डिलीवरी के बाद क्या रूटीन होना चाहिए

0

आप सब यह तो जानते हैं की प्रेगनेंसी के दौरान महिला को कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। और उस दौरान सभी आपको यह भी कहते हैं की डिलीवरी के बाद आराम मिलेगा। लेकिन ऐसा नहीं है, बल्कि बच्चे के जन्म के बाद भी महिला के शरीर में बहुत से बदलाव होते हैं। महिला के शरीर में कमजोरी आ जाती है जिससे रिकवर होने में महिला को थोड़ा समय लगता है।

ऐसे में जिस तरह प्रेगनेंसी के दौरान अपने स्वास्थ्य को सही रखने के लिए महिला अपने रूटीन का अच्छे से ध्यान रखती है। वैसे ही डिलीवरी के बाद भी महिला को स्वस्थ रहने और जल्दी फिट होने के लिए एक रूटीन बनाना चाहिए। ताकि जल्द से जल्द महिला को फिट होने में मदद मिल सके। तो आइये अब जानते हैं की डिलीवरी के बाद महिला का क्या रूटीन होना चाहिए।

दूध व् लड्डू

डिलीवरी के बाद सुबह उठने के बाद फ्रैश होकर, ब्रश आदि करके आपको एक गिलास दूध व् एक ड्राई फ्रूट, गोंद, सौंठ आदि के लड्डू का सेवन करना चाहिए। यदि लड्डू नहीं है तो आप ब्रैड, बिस्कुट आदि का सेवन करें। इसे खाने से आपको एनर्जी मिलेगी।

उठने के एक घंटे अंदर करें नाश्ता

बच्चे के जन्म के बाद जब आप सुबह उठते हैं तो आपको उसके एक घंटे के अंदर नाश्ता कर लेना चाहिए। क्योंकि नाश्ता दिन का पहला आहार होता है। यदि आप अपना पहला मील समय से लेते हैं तो आपका रूटीन सेट हो जाता है। साथ ही दिन के पहले मील में जितना हो सके पोषक तत्वों से भरपूर चीजें शामिल करें ताकि आपको पूरा दिन एनर्जी से भरपूर रहने में मदद मिल सके।

मालिश करवाएं

आठ या नौ बजे तक नाश्ता करने के कम से कम एक से डेढ़ घंटे के गैप के बाद आपको मालिश करवानी चाहिए। मालिश करवाने से बॉडी को रिलैक्स महसूस होता है और शरीर में आई कमजोरी को दूर करने में मदद मिलती है। लेकिन यदि आप सिजेरियन डिलीवरी हुई है तो टांको के अच्छे से ठीक होने के बाद मालिश करवाएं।

फल आदि खाएं

मालिश करवाने के तुरंत बाद नहाएं नहीं बल्कि मालिश करवाने के आधे घंटे के बाद फल आदि खाएं। ताकि शरीर में एनर्जी बरकरार रहें। उसके बाद गुनगुने पानी से नहाएं ऐसा करने से आपको आराम महसूस होगा। नहाने के बाद थोड़ी देर आराम करें।

दोपहर का खाना खाएं

आराम करने के बाद जब आप उठें तो दोपहर का खाना खाएं। दोपहर के मील में आप सब्जियों, चावल, सलाद, सूप, आदि को शामिल करें। क्योंकि जितना हेल्दी आहार आप लेंगी उतना ही ज्यादा आपके शरीर को पोषक तत्व मिलेंगे और आपको जल्दी फिट होने में मदद मिलेगी। लेकिन ध्यान रखें की दोपहर के खाने में देरी न करें।

शाम को ले स्नैक्स

शाम को फिर से स्नैक्स के रूप में जरूर कुछ न कुछ खाएं, जैसे की फल, दलिया, ओट्स आदि का सेवन आप कर सकती है। थोड़े थोड़े समय के गैप पर आपको इसीलिए खाना चाहिए। ताकि आपको कमजोरी बिल्कुल भी महसूस न हो। और जितना ज्यादा आप अपने खान पान का अच्छे से ध्यान रखेंगी उतना जल्दी आपको फिट होने में मदद मिलेगी।

रात के खाने में रखें इन बातों का ध्यान

रात को सोने से दो घंटे पहले आपको अपने आहार का सेवन कर लेना चाहिए। साथ ही रात को खाने में ऐसी चीजों का सेवन करें जिन्हे पचाने में आपको दिक्कत न हो। क्योंकि यदि आप खाना खाते ही सो जाती हैं या फिर खाने में ऐसी चीजों का सेवन करती है जिन्हे पचाने में आपको दिक्कत होती है। तो इससे पाचन सम्बन्धी परेशानियां बढ़ने के साथ महिला को अच्छी नींद भी नहीं आती है। ऐसे में रात का खाना खाते समय इन बातों का ध्यान रखना चाहिए, और रात के खाने में ज्यादा देरी नहीं करनी चाहिए।

हल्दी दूध

रात को सोने से पहले हल्दी दूध पीना चाहिए। क्योंकि हल्दी दूध प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के साथ महिला के शरीर में दर्द आदि की परेशानी को दूर करने में भी मदद करता है। इसीलिए डिलीवरी के बाद महिला को जल्दी फिट होने के लिए हल्दी दूध का सेवन जरूर करना चाहिए।

गुनगुना पानी

ठंडा पानी पीने की बजाय डिलीवरी के बाद महिला को कोशिश करनी चाहिए की जब भी वो पानी पीएं। तो महिला पानी को गुनगुना करके पीएं। क्योंकि गुनगुना पानी पीने से बॉडी में मौजूद विषैले पदार्थों को बाहर निकालकर इम्युनिटी बढ़ाने में मदद मिलती है। साथ ही महिला को शरीर में दर्द से आराम भी महसूस होता है।

भरपूर आराम

केवल खाने या पीने का ध्यान रखने से ही डिलीवरी के बाद जल्दी फिट नहीं होती है। बल्कि जल्दी स्वस्थ होने के लिए महिला को भरपूर आराम भी करना चाहिए। और बच्चे के साथ एक ही बार में आपको पूरी नींद नहीं मिलती है ऐसे में जब भी बच्चा सो रहा हो तो आपको भी उसके साथ सो जाना चाहिए। ताकि आपको भरपूर आराम मिलें।

पेट के लिए बेल्ट का इस्तेमाल करें

डिलीवरी के बाद उठने, बैठने, लेटने में होने वाली परेशानी से बचने के लिए आपको पेट के लिए बेल्ट का इस्तेमाल करना चाहिए। इस बेल्ट का इस्तेमाल करने से न केवल डिलीवरी के उठने बैठने में आसानी होती है बल्कि आपको पेट को बाहर निकलने से रोकने में भी फायदा होता है।

तनाव नहीं लें

बच्चे के जन्म के बाद शारीरिक परेशानियों व् बच्चे की केयर को लेकर कुछ महिलाएं तनाव ले लेती है। लेकिन आपको तनाव नहीं लेना चाहिए क्योंकि तनाव लेने के कारण आपकी फिट होने में समय लग सकता है साथ ही बच्चा भी प्रभावित होता है। ऐसे में डिलीवरी के बाद जल्दी फिट होने के लिए आपको तनाव नहीं लेना चाहिए।

दवाइयां लें

डिलीवरी के बाद भी जल्दी फिट होने के लिए डॉक्टर्स कुछ विटामिन्स लेने की सलाह देते हैं। ऐसे में डिलीवरी के बाद आपको उन सभी विटामिन्स का समय से सेवन करना चाहिए ताकि आप जल्दी फिट हो सकें।

व्यायाम व् योगासन

डिलीवरी के तुरंत बाद तो नहीं लेकिन डिलीवरी के कुछ समय बाद आप धीरे धीरे व्यायाम व् योगासन भी कर सकती है। व्यायाम व् योगासन धीरे धीरे करके शुरू करना चाहिए। एक दम से आपको शरीर पर ज्यादा दबाव नहीं डालना चाहिए। क्योंकि इसके कारण आपको दिक्कत हो सकती है।

तो यह हैं डिलीवरी के बाद महिला के रूटीन से जुड़े कुछ टिप्स, यदि महिला डिलीवरी के बाद इन बातों का ध्यान रखती है तो ऐसा करने से महिला को जल्दी फिट होने में मदद मिलती है। साथ ही डिलीवरी के बाद भी बच्चे का विकास माँ पर ही निर्भर करता है। ऐसे में बच्चे के बेहतर विकास के लिए किसी भी तरह की लापरवाही न करें।