गर्भावस्था में ऐसे नहीं करें

गर्भावस्था में नहीं करें यह काम, प्रेगनेंसी महिला के लिए ऐसा समय होता है जहां महिला को छोटी से छोटी बात का अच्छे से ध्यान रखना पड़ता है। जैसे की प्रेगनेंसी के दौरान क्या खाना सही होता है, और किन चीजों का सेवन महिला को नहीं करना चाहिए। इसके अलावा प्रेगनेंसी के दौरान महिला क्या कर सकती है। और किन कामों को महिला को नहीं करना चाहिए। क्योंकि महिला यदि कोई ऐसा काम करती है जो महिला को नहीं करना चाहिए।

तो इसके कारण गर्भवती महिला को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। और उस लापरवाही का नकारात्मक असर शिशु पर भी पड़ सकता है। ऐसे में गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान इन परेशानियों से बचाव करने में मदद मिल सके। इसके लिए महिला को कुछ चीजों से प्रेगनेंसी के दौरान परहेज करना चाहिए। तो आइये अब जानते हैं की गर्भवती महिला को किन किन कामों को नहीं करना चाहिए।

खाने का ध्यान

  • प्रेग्नेंट महिला को अपने आहार के सेवन में किसी तरह की लापरवाही नहीं करनी चाहिए और समय से अपने भोजन का सेवन करना चाहिए।
  • खाने में ज्यादा गैप नहीं रखना चाहिए, हर दो से तीन घंटे के गैप में कुछ न कुछ जरूर खाना चाहिए।
  • खाना बनाने से पहले सब्जियों को अच्छे से धोने के बाद ही प्रयोग में लाएं।
  • फलों का सेवन भी बिना धोएं न करें।
  • कच्चा, अच्छे से न पका हुआ, बिना ढके हुए रखा भोजन, बासी भोजन प्रेग्नेंट महिला को नहीं करना चाहिए।
  • मीठे का सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके कारण गेस्टेशनल डाइबिटीज़, वजन बढ़ने जैसी समस्या हो सकती है।
  • नमक की मात्रा भी भोजन में न तो कम लेनी चाहिए और न ही बहुत ज्यादा लेनी चाहिए।
  • हो सके तो मौसम के अनुसार ही फलों व् सब्जियों का सेवन करें।

भारी सामान उठाना

  • गर्भवती महिला को भारी सामान उठाने या सरकाने से बचना चाहिए।
  • क्योंकि इसके कारण पेट पर जोर पड़ने के कारण महिला को ब्लीडिंग, पेट में दर्द या अन्य किसी दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।
  • इसके अलावा पैरों के भार बैठकर काम, झुककर काम आदि भी प्रेग्नेंट महिला को नहीं करने चाहिए।

गर्भावस्था में नहीं करें भागदौड़

  • प्रेग्नेंट महिला को ज्यादा बाहर आना जाना नहीं चाहिए यानी की ज्यादा भागादौड़ी नहीं करनी चाहिए।
  • यहां तक की प्रेग्नेंट महिला को सीढ़ियां चढ़ने से भी परहेज करना चाहिए।

व्यायाम

  • प्रेगनेंसी की पहली तिमाही में गर्भवती महिला को बिल्कुल भी व्यायाम नहीं करना चाहिए।
  • दूसरी तिमाही में प्रेग्नेंट महिला व्यायाम कर सकती है लेकिन इसके लिए एक बार डॉक्टर या जिम ट्रेनर से राय जरूर लेनी चाहिए।

केमिकल व् प्रदूषण

  • गर्भावस्था के दौरान महिला को ऐसा कोई काम नहीं करना चाहिए जिसमे केमिकल का इस्तेमाल होता है।
  • क्योंकि इसके कारण महिला के साथ शिशु को भी इन्फेक्शन का खतरा हो सकता है।
  • इसके अलावा महिला को प्रदूषण वाली जगह पर नहीं जाना चाहिए।
  • और न ही ज्यादा भीड़भाड़ व् शोरगुल वाले जगह पर जाना चाहिए क्योंकि इसके कारण शिशु का विकास प्रभावित हो सकता है।
  • घर में यदि कोई पालतू जानवर है तो उसके काम को करने से भी बचना चाहिए।
  • इसके अलावा यदि आप ऐसी किसी जगह पर जाते हैं या ऐसा कोई काम करते हैं तो मास्क और ग्लव्स का इस्तेमाल जरूर करें।

गर्भावस्था में नहीं करें यात्रा

  • गर्भावस्था के दौरान हो सके तो गर्भवती महिला को लम्बी यात्रा करने से भी बचना चाहिए।
  • क्योंकि यात्रा के दौरान किसी तरह का झटका आदि लगने के कारण महिला को दिक्कत हो सकती है।

यह नहीं पीएं

  • खाने के साथ प्रेग्नेंट महिला को पेय पदार्थों के सेवन के समय भी कुछ बातों का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए।
  • जैसे की गर्भवती महिला को चाय की तरह उबले हुए पानी का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अधिक मात्रा में कैफीन जैसे की चाय, कॉफ़ी आदि का सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए।
  • अल्कोहल, धूम्रपान न तो करना चाहिए और न ही ऐसी जगह पर खड़े रहना चाहिए जहां इसका सेवन कोई कर रहा हो।
  • डिब्बाबंद जूस, एनर्जी ड्रिंक, सोडा आदि का सेवन भी गर्भवती महिला को नहीं करना चाहिए।
  • घर में बने ताजे जूस का सेवन भी एक दिन में ज्यादा नहीं करना चाहिए।
  • क्योंकि जूस में शुगर की मात्रा अधिक हो सकती है।
  • जिसके कारण प्रेग्नेंट महिला को वजन बढ़ने, गेस्टेशनल डाइबिटीज़ का खतरा हो सकता है।
  • कच्चे दूध व् कच्चे दूध से बनी चीजों का सेवन भी प्रेग्नेंट महिला को नहीं करना चाहिए।

सोने का तरीका

  • प्रेग्नेंट महिला को नींद भरपूर मात्रा में लेनी चाहिए क्योंकि इससे महिला को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है।
  • लेकिन महिला को पेट के बल या एक ही पोजीशन में ज्यादा देर तक नहीं सोना चाहिए।
  • वजन बढ़ने के बाद महिला को पीठ के बल होकर भी नहीं सोना चाहिए।
  • क्योंकि इससे बॉडी में ब्लड फ्लो में रूकावट आ सकती है।

गर्भावस्था में नहीं लें तनाव

  • प्रेग्नेंट महिला को तनाव भी नहीं लेना चाहिए।
  • क्योंकि इसके कारण गर्भवती महिला की सेहत सम्बन्धी समस्या बढ़ने के साथ शिशु के विकास में भी समस्या आ सकती है।

डॉक्टर की राय

  • प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को अपनी समय से जांच करवानी नहीं भूलनी चाहिए।
  • समय पर सभी इंजेक्शन लगवाने चाहिए।
  • और कोई भी दिक्कत होने पर एक बार डॉक्टर से जरूर राय लेनी चाहिए।
  • प्रेग्नेंट महिला को डॉक्टर से बिना पूछें किसी भी तरह की दवाई का सेवन भी नहीं करना चाहिए।

तो यह हैं कुछ काम जो गर्भवती महिला को नहीं करने चाहिए। क्योंकि इनके कारण प्रेग्नेंट महिला व् शिशु दोनों पर गलत प्रभाव पड़ सकता है। ऐसे में इसके कारण किसी तरह की परेशानी न हो। इसीलिए प्रेग्नेंट महिला को इन बातों का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *