Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

हेयर ट्रांसप्लांट के फ़ायदे और नुकसान

0

आज कल मेडिकल साइंस ने इतनी तरक्की कर ली है की हर चीज का समाधान उनके पास है, चाहे फिर वो आपकी ख़ूबसूरती को बढ़ाने के लिए सर्जरी की बात हो या फिर आपके गंजेपन को दूर करने के लिए हेयर ट्रांसप्लांट करवाने की, जिन लोगो के बाद झड़ जाते है, या उनकी ग्रोथ होती ही नहीं है,ऐसे लोग अपने गंजेपन से परेशान होकर तरह तरह की दवाइयों आदि का इस्तेमाल करने लगते है, तो उनके लिए मेडिकल साइंस ने हेयर ट्रांसप्लांट की सुविधा बनाई है, जिससे वो अपने बालों को घना बना सकते है, और गंजेपन को दूर करके अपनी पर्सनैलिटी को भी निखार सकते है।

इन्हें भी पढ़ें:- महिलाओ में गंजेपन की समस्या का इलाज

hair

ब लोगो के मन में ये सवाल भी आता है की क्या ये प्रक्रिया सुरक्षित है या नहीं तो इसका जवाब है की ये सुरक्षित है, परन्तु यदि इसे किसी अनुभवी डॉक्टर और अच्छी जगह से करवाया गया हो, लेकिन ये भी सच ही है की यदि किसी चीज के फायदे होते है, तो नुकसान भी होते है, इसीलिए एक तो ऐसी कामो में अपनी केयर बहुत अधिक करनी पड़ती है, इसके अलावा आपको कोई भी परेशानी हो तो अनदेखा किये बिना डॉक्टर को भी दिखाना चाहिए, तो आइये अब हम आपको बताते है की ये हेयर ट्रांसप्लांट कैसे किया जाता है, और इसके क्या फायदे और क्या नुकसान होते है।

कैसे की जाती है हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी:-

हेयर ट्रांसप्लांट के लिए एक डॉक्टर नहीं बल्कि पूरी टीम काम करती है, सबसे पहले इसमें डॉक्टर्स द्वारा आपकी त्वचा की साफ़ सफाई की जाती है, और उसके बाद जहां आपको ट्रांसप्लांट करना है उस जगह को इंजेक्शन के माध्यम से सुन्न कर दिया जाता है, उसके बाद डॉक्टर दो प्रक्रिया में इस ट्रांसप्लांट को करते हैं एक है यूनिट स्ट्रिप सर्जरी यानी ( एफ यू एस एस)और फोलिक्यूलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (एफ यू ई), यह प्रक्रिया कम से कम चार से छह घंटे तक चलती है और इसमें आपको एनेस्थेसिया इंजेक्शन देते है जिससे आपके सर में क्या हो रहा है इस बारे में आपको कुछ भी पता नहीं चलता है।

हेयर ट्रांसप्लांट करवाने के फायदे:-

गंजेपन का समाधान होता है:-

men hair fall

गंजेपन के कारण व्यक्ति अपना आत्मविश्वास कम होने लगता है, साथ ही इसके कारण कई बार उसे अपने दोस्तों के बीच में हास्य का विषय भी बनना पड़ता है, तो उनकी इस परेशानी के समाधान के लिए हेयर ट्रांसप्लांट एक अच्छा उपाय होता है, जिसके कारण उन्हें अपनी इस परेशानी से निजात पाकर उनकी पर्सनैलिटी में निखार लाने में मदद मिलती है।

आपकी लुक बेहतर बनती है:-

अच्छे और चमकदार बाल आपकी पर्सनैलिटी को बढ़ाने में आपकी मदद करते है, साथ ही यदि आपके बाल घने होते है तो इसके कारण आपके लुक को भी बेहतर बनने में मदद मिलती है, इसीलिए यदि आप भी अपने बालों से जुडी समस्या से परेशान है तो इसके समाधान के लिए यदि आप चाहे तो हेयर ट्रांसप्लांट का सहारा ले सकते है।

हेयर ट्रांसप्लांट से होने वाले नुकसान:-

रक्तस्त्राव और इन्फेक्शन हो सकता है:-

यदि आप किसी ऐसे सर्जन से हेयर ट्रांसप्लांट करवा रहे है तो कई बार कम जानकारी के कारण आपके स्कैल्प में से रक्तस्त्राव हो सकता है, इसके अलावा यदि आप अच्छी जगह से सर्जरी नहीं करवाते है या वो डॉक्टर आपको गंदे या पहले इस्तेमाल किये हुए उपकरण का इस्तेमाल करता है, तो इसके कारण आपको सर में इन्फेक्शन की समस्या भी हो सकती है।

बाल पतले होने लग जाते है:-

hair fall

कई बार ऐसा होता है की सर्जरी करवाने पर आपके कुछ बाल सही से नहीं लग पाते है, जिसके कारण बाद में वह कमजोर होकर झड़ने लग जाते है, और बाल पतले होने लगते है।

खुजली की समस्या हो जाती है:-

ट्रांप्लांट के बाद होने वाली खुजली की समस्या के कारण आपको परेशान होना पड़ सकता है, इसका कारण होता है की आपके सर में पपड़ी का जमना, जो की शैम्पू से बालों को धोने पर साफ़ हो जाती है, इसीलिए इससे बचने के लिए आपको अपने सर की साफ़ सफाई का ध्यान देना चाहिए और यदि खुजली अधिक हो तो इस बारे में डॉक्टर से भी राय जरूर लेनी चाहिए।

घाव भी हो जाते है:-

घाव की समस्या हर उस रोगी को नहीं होती है जो की हेयर ट्रांसप्लांट करवाते है, बल्कि यह समस्या उनको होती है जो सट्रिप प्‍लान्‍टेशन का सहारा लेते है, कई बार यह घाव भयंकर हो सकता है, खास कर जब आपका हेयर स्टाइल शार्ट होता है।

अल्सर की समस्या हो जाती है:-

यह समस्या जब हो जाती है जब आपके बालों की जड़ें डैमेज होने लगती है, और त्वचा एक दम से अंदर की और धंसने लगती है, यह एक पिम्पल के आकार का होता है, और इतना खतरनाक भी नहीं होता है, लेकिन आपको इसे इग्नोर न करते हुए डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए।

सूजन की समस्या हो जाती है:-

यह परेशानी भी हर किसी को नहीं होती है, जिनकी स्कैल्प की स्किन टोन खराब होती है उन्हें ये परेशानी हो सकती है, हालाँकि डॉक्टर से राय लेकर ये समस्या दूर की जा सकती है, परन्तु यदि सूजन ज्यादा हो तो यह आपके माथे पर भी साफ़ दिखाई देने लगती है।

रक्त का प्रवाह होने लगता है:-

वैसे तो हेयर ट्रांसप्लांट करवाते समय ब्लीडिंग नहीं होती है, परन्तु कुछ रोगियों के सर पर ज्यादा दबाव की वजह से ये समस्या हो सकती है, और यह आम बात होती है।

दर्द का अनुभव होता है:-

हेयर ट्रांसप्लांट के बाद दर्द का अनुभव होना आम बात होती है, और समय के साथ यह कम होता चला जाता है, इसीलिए इसे लेकर परेशान नहीं होना चाहिए।

इन्हें भी पढ़ें:- गंजेपन की समस्या का समाधान कैसे करे

सिर का सुन्न होना:-

hair 1

हेयर ट्रांसप्लांट के कुछ समय बाद तक आपका सर सुन्न रहता है और समय के साथ ठीक हो जाता है, परन्तु यदि ऐसा न हो तो इस बारे में आपको डॉक्टर को जरूर बताना चाहिए।

हेयर ट्रांसप्लांट करवाने से पहले ध्यान देने योग्य बातें:-

एक्सपर्ट की राय जरूर लें:-

हेयर ट्रांसप्लांट को कई लोग बहुत सस्ते में लेते है, लेकिन इसके बुरे प्रभाव को लेकर उन्हें बाद में परेशानी का अनुभव करना पड़ता है, इससे बचने के लिए आपको हेयर ट्रांसप्लांट करवाने से पहले एक अच्छे से सर्जन की राय लेनी चाहिए, ताकि आपको इसके बारे में अच्छे से पता चल सकें।

सभी एक्सपर्ट क्वालिफाइड नहीं होते हैं:-

आपको हर गली में ऐसे सलून मिल जाएंगे जो आपको इस तकनीक के बारे में राय देंगे, लेकिन यह एक दर्दनाक प्रक्रिया होने के साथ काफी महंगी भी होती हैं, तो इसीलिए इस काम में समझौता न करते हुए आपको इस बारे में किसी एक्सपर्ट के पास या सर्टिफाइड डर्मटालोजिस्ट से ही मिलना चाहिए।

विज्ञापनों पर ज्यादा ध्यान न दें:-

हेयर ट्रांसप्लांट के बारे में आप अखबार में या रोड पर लगे किसी पेम्पलेट में कम दाम देखकर बिलकुल भी उन पर भरोसा न करें, क्योंकि यह आपके लिए नुकसानदायक हो सकते है, क्योंकि हर सस्ती चीज बढ़िया हो ऐसा जरुरी नहीं होता है।

क्लिनिक की जांच पड़ताल करें:-

आपको इस प्रक्रिया को जहां पर करवाना है वह के बारे में अच्छे से जानकारी लें, और साथ ही वहां के डॉक्टर्स के बारे में जानकारी लें, और किसी ऐसे पेशेंट से मिले जो वहां पर हेयर ट्रांसप्लांट करवा चूका हो, ताकि आपको अच्छे से इस बारे में पता चल सकें।

तो ये है कुछ जानकारी हेयर ट्रांसप्लांट के बारे में, की यदि आप इसे करवाते है तो आपको इससे क्या क्या फायदा होता है, और क्या क्या नुकसान होता है, इसके अलावा आपको हेयर ट्रांसप्लांट करवाते समय किस किस चीज के बारे में अच्छे से जानकारी इक्कठा करनी चाहिए ताकि आपको कोई नुकसान न हो।

इन्हें भी पढ़ें:- गंजापन रोकने के प्राकृतिक उपाय

Leave a comment