नाख़ून देखकर जानें की आपको क्या बिमारी है

पुराने समय में डॉक्टर्स कम ही होते थे सभी लोग हकीमो के पास जाते थे। और वह हकीम व्यक्ति की नब्ज़, आँखे, स्किन, नाखून आदि देखकर बता देते थे। की व्यक्ति को क्या समस्या है और उसी अनुसार उन्हें इलाज भी दिया करते थे। और व्यक्ति के नेल्स के रंग, टूटे व् रूखे नाख़ून, नाख़ून में दरारें आदि को देखकर बताया जाता था। की व्यक्ति को कौन सी शारीरिक परेशानी है। तो आइये आज हम आपको नाख़ून से जुडी कुछ ऐसी ही बातों के बारे में बताने जा रहे हैं। जिससे आप भी जान सकते हैं की कहीं आपको कोई शारीरिक दिक्कत तो नहीं है।

नेल्स का रंग

  • नेल्स के बदलते रंग को देखकर भी यह अंदाजा लगाया जा सकता है।
  • की व्यक्ति को कौन सी शारीरिक समस्या है।
  • और नाख़ून रंग पीला, नीला, भूरा आदि हो सकता है।
  • नाख़ून का बदलता हर रंग शरीर में होने वाली अलग समस्या का संकेत देता है।
  • जैसे की नाख़ून का रंग फीका पड़ना या नाख़ून में चमक न रहना और बेरंग होना बॉडी में पोषक तत्वों की कमी या इन्फेक्शन की समस्या का संकेत होता है।
  • नाख़ून का नीला या ग्रे सा रंग होना बॉडी में ऑक्सीजन का प्रवाह अच्छे से न होने का संकेत होता है।
  • पीले नेल्स पीलिया, फंगल इन्फेक्शन, सायरोसिस बिमारी आदि की और इशारा करते हैं।
  • लेकिन कई बार इसका कारण नेल्स पर बहुत अधिक नेल पोलिश का इस्तेमाल करना भी हो सकता है।
  • नेल्स का रंग भूरा या बहुत ज्यादा डार्क होना थायरॉयड या बॉडी में पोषक तत्वों की कमी के कारण हो सकते हैं।
  • नाख़ून का रंग लाल होना है ब्लड प्रैशर की समस्या की और इशारा कर सकता है।

रूखे नाख़ून

  • यदि आपके नाख़ून में चमक नहीं है।
  • नाख़ून रूखे व् कमजोर होने के साथ जल्दी टूट जाते हैं।
  • यह महिला या पुरुष के थायरॉयड जैसी समस्या से ग्रसित होने का संकेत होता है।
  • रूखे व् कमजोर नाख़ून होने का एक कारण फंगल इन्फेक्शन भी हो सकता है।

नेल्स का मोटा होना

  • कई बार आपने देखा होगा की कुछ लोगो के नाख़ून बहुत मोटे होते हैं जिन्हे काटने में भी दिक्कत हो सकती है।
  • और जिन लोगो के नेल्स ऐसे होते हैं उन्हें इसे अनदेखा नहीं करना चाहिए।
  • क्योंकि नेल्स का मोटा होना एक नहीं बल्कि कई बीमारियों का लक्षण होता है।
  • जैसे की नेल्स का मोटा होना डाइबिटीज़, फेफड़ों में इन्फेक्शन, आर्थ्राराइटिस आदि का लक्षण होता है।

घुमावदार नेल्स

  • जिन लोगो के नेल्स की शेप घुमानदार यानी की चम्मच के अगले हिस्से की तरह होती है।
  • उन लोगो को कोई न कोई अनुवांशिक रोग, लिवर सम्बन्धी समस्या, हाइपोक्रोमिक एनिमिया का संकेत देने वाली कॉइलोनाइचिया बिमारी भी हो सकती है।

नाख़ून पर सफ़ेद धब्बे

  • यदि किसी के नाखूनों पर सफ़ेद निशान या पूरे नाख़ून सफ़ेद हो जाते हैं।
  • तो यह सफ़ेद निशान व्यक्ति को लिवर या हदय सम्बन्धी समस्या होने के कारण हो सकते हैं।
  • इसके अलावा यदि आपके नेल्स के किनारे पर सफ़ेद रंग की लाइन दिखाई देती है।
  • तो यह व्यक्ति को तनाव, शरीर में पोषण की कमी, लिवर सम्बंधित समस्या होने के संकेत देती है।

तो यह हैं कुछ बीमारियां जो आप नेल्स में बदलाव को देखकर जान सकती हैं। और यदि आपको नाखून में कोई बदलाव नज़र आता है तो बिना देरी किये एक बार अपनी शारीरिक जांच करवानी चाहिए। ताकि यदि कोई भी दिक्कत हो तो उसका समय से इलाज हो सके। और आपको स्वस्थ रहने में मदद मिल सके।