ब्रेस्ट ढीला होने के क्या कारण होते हैं

0

समय के साथ महिला के शरीर में बहुत से बदलाव आते है जैसे की जब महिला की उम्र बढ़ने लगती है तो उसे मासिक धर्म शुरू होता है, महिला के शरीर के अंगो का विकास होता है, जैसे की ब्रेस्ट, प्राइवेट पार्ट व् अन्य भागो पर बाल आने लगते है, आदि। ऐसे ही कई बार महिला का ब्रेस्ट लूज़ हो जाता है। जिसके कई कारण हो सकते है। जैसे की आपकी खराब जीवनशैली, गलत ब्रा का इस्तेमाल, प्रेगनेंसी आदि। लेकिन ज्यादातर महिलाएं सोचती हैं की ब्रेस्ट के लूज़ होने का कारण उनका स्तनपान करवाना होता है, जी हाँ यह बिल्कुल सही है की ब्रेस्ट फीड करवाने से आपका ब्रेस्ट लूज़ होता है। लेकिन जैसे ही बच्चा फीड लेना छोड़ता है तो उसके बाद ब्रेस्ट वापिस से शेप में आने लग जाती है।

महिलाओं की लुक को बेहतर बनाने और उनकी पर्सनैल्टी को बढ़ाने में ब्रेस्ट का अहम योगदान होता है। साथ ही परफेक्ट ब्रेस्ट शेप जहां आपकी ख़ूबसूरती को बढ़ाती है वहीँ ब्रेस्ट की शेप सही न होने पर आपकी लुक खराब भी हो सकती है। ब्रेस्ट का लूज़ होना एक ऐसी परेशानी है जो महिला के हाथ में नहीं होती है लेकिन यह कोई ऐसी परेशानी भी नहीं है की जिसका कोई समाधान न हो। क्या आपका भी ब्रेस्ट शेप परफेक्ट नहीं है? क्या आप भी ब्रेस्ट के लूज़ होने की समस्या से परेशान हैं? और आपको समझ नहीं आ रहा है की इसका कारण क्या है तो लीजिए आज हम आपको बताते हैं की ब्रेस्ट लूज़ होने के क्या कारण होते है।

ब्रेस्ट के ढीले होने के कारण:-

महिलाओं के लिए ब्रेस्ट का ढीला होना उनकी ख़ूबसूरती को कम करता है। लेकिन महिलाओं को समझ ही नहीं आता है की उनके ब्रेस्ट में ढीलापन क्यों आ रहा है। तो अब आपको परेशान होने की जरुरत नहीं है क्योंकि आज हम आपको बताते है की ब्रेस्ट किन किन कारणों की वजह से लूज़ होती है।

धूम्रपान करने वाली महिलाओं के होते है ब्रेस्ट लूज़:-

जो महिलाएं धूम्रपान व् अल्कोहल का सेवन अधिक मात्रा में करती है उन्हें ब्रेस्ट के लूज़ होने की समस्या से जूझना पड़ता है। क्योंकि इनमे मौजूद पोषक तत्व आपकी स्किन को नुकसान पहुंचाते है। और स्किन में होने वाले कोलेजन को धीरे धीरे तोड़ देते है, जिसके कारण स्किन खिंचाव बढ़ता है और आपको ब्रेस्ट के ढीले होने की समस्या से परेशान होना पड़ता है।

गर्भधारण से होते हैं ब्रेस्ट ढीले:-

प्रेगनेंसी भी आपके ब्रेस्ट के ढीलेपन का कारण हो सकता है, क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान आपकी स्किन में खिंचाव होना आम बात होती है। जिसका असर आपके ब्रेस्ट पर भी पड़ता है। और जितनी बार आप माँ बनती है उतनी बार आपकी स्किन इससे प्रभावित होती है और आपको ब्रेस्ट के ढीलेपन का सामना करना पड़ता है।

ब्रेस्ट ढीले होने का कारण होता है आपके वजन का बढ़ना:-

यदि आपका वजन तेजी से बढ़ता है तो बॉडी के सभी भागो की स्किन में खिंचाव उत्त्पन्न होता है ऐसे ही ब्रेस्ट की स्किन पर भी प्रभाव पड़ता है। जिसके कारण ब्रेस्ट लूज़ होने लगते है। ऐसे ही यदि आपका वजन बहुत तेजी से कम भी होता है तो भी आपको इस परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

बढ़ती उम्र भी है ब्रेस्ट के ढीलेपन का कारण:-

बढ़ती उम्र का प्रभाव आपकी स्किन पर साफ़ दिखाई देता है, जहां आपका शरीर कमजोर होता है। वहीं स्किन में भी कोलेजन की कमी आने लगती है। और कोलेजन की कमी का मतलब साफ़ होता है की आपको ब्रेस्ट के ढीलेपन की समस्या का सामना करना पड़ता है।

अनुवांशिक कारण भी हो सकते है:-

जींस का असर आपके ब्रेस्ट पर बहुत तेजी से पड़ता है, इसीलिए ब्रेस्ट में ढीलेपन का कारण अनुवांशिक भी हो सकता है। यानी की यदि आपकी माँ के ब्रेस्ट में ढीलापन होता है तो आपके साथ भी ऐसा हो सकता है।

स्तनपान:-

ब्रेस्टफीडिंग करवाने से भी आपके ब्रेस्ट में ढीलापन आता है, ऐसा इसीलिए होता है की ब्रेस्ट में दुग्ध ग्रथियों में दूध बनता है जिसके कारण ब्रेस्ट ढीला होने लगता है। लेकिन जैसे ही ब्रेस्ट फीड लेना बच्चा छोड़ता है वैसे ही महिला का ब्रेस्ट धीरे धीरे वापिस शेप में आने लगता है।

गलत ब्रा का चुनाव भी लाता है ब्रेस्ट में ढीलापन:-

कई बार महिलाएं अपने माप की ब्रा नहीं पहनती है, या तो वो अपने साइज से छोटी या फिर बड़ी ब्रा पहनती है। जिसके कारण ब्रेस्ट की स्किन पर बुरा प्रभाव पड़ता है। और ब्रेस्ट में ढीलेपन की समस्या आने लगती है।

मेनोपॉज़ होने पर महिला का ब्रेस्ट होता है ढीला:-

मेनोपॉज़ एक ऐसी अवस्था है जो महिला में एक उम्र के बाद आती है इस दौरान महिला के शरीर में बहुत से हार्मोनल बदलाव आते हैं। जिसका असर महिला की स्किन पर भी पड़ता है। और इसके कारण भी महिला के ब्रेस्ट ढीले पड़ने लगते है।

शरीर में हो पोषक तत्वों की कमी तो भी ब्रेस्ट में आता है ढीलापन:-

स्किन को भी फिट रहने के लिए भरपूर पोषण की जरुरत होती है। ऐसे में यदि आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी होती है। तो इसका असर आपकी स्किन पर पड़ता है जिसके कारण आपका ब्रेस्ट ढीला पड़ने लगता है। लेकिन यदि आपके शरीर में पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं तो इसके कारण ब्रेस्ट की स्किन के साथ पूरी बॉडी की स्किन को पोषण मिलता है।

ब्रेस्ट से जुडी बीमारियों के होने पर:-

यदि कोई महिला ब्रेस्ट कैंसर, ट्यूबरक्लोसिस या अन्य किसी ब्रेस्ट से जुडी परेशानी से झूझ रही होती है तो इसके कारण भी आपके ब्रेस्ट में ढीलेपन की समस्या आ सकती है।

ब्रेस्ट का ढीलापन दूर करने के लिए कुछ खास टिप्स:-

  • ब्रेस्ट की स्किन को पोषण देने के लिए अपने आहार में पोषक तत्वों को भरपूर मात्रा में शामिल करना चाहिए।
  • रात को सोते समय ब्रा जरूर पहननी चाहिए।
  • नियमित ब्रेस्ट की मसाज भी ब्रेस्ट में आए ढीलेपन को दूर करने में मदद करती है।
  • धूम्रपान, अल्कोहल आदि का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे आपको ब्रेस्ट के ढीलेपन की समस्या का सामना करना पड़ता है।
  • व्यायाम व् योगासन जरूर करें खासकर पुशअप्स करने से आपकी ब्रेस्ट में आए ढीलेपन को दूर करने में मदद मिलती है।
  • ब्रेस्ट टाइट करने के लिए एक अंडे के पीले भाग में, एक चम्मच बटर और दो चम्मच खीरे का रस अच्छे से मिक्स करें अब इस पेस्ट को अपने ब्रेस्ट पर लगाएं, और सूखने के बाद धो दें, हफ्ते में दो से तीन बार इस उपाय को करने से आपको ब्रेस्ट को टाइट करने में मदद मिलती है।
  • ब्रेस्ट पर आइस मसाज करें और उसके बाद अपने साइज की ब्रा पहन कर आधे घंटे के लिए लेट जाएँ, ऐसा नियमित करें इससे भी आपका ब्रेस्ट टाइट होता है लेकिन ध्यान दें की मसाज केवल एक से दो मिनट तक ही करनी चाहिए।
  • गलत ब्रा न पहने, और अपने साइज का माप लें उसके बाद परफेक्ट साइज की ब्रा पहने।
  • मेथी पाउडर में पानी मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें और उसके बाद उसे अपने ब्रेस्ट पर लगाएं। ब्रेस्ट पर लगाने के बाद उसे सूखने के लिए छोड़ दें। और साफ़ पानी से धो दें इस तरीके का इस्तेमाल करने से भी आपको अपने ब्रेस्ट को टाइट करने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ कारण जिसकी वजह से आपको ब्रेस्ट में आए ढीलेपन की समस्या का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा यदि आप अपने ब्रेस्ट को परफेक्ट शेप में लाना चाहते हैं तो आप ऊपर दिए गए टिप्स का इस्तेमाल भी कर सकते है, इससे धीरे धीरे आपका ब्रेस्ट शेप में आने लगता है।

Leave a Reply