Ultimate magazine theme for WordPress.

डिलीवरी के बाद पति से मिलन कब सेफ होता है?

0

डिलीवरी के बाद महिला की फिटनेस

शिशु को जन्म देने के बाद महिला को केवल शिशु की ही नहीं बल्कि अपनी सेहत पर भी पूरा ध्यान देने की जरुरत होती है। क्योंकि शिशु के जन्म के बाद महिला का शरीर बहुत ही कमजोर हो जाता है, जिसके कारण कमजोरी, थकान, बॉडी में दर्द, तनाव, आदि जैसी परेशानियों का सामना महिला को करना पड़ सकता है। इसके अलावा महिला के शरीर को पूरी तरह फिट होने के लिए महिला को पूरे आराम के साथ बेहतर खान पान की सलाह भी दी जाती है। नोर्मल डिलीवरी होने वाली महिलाएं जहां डिलीवरी के बाद जल्दी फिट हो जाती है वहीँ सिजेरियन डिलीवरी वाली महिलाओं को उनसे ज्यादा समय लग सकता है। ऐसे में महिला को पूरी तरह फिट होने के लिए डिलीवरी के बाद अपनी सेहत का अच्छे से ध्यान रखने की जरुरत होती है।

डिलीवरी के बाद सम्बन्ध कब बनाएं?

बहुत सी महिलाओं के मन में यह सवाल आता है की डिलीवरी के बाद सम्बन्ध बनाना कब सेफ होता है। महिला ही नहीं बल्कि पुरुष भी इस बारे में जानना चाहते हैं की डिलीवरी के बाद कब वो अपने पार्टनर से मिलन कर सकते हैं। तो इसका कुछ हद तक जवाब तो महिला की बॉडी ही दे देती है, क्योंकि महिला डिलीवरी के बाद अपने आप को कब और कितना स्वस्थ महसूस कर रही है इसके बारे में तो महिला बता देती है। लेकिन डॉक्टर्स के अनुसार डिलीवरी के बाद सम्बन्ध कब बनाना सही होता है इस बारे में जानना भी जरुरी होता है।

नोर्मल डिलीवरी के बाद पति पत्नी कब करे मिलन

नोर्मल डिलीवरी के बाद महिला को फिट होने में कम समय लगता है लेकिन कुछ महिलाओं को नोर्मल डिलीवरी में भी कुछ टाँके आते हैं। ऐसे में महिला को कम से कम डेढ़ से दो महीने तक अपने पार्टनर के साथ मिलन करने से बचना चाहिए। ऐसा इसीलिए करना चाहिए क्योंकि नोर्मल पेल्विक एरिया की मांसपेशियों को फिट होने में थोड़ा समय लग सकता है, साथ ही गर्भाशय को भी अपनी स्थिति में आने में समय लग सकता है। साथ ही डिलीवरी के बाद महिला को पीरियड्स भी ज्यादा दिनों तक आते हैं। ऐसे में महिला पूरी तरह फिट हो सके और डिलीवरी के बाद सम्बन्ध बनाने पर आपको किसी भी तरह की परेशानी न हो इससे बचने के लिए कम से कम डेढ़ से दो महीने बाद सम्बन्ध बनाना चाहिए।

सिजेरियन डिलीवरी के बाद सम्बन्ध

नोर्मल डिलीवरी की अपेक्षा सिजेरियन डिलीवरी के बाद फिट होने में महिला को ज्यादा समय लग सकता है। क्योंकि सिजेरियन डिलीवरी के बाद महिला को लगने वाले टांको को ठीक होने में समय लग सकता है। साथ ही इन टांको के ठीक न होने से पहले महिला द्वारा की गई थोड़ी सी भी लापरवाही महिला के लिए परेशानी खड़ी कर सकती है। इसीलिए महिला को कम से कम ढाई से तीन महीने बाद अपने पार्टनर से दूरी बनाकर रखनी चाहिए। साथ ही डिलीवरी के बाद महिला के निचले हिस्से में सूखापन आने के कारण मिलन के दौरान आपको थोड़ी दिक्कत भी हो सकती है। ऐसे में घबराने की कोई बात नहीं होती है बल्कि धीरे धीरे सब पहले की तरह ठीक होने लग जाता है।

तो यह है डिलीवरी के बाद पार्टनर के साथ मिलन करने से जुड़े कुछ खास टिप्स, आप चाहे तो डिलीवरी के बाद सम्बन्ध कब बनाना चाहिए इसके लिए डॉक्टर से भी राय ले सकते है। साथ ही यदि डिलीवरी के बाद महिला को लगे की अभी वो सम्बन्ध बनाने के लिए पूरी तरह से तैयार नहीं है तो ऐसे में उन्हें सम्बन्ध बनाने से बचना चाहिए क्योंकि ऐसे सम्बन्ध बनाने से महिला तनाव से परेशान हो सकती है।