें मौजूद फाइबर से कब्ज की परेशानी भी नहीं झेलनी पड़ती।

बालों और त्वचा

प्याज में विटामिन ए, सी, इ भरपूर मात्रा में पाए जाते है। यह सभी विटामिन्स हमारे बालों और त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद होते है। यह विटामिन्स उम्र से पहले बूढ़े होने से भी बचाते है।

डायबिटीज

कुछ गर्भवती महिलाओं को हार्मोनल बदलावों के कारण डायबिटीज हो जाती है। प्याज के सेवन से गर्भावस्था में होने वाली शुगर में आराम मिलता है।

ब्लड प्रेशर

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं का ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। गर्मी के मौसम में ब्लड प्रेशर और भी ऊपर नीचे होता रहता है। ऐसे में प्याज का सेवन ब्लड प्रेशर से संबंधित परेशानियों में राहत देता है। इसमें मौजूद फीटोनुट्रिएंट्स ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल कर हाइपरटेंशन से बचाता है, जिसके कारण समय से पहले डिलीवरी और डिलीवरी में आने वाले कम्प्लीकेशन का खतरा कम हो जाता है।

स्ट्रेस

प्याज में प्रोबिओटिक्स की अच्छे मात्रा पायी जाती है। प्रोबिओटिक्स हमारे स्ट्रेस को कम करता है। इसमें मौजूद फोलेट गर्भवती महिला के तनाव को भी कम करता है। जिसके कारण गर्भवती महिला चैन की नींद ले सकती है।

सूजन और एलर्जी

गर्भवस्था में कुछ महिलाओं को एलर्जी या पैरो पर सूजन आ जाती है। प्याज में पाए जाने वाले फ्लैवोनॉइडस एंटी इन्फ्लैमटॉरी गुणों से भरपूर होते है। इसके सेवन से गर्भवती महिलाओं को सूजन और एलर्जी में भी आराम मिलता है।

इन सभी गुणों के अलावा एक गुण और भी होता है प्याज में वो है गर्मी में लूँ से बचाना। इसीलिए सभी महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान प्याज का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए। खासतौर पर इस बदलते मौसम में गर्भवती महिलाओं को बहुत जरुरी है स्ट्रांग इम्युनिटी की।

Leave a comment