Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

घर पर टैबलेट से अबॉरशन करने से क्या-क्या परेशानी होती है

0

घर पर टैबलेट से अबॉरशन करने से क्या-क्या परेशानी होती है, घर पर अबॉरशन करने से क्या दिक्कत होती है, अबॉरशन किट का इस्तेमाल करने से होने वाले नुकसान, घर पर अबॉरशन करने से आ सकती है यह दिक्कत

अनचाहे गर्भ को गिराने के लिए महिलाएं घर पर ही अबॉरशन किट यानि दवाई का इस्तेमाल करके गर्भ गिरा देती है। और दवाई का सेवन करने से आपको इससे निजात भी मिल जाता है लेकिन क्या आप जानती है की ऐसा करने से आपको कितनी परेशानी हो सकती है। जैसे की पेट में अधिक दर्द, कमजोरी, ब्लीडिंग, बुखार, आदि की समस्या हो सकती है। इसके अलावा घर पर अबॉरशन करने से आपको यह भी पता नहीं चलता है की गर्भाशय में से सभी टिश्यू साफ़ हुए भी हैं या नहीं, क्योंकि यदि कुछ टिश्यू रह जाते हैं तो यह आपके लिए परेशानी का कारण बन सकते हैं। यदि आप भी घर पर अबॉरशन करने का सोच रही है तो आइये हम आपको बताते हैं की आपको कौन कौन सी दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।

ज्यादा हो सकती है ब्लीडिंग

टैबलेट का इस्तेमाल करने के बाद जैसे ही आपको ब्लीडिंग होती है, तो यह सामान्य से काफी अधिक होती है, साथ ही इसमें आपको रक्त के थक्के भी महसूस हो सकते हैं। और ज्यादा ब्लीडिंग होने के कारण आपको और अधिक परेशानी भी हो सकती है।

उल्टी व् बुखार

यदि आप गर्भपात घर में करने के लिए टैबलेट का इस्तेमाल करते हैं तो बॉडी में तुरंत बदलाव होने शुरू होते हैं जिसके कारण आपको अधिक उल्टी व् तेज बुखार जैसी समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है।

पेट में दर्द

ब्लीडिंग होने के कारण और रक्त स्त्राव तेजी से होने के कारण आपको पेट, पीठ व् पेट के नीचले हिस्से में बहुत तेज दर्द की समस्या भी हो सकती है। और कई बार तो यह दर्द असहनीय भी हो सकता है।

कमजोरी महसूस होना

दवाई का सेवन करते ही बॉडी में तेजी से हार्मोनल बदलाव होने के कारण आपको बहुत ज्यादा कमजोरी व् थका थका सा महसूस हो सकता है। साथ ही खून ज्यादा आने के कारण शरीर में वैसे ही कमजोरी आ जाती है।

गर्भाशय से जुडी परेशानी

यदि आप टैबलेट का इस्तेमाल करके घर में गर्भपात करते हैं, तो आपको पता नहीं चलता है की भ्रूण के सभी टिश्यू निकले हैं या नहीं। और यदि अच्छे से सफाई नहीं हुई है तो बाद में इसके कारण आपको परेशानी हो सकती है, इसके कारण आपको पेट में अधिक दर्द रह सकता है, और बाद में यदि आप दुबारा प्रेग्नेंट होना चाहती है तो उस समय आपको समस्या हो सकती है, साथ ही इससे गर्भपात बार बार होने का खतरा भी रहता है।

तनाव होना

यदि महिला को बहुत ज्यादा दिक्कत होने लगती है, और उससे बॉडी में हो रहे हार्मोनल बदलाव सहन नहीं होते है, तो इसके कारण महिला को तनाव भी हो सकता है।

एक्टोपिक प्रेगनेंसी

गर्भपात के बाद कई बार महिलाओं को कई बार एक्टोपिक प्रेगनेंसी जैसी समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है। इस अवस्था में शिशु गर्भ की जगह फैलोपियन ट्यूब या कहीं और पनपने लगते हैं, जिसके कारण महिला को दुबारा से गर्भपात करवाना पड़ सकता है, ऐसे में महिला को सम्बन्ध बनाते समय सुरक्षा का इस्तेमाल करना चाहिए, ताकि अनचाहे गर्भ की समस्या न हो। और यदि कभी गर्भ ठहर भी जाता है तो इसके लिए घर पर टैबलेट लेने की बजाय डॉक्टर से राय लेनी चाहिए।

तो यह हैं कुछ परेशानियां जो आपको घर पर टैबलेट का इस्तेमाल करके अबॉरशन करने से हो सकती है। इसीलिए आपको कभी भी ऐसा नहीं करना चाहिए बल्कि अनचाहे गर्भ को गिराने के लिए डॉक्टर का परामर्श लेना चाहिए।

Leave a comment