घाव ( जख्म ) को भरने के घरेलू उपाय

0

रोजाना काम करते हुए, कभी अचानक से, या किसी लापरवाही के कारण यदि आपको चोट लग जाती है, और वहां घाव हो जाता है, और इसके उपचार के लिए आप जितना जल्दी हो सकें डॉक्टर के पास जाते है, परन्तु डॉक्टर के पास जाने से पहले भी आपको उसके लिए कुछ करना चाहिए और देखना चाहिए की घाव कितना गहरा है, उसे अच्छे से साफ़ करना चाहिए, यदि उसके घरेलू उपचार करके इलाज़ हो सकता है, तो आपको घर पर ही उसके लिए कुछ करना चाहिए, यदि नहीं इसके बाद आपको ऐसा लगता है की वो ठीक नहीं हो रहा है तो आपको डॉक्टर के पास जाना चाहिए।

घाव बनने के कारण बहुत से हो सकते है, जैसे कभी चोट लगना,जलना, त्वचा के फटने के कारण, अधिक समय तक एक जगह दबाव पड़ने के कारण आपको घाव बन जाता है, और घाव बनने के पहले या तो आपको उस जगह से खून या मवाद निकलती है, त्वचा लाल होने लगती है, सूजन होने लगती है, कई बार तो तेजी से दर्द का अनुभव भी होता है, ऐसे में आपको घाव को अनदेखा किये बिना घर पर ही इसके लिए कुछ करना चाहिए, यदि आप घाव का समय से उपचार नहीं करते है, तो या तो ये फैलने लग जाता है, या इसके कारण आपको इन्फेक्शन के होने की समस्या होने लगती है, इसीलिए घाव के होने पर सबसे पहले आपको उसकी अच्छे से सफाई करनी चाहिए, इसके लिए आप घाव को ठन्डे पानी से धोएं, इसके कारण घाव पर बैक्टेरिया कम जमता है, इसके बाद आइये आज हम आपको कौन कौन से ऐसे घरेलु उपचार करने चाहिए जिससे आपको घाव को भरने में मदद मिल सकें आइये जानते है।

हल्दी का इस्तेमाल करें:-

uses of haldi

हल्दी में एंटी बायोटिक एंटीसेप्टिक गुण भरपूर मात्रा में होते है, और यह केवल आपके घाव को ही भरने में मदद नहीं करता है, बल्कि इसके इस्तेमाल से आपको इन्फेक्शन का खतरा भी कम होता है, इसके इस्तेमाल के लिए यदि आपको चोट लग जाने पर तेजी से खून बह रहा हो, तो थोड़ी सी हल्दी को उस जगह पर डाल दें, जहां चोट लगी है, इसके कारण खून आना बंद हो जायेगा, साथ ही घाव को भरने के लिए हल्दी में थोड़ा सा पानी मिलाकर एक लेप तैयार करें, और इस लेप को नियमित अपने घाव पर लगाएं, इसकी मदद से आपके घाव को तेजी से भरने में मदद मिलती है।

लहसुन का इस्तेमाल करें:-

लहसुन का इस्तेमाल घाव पर करने से आपके घाव को भरने के साथ, दर्द, और खून निकलने की समस्या से भी राहत पाने में मदद मिलती है, और इसका इस्तेमाल प्राकृतिक रूप से घाव का इलाज किया जाता है, इसके इस्तेमाल के लिए लहसुन की कुछ कलियों को निकाल कर अच्छे से पीस लें, और एक लेप तैयार करें, उसके बाद इस पेस्ट को घाव पर लगाएं, और पट्टी बाँध कर आधे घंटे के लिए छोड़ दें, उसके बाद पट्टी को उतार कर घाव को धो लें, और दिन में इस उपचार को कम से कम दो बार करें, इसकी मदद से आपको जल्द ही घाव को भरने में मदद मिलती है।

नीम का इस्तेमाल करें:-

neem

नीम के अंदर ऐसे फैटी एसिड पाएं जाये है, जो आपके घाव को सूखने में मदद करते है, इसके इस्तेमाल के लिए आप नीम के पत्तों को पीस कर उसका रस निकाल लें, उसके बाद इस रस में थोड़ी सी हल्दी मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें, उसके बाद इसे घाव पर लगाएं और कुछ देर के लिए छोड़ दें, और फिर इस घाव को गुनगुने पानी की मदद से साफ़ कर लें, और इस उपचार को जब तक करें जब तक की आपका घाव अच्छे से भर नहीं जाता है।

टी ट्री या लैवेंडर आयल का इस्तेमाल करें:-

टी ट्री आयल में भी एंटी फंगल गुण पाएं जाते है जो आपके घाव को तेजी से भरने में आपकी मदद करते है, इसके इस्तेमाल के लिए आप कॉटन पर टी ट्री आयल लगाकर अच्छे से अपने घाव पर लगाएं दिन में दो से तीन बार इस तरीके का इस्तेमाल करने से आपको अपने घाव को भरने में मदद मिलती है, इसके साथ यदि आप थोड़ा सा लैवेंडर का तेल और बादाम का तेल अच्छे से मिक्स करके भी दिन में अपने अपने घाव पर दो से तीन बार लगते है, तो भी आपको फायदा मिलती है।

एलोवेरा का इस्तेमाल करें:-

एलोवेरा में प्रचुर मात्रा में फाईटोकेमिकल्स पाएं जाते है जो न केवल आपके घाव को भरने में मदद करते है, बल्कि दर्द सूजन और खून बहने की समस्या से भी आपको राहत दिलवाने में मदद करते है, इसके इस्तेमाल के लिए आप एलोवेरा के पत्ते को तोड़ कर उसके जेल को अच्छे से अपने घाव पर लगाएं, और सूखने के लिए छोड़ दें, उसके बाद गुनगुने पानी से या गीले कपडे से इसे अच्छे से साफ़ करें, दिन में दो से तीन इस तरीके का इस्तेमाल करने से आपकी त्वचा की नमी को भी बनाएं रखने में मदद मिलती है।

शहद का इस्तेमाल करें:-

honey

शहद में एंटी बैक्टेरियल गुण अधिक मात्रा में होते है जो आपके घाव को भरने के साथ इन्फेक्शन से भी बचाते है यदि आपको कही घाव हो गया है तो आप शहद को अपने घाव पर लगाने के बाद उस जगह पर पट्टी बाँध दें, और थोड़ी देर के लिए छोड़ दें, उसके बाद गुनगुने पानी की मदद से अपने घाव को साफ़ कर लें, ऐसा करने से आपको घाव भरने के साथ यदि सूजन की समस्या है तो उससे भी राहत पाने में मदद मिलती है।

सिरके का इस्तेमाल करें:-

यदि आपकी किसी जगह पर काटने या छिलने के कारण घाव बन गया है, तो इससे बचने के लिए आप सिरके का इस्तेमाल कर सकते है, इसके प्रयोग से आपको जलन महसूस हो सकती है, परन्तु इसके इस्तेमाल से आपके घाव को तेजी से भरने में मदद मिलती है, इसके प्रयोग के लिए रुई में कुछ बुँदे सिरके की लगाएं, और उससे घाव की अच्छे से सफाई करें इस तरीके का इस्तेमाल दिन में दो से तीन बार इसपे को करने से आपको घाव को जल्दी भरने में मदद मिलती है।

घाव का इलाज करते समय ध्यान रखें ये बातें:-

  • घाव को कभी भी खुला न छोड़ें, जिस समय घाव पर पट्टी न हो उस समय किसी एंटी सेप्टिक दवाई का इस्तेमाल करें, इसके कारण आपको इन्फेक्शन से बचाव होता है।
  • घाव ठीक होने लगता है तो उस पर पपड़ी जमने लगती है, ऐसे में इस पपड़ी को आपको नहीं उतारना चाहिए बल्कि खुद उतरने देना चाहिए यदि आप उसे उतारते है तो घाव का निशान वहां रह जाता है।
  • घाव पर किसी भी ब्यूटी क्रीम या कॉस्मेटिक का इस्तेमाल न करें।
  • घाव को छूने और पट्टी को बदलने से पहले अपने हाथो को अच्छे से धो लें।
  • घाव को ज्यादा धूप में न रहने दे इससे भी घाव के निशान रह जाते है।
  • घाव को जितना हो सकें किसी कपडे से धक् कर रखें ताकि मक्खियां मच्छर न बैठे।
  • यदि आपको ऐसा लगे की घाव में कोई सुधार नहीं आ रहा है तो आपको तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

घाव जल्दी भरने के लिए खाएं ये आहार:-

  • दालें, सोयाबीन, और चने का सेवन भरपूर करें, क्योंकि इसमें प्रोटीन अधिक मात्रा में होता है।
  • जो लोग मास खाते है वो अंडे और मछली का सेवन करें, इससे उनको फायदा होता है।
  • विटामिस सी युक्त पदार्थ जैसे अनानास, निम्बू, संतरे, ब्रोकली आदि का सेवन करें इससे भी घाव को भरने में मदद मिलती है।
  • पानी का सेवन भरपूर मात्रा में करें, क्योंकि इसमें भी ऐसे मिनरल्स होते है जो आपके घाव को भरने में मदद करते है, साथ ही इसके कारण बॉडी में डिहाइड्रेशन की समस्या नहीं होती है।
  • विटामिन ए युक्त आहार जैसे दूध, पनीर गाजर, हरी सब्जियों का सेवन करने से भी आपको घाव को तेजी से भरने में मदद मिलती है।

तो ये कुछ उपचार है जिनका इस्तेमाल करके आपको घाव को भरने में मदद मिलती है, इसके अलावा आपको एक बात का और ध्यान रखना चाहिए यदि घाव गहरा हो या खून बहना बंद न हो रहा हो तो जितना जल्दी हो सकें आपको डॉक्टर के पास जाना चाहिए, और इस समस्या का समाधान करना चाहिए, ऐसा करने से आपको घाव को भरने और इसे अच्छे से ठीक करने में मदद मिलती है।