डिलीवरी के बाद मालिश क्यों जरुरी होती है

0

डिलीवरी के बाद मालिश क्यों जरुरी होती है, प्रसव के बाद मालिश के फ़ायदे, प्रसव के बाद मालिश क्यों करवानी चाहिए, डिलीवरी के बाद मालिश करवाने से यह फायदे मिलते हैं, Benefits of Body Massage after Delivery

डिलीवरी के बाद महिला के शरीर में बहुत से बदलाव आते हैं, जिसके कारण डिलीवरी के बाद महिला का वजन बढ़ना, स्किन में कसावट न रहना, शरीर के कई अंगो में दर्द की समस्या का होना, कमजोरी महसूस करना आदि समस्याएँ हो जाती है। ऐसे में महिला को इन परेशानियों से निजात दिलवाने के लिए और महिला को पूरी तरह फिट करने के लिए प्रसव के बाद मालिश जरूर करवानी चाहिए। नोर्मल डिलीवरी के होने पर जहां मालिश दूसरे या तीसरे दिन से करवा सकते हैं। वहीँ सिजेरियन डिलीवरी वाली महिलाओं को टांको के खुलने के बाद मालिश करवानी चाहिए। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की डिलीवरी के बाद मालिश क्यों करवानी चाहिए।

दर्द से आराम मिलता है

डिलीवरी के बड़ा शरीर में आई कमजोरी के कारण शरीर के दर्द आदि की समस्या होती है ऐसे में मालिश करने से आपकी बॉडी को बहुत जल्दी आराम मिलता है, और दर्द से निजात मिलने के बाद आप तरोताजा महसूस करती है। साथ ही डिलीवरी के बाद महिला को जल्दी रिकवर होने में मदद मिलती है।

मांसपेशियां मजबूत होती है

मालिश करवाने से बॉडी में मांसपेशियों को मजबूत होने में मदद मिलती है जिससे बॉडी में ऑक्सीजन का प्रवाह भी बेहतर तरीके से हो पाता है। और इसके कारण किडनी भी बेहतर तरीके से काम करने लगती है जिससे बॉडी में विषैले तत्वों को बाहर निकालने में भी मदद मिलती है।

कसाव आता है

प्रसव के बाद महिला की त्वचा में ढीलापन आ जाता है जिसके कारण स्किन ढलकने लगती है, और मालिश करवाने से स्किन में कसाव लाने में मदद मिलती है। जिससे महिला को डिलीवरी के बाद अपनी बॉडी को वापिस शेप में लाने में मदद मिलती है।

तनाव दूर करती है

डिलीवरी के बाद कई बारे महिलाएं बॉडी में आई कमजोरी और शिशु की परवरिश को लेकर मानसिक रूप से परेशानी होकर तनाव में रहने लगती है, और मालिश करवाने से न केवल उन्हें शारीरिक रूप से आराम मिलता है बल्कि उन्हें मानसिक रूप से भी फिट होने में मदद मिलती है। क्योंकि मालिश करने से ऐसे हॉर्मोन निकलते हैं जो आपके मूड को फ्रैश करने में मदद करते हैं।

स्तन में दूध की वृद्धि

मालिश करने से आॅक्सीटॉसिन हॉर्मोन बॉडी में निकलता है जो की शिशु के लिए ब्रेस्टफीड को बढ़ाने में मदद करता है। कई बार कुछ महिलाओं को स्तन में दूध नहीं आता है तो यह स्तन में होने वाली गांठों को खोलकर दूध की मात्रा को बढ़ाने में भी मदद करता है।

प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है

डिलीवरी के बाद शरीर काफी कमजोर हो जाता है जिसके कारण इन्फेक्शन आदि होने के खतरा भी बहुत अधिक होता है। ऐसे में मालिश करवाने से महिला की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ फायदे जो आपको डिलीवरी के बाद मालिश करवाने से मिलते हैं, ऐसे में डिलीवरी के बाद शिशु को महिला को फिट रखने के लिए मालिश जरूर करवानी चाहिए।

[Total: 1    Average: 5/5]