Take a fresh look at your lifestyle.

स्पर्म की कमी होने के कारण

0

स्पर्म काउंट की समस्या एक ऐसी समस्या है जिसके बारे में अधिकतर लोग नहीं जानते हैं इसीलिए तो यदि कभी कोई महिला कंसीव नहीं कर पाती है तो वो महिला का ही टेस्ट करवाते रहते हैं। जबकि महिला के गर्भधारण में पुरुष के शुक्राणु भी अहम होते हैं क्योंकि स्पर्म ही निषेचन की प्रक्रिया को पूरा करते हैं। साथ ही आज जब लोग इससे धीरे धीरे परिचित होते जा रहे हैं तो बहुत से पुरुषों में यह समस्या देखने को मिल रही है। इस समस्या के होने का कोई एक कारण नहीं होता है बल्कि ऐसे बहुत से कारण होते हैं जिसकी वजह से पुरुषों में यह दिक्कत आ सकती है। तो आइये अब इस आर्टिकल में जानते हैं की पुरुषों में स्पर्म की कमी होने के क्या कारण होते हैं।

शुक्राणु की कमी के लक्षण

  • सम्बन्ध बनाने की इच्छा में कमी आना भी शुक्राणु की कमी का लक्षण होता है।
  • प्राइवेट पार्ट में सूजन या गाँठ महसूस होना।
  • चेहरे या शरीर पर बालों का कम महसूस होना।

स्पर्म काउंट की कमी के कारण

यदि कोई पुरुष स्पर्म की कमी से जूझ रहा होता है तो उसके कई कारण हो सकते हैं। और यह हर पुरुष में अलग अलग हो सकते हैं। तोआइये अब जानते हैं की स्पर्म काउंट में कमी के क्या कारण हो सकते हैं।

गलत लाइफस्टाइल

समय से खाना नहीं, समय से सोना नहीं, फिटनेस का ध्यान नहीं रखना, संतुलित आहार की जगह जंक फ़ूड खाना, आदि। यह सभी गलत लाइफस्टाइल का हिस्सा है, और जिन पुरुषों का लाइफस्टाइल ऐसा होता है उन्हें स्पर्म की कमी की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

हार्मोनल असंतुलन

स्पर्म का उत्पादन सही हो इसके लिए भी शरीर में हॉर्मोन बनते हैं लेकिन यदि शरीर में हार्मोनल संतुलन सही नहीं होता है तो इसकी वजह से भी स्पर्म काउंट में कमी आ जाती है।

इन्फेक्शन

यदि पुरुष को एड्स, सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज अन्य कोई समस्या हो जाती है तो इसकी वजह से भी स्पर्म काउंट पर बुरा असर पड़ता है।

शारीरिक समस्या

किसी आदमी की यदि कोई सर्जरी हुई है, कोई शारीरिक बीमारी जैसे की ट्यूमर, कैंसर आदि से पीड़ित है तो उसे भी स्पर्म काउंट जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

स्ट्रेस

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हर व्यक्ति परेशान है लेकिन कुछ लोग इस समस्या का शिकार भी हो जाते है जिसका बुरा असर उनके शारीरिक व् मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है। ऐसे में जो पुरुष तनाव का शिकार हो जाते हैं तो उन्हें स्ट्रेस की वजह से भी स्पर्म काउंट में कमी जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

बुरी आदतें

जो पुरुष अल्कोहल, धूम्रपान, बीड़ी, तम्बाकू, गुटखा आदि का सेवन अधिक करते हैं तो इन चीजों का बुरा असर भी उनकी सेहत पर पड़ता है।। ऐसे में उन्हें शारीरिक बिमारियों के साथ शुक्राणु में कमी जैसी समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है।

दवाइयों का अधिक सेवन

जो लोग नशीली दवाइयों या अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी दवाइयों का सेवन जरुरत से ज्यादा करते हैं उन्हें भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

साइकिल ज्यादा चलाना

जो पुरुष साइकिल अधिक चलाते हैं उनमे भी प्रजनन क्षमता से जुडी समस्या अधिक देखने को मिलती है।

गर्मी में काम करना

जो पुरुष ऐसी जगह पर कमा करते हैं जहां गर्मी अधिक होती है जैसे की भारी धातुएं बनने की जगह पर काम करना, सारा दिन लैपटॉप गोद में लेकर काम करना, आदि, तो ज्यादा गर्मी भरे माहौल में अधिक रहने के कारण भी शुक्राणु के उत्पादन पर बुरा असर पड़ता है।

हॉट बाथ

सोना बाथ, गरम पानी में ज्यादा देर तक रहना आदि से स्नान नियमित रूप से करने पर भी पुरुषों को इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

वजन

जिन पुरुषों का वजन जरुरत से ज्यादा होता हैं उन्हें हार्मोनल असंतुलन की समस्या हो सकती है। और शरीर में हार्मोनल असंतुलन होने के कारण शुक्राणु में कमी की समस्या अधिक हो सकती है।

पुरुष स्पर्म काउंट की समस्या को दूर करने के लिए अपनाएँ यह टिप्स

  • लहसुन का सेवन करने से स्पर्म काउंट बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • अश्वगंधा एक आयुर्वेदिक औषधि होती है जिसका सेवन करने से शरीर से जुडी बहुत सी समस्याओं से निजात पाने में मदद मिलती है। वैसे ही अश्वगंधा का सेवन करने से शुक्राणु को बढ़ाने में भी मदद मिलती है।
  • मसूर दाल का सेवन करना इस समस्या को दूर करने का सबसे बेहतरीन उपाय है क्योंकि इसमें फोलिक एसिड भरपूर मात्रा में मौजूद होता है।
  • अंडा खाने से भी शुक्राणु की गुणवत्ता व् संख्या को बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • पुरुष यदि केला, स्ट्राबेरी, जामुन, क्रैनबेरी जैसे फल खाता है तो इन फलों का सेवन करने से भी बहुत फायदा मिलता है।
  • शतावरी का सेवन करने से भी इस समस्या को दूर करने में फायदा मिलता है।
  • पालक, ब्रोकली, मेथी व् अन्य हरी सब्जियां फोलिक एसिड, आयरन का बेहतरीन स्त्रोत होती है ऐसे में इनका सेवन करने से भी स्पर्म काउंट को बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • कद्दू के बीजों का सेवन करना भी फायदेमंद होता है।
  • बेहतर लाइफस्टाइल, संतुलित आहार, रोजाना व्यायाम, भरपूर नींद, तनाव से बचे रहना, आदि का अच्छे से ध्यान रखने से भी इस समस्या को दूर करने में मदद मिलती है।
  • अखरोट का सेवन करना भी इस समस्या को दूर करने का सबसे बेहतरीन विकल्प है।
  • नशीली चीजें, कैफीन युक्त पदार्थों के सेवन से बचें।
  • ज्यादा टाइट इनर वियर नहीं पहनें।
  • जेब में मोबाइल नहीं रखें, जाघों पर लैपटॉप रखकर काम नहीं करें, आदि।

तो यह हैं कुछ कारण जिनकी वजह से पुरुषों में स्पर्म की कमी देखने को मिलती है। इसके अलावा इस समस्या से बचने के लिए पुरुष को किन किन टिप्स का ध्यान रखना चाहिए यह भी आपको बताया गया है यदि आप इन बातों का ध्यान रखते हैं तो आपको इस परेशानी से बचे रहने में मदद मिलती है।

Causes of low sperm count

Leave A Reply

Your email address will not be published.