दांत का दर्द ठीक करने के घरेलु इलाज

दांत का दर्द एक बहुत ही साधारण सी समस्या है, यह कभी भी किसी भी उम्र के इंसान को हो सकता है। दांत के दर्द में जब भी आप कुछ गर्म या ठंडा खाते है तो यह आपका दर्द और भी बढ़ जाता है। कई बार तो दांत का दर्द इतना बढ़ जाता है के पानी पीना भी मुश्किल हो जाता है। दांत का दर्द मुख्यतः दांतो की एनामेल नाम की परत हटने से होता है। यह परत हमारे दांतो की सुरक्षा परत होती है इसके हटते ही दांत बहुत सेंसिटिव हो जाते है। इसके अतिरिक्त दांतो की अच्छे से देखभाल ना करने से भी दांतो की दुर्दशा हो जाती है जैसे की समय पर ब्रश ना करना या फिर बहुत टाइट हाथो से ब्रश करना आदि।

आपके दांतो का दर्द जब हद से ज्यादा बढ़ जाए और आप जल्द से जल्द आराम चाहते है तो अपनाये यह आसान से घरेलु उपाय।

लहसुन

दांत दर्द को ठीक करने के लिए लहसुन एक बेहतरीन उपाय है। लहसुन एंटीबायोटिक गुणों से भरपूर है। लहसुन में एल्लीसिन नामक केमिकल मिलता है जो के बैक्टीरिया को कम करने के काम आता है। जब बैक्टीरिया कम होता है तब दर्द भी कम होता चला जाता है। जिस दांत में दर्द हो उसमे लहसुन को थोड़ा सा पीस कर लगा लें जैसे ही उसमे से एल्लीसिन निकलेगा धीरे धीरे दर्द कम हो जायेगा।

लोंग

लोंग और लोंग के तेल को प्राकृतक रूप से दांत के दर्द को खत्म करने के लिए जाना जाता है। लोंग को तब भी दांत के दर्द को ठीक करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है जब साइंस ने इसके गुणों की खोज भी नहीं की थी। लोंग एंटीक्सेप्टिक गुणों से भरपूर है। इसके यही गुण इन्फेक्शन को खत्म कर दर्द को भी ख़त्म करते है। लोंग को और इसके तेल को सीधा दांतो पर लगाने से कैविटी और कई तरह के दर्द से भी छुटकारा मिलता है। ध्यान रखिये एक बार में एक लोंग का ही इस्तेमाल करे और अगर इसके तेल का उपयोग कर रहे है तो 1 या 2 बुँदे ही लगाए। लोंग बहुत तेज मसाला होता है इसलिए जरुरत से ज्यादा इसका इस्तेमाल नुकसानदायक हो सकता है।

नमक और काली मिर्च

नमक और काली मिर्च को दांत के दर्द के लिए सदियों से इस्तेमाल किया जाता है। बराबर मात्रा में नमक और काली मिर्च ले और मिक्स करने के लिए कुछ पानी की बुँदे मिलाये। इस पेस्ट को आप अपने दांतो पर इस्तेमाल करे और कुछ देर तक लगाए रखे। इस उपाय से आपके दांत के दर्द में बहुत आराम मिलेगा।

अमरुद की पत्तियां

अमरुद के पेड़ की ताज़ी पत्तियां एंटीमाइक्रोबियल और एनाल्जेसिक गुणों से भरपूर है। इसके यही गुण दांत के दर्द को ठीक करने के काम आता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए अमरुद की पत्तियों को दांतो से चबाये जब तक दर्द में आराम न मिले तब तक आराम आराम से पत्तियों को चबाये। इसके अतिरिक्त पत्तियों को पानी में उबाल कर अच्छे से पानी को छान और इस पानी से गरारे करे।

ग्रीन टी

ग्रीन टी बहुत ही सेहतमंद होती है और साथ ही दांतो के दर्द को ठीक करने में बहुत ही कारागार होती है। ग्रीन टी की पत्तियां ठंडी तासीर की होती है। ग्रीन टी एसिड टैनिक, कैटेचिन और फ्लोरल गुणों का स्रोत है। इसके उपयोग से दांतो को मजबूती भी मिलती है। ग्रीन टी की ताज़ी पत्तियों को धो कर चबा लें। इस उपाय को दिन में 2 से 3 बार इस्तेमाल कर सकते है।

खीरा

दांत के दर्द के लिए खीरा बहुत ही ही लाभदायक होता है। इसकी तासीर ठंडी होती है और यह मसूड़ों के जख्मो को ठीक करने के बहुत काम आता है। ताजे खीरे के छोटे छोटे टुकड़े कर इसका सेवन करें यह आपको जख्मो को धीरे धीरे ठीक कर देगा। ध्यान रखियें फ्रीज़ में रखे हुए खीरे का इस्तेमाल न करे।

बेकिंग सोडा

सभी जानते है के आजकल बेकिंग सोडा का इस्तेमाल बालों, त्वचा और सेहत के लिए किया जाता है। आपको यह जानकार हैरानी होगी की बेकिंग सोडा को दांत के दर्द को ठीक करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। एक कॉटन को पानी में भीगो कर कॉटन में बेकिंग सोडा लगाए और जिस दांत में दर्द हो लगाए। आप चाहें तो बराबर मात्रा में गर्म पानी और बेकिंग सोडा मिलाये और इस मिक्सचर का माउथ वाश की तरह इस्तेमाल करें।

गर्म पानी और नमक

सभी उपाय में सबसे आसान तरीका है गर्म पानी और नमक का इस्तेमाल। एक ग्लास गर्म पानी में दो छोटी चम्मच नमक मिलाये। अब इस मिश्रण को माउथ वाश की तरह इस्तेमाल करते हुए गरारे करें। यह उपाय दांत को दर्द को खत्म करने का सबसे बेहतरीन और सस्ता उपाय है। इस उपयोग से दांतो की सेंस्टिविटी भी कम होती है। इसके इस्तेमाल से दांतो और मसूड़ों की सूजन में भी आराम मिलता है।

कच्चा प्याज

प्याज में एंटीसेप्टिक और एंटीमाइक्रोबियल गुणों की भरपूर मात्रा पायी जाती है। यह दांत के दर्द को नियंत्रण करने के बहुत काम आता है। कैविटी और कीटाणुओं के कारण होने वाले दांतो के दर्द में प्याज का इस्तेमाल से छुटकारा पाया जा सकता है। दर्द को कम करने के लिए कच्चे प्याज को कुछ देर तक चबाये।

हल्दी

दांत के दर्द को ठीक करने के लिए हल्दी ओर शहद को बराबर मात्रा में मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें। आप इस पेस्ट को दर्द वाले दांत पर लगाए। हल्दी किसी भी प्रकार के बैक्टीरिया को खत्म करके दर्द करने के काम आता है। हल्दी और शहद दोनों ही सेप्टिक को ठीक करते है।

आलू

आलू में बहुत से नुट्रिएंट्स तत्व पाए जाते है। आलू का इस्तेमाल अच्छी सेहत के लिए तो किया ही जाता है और साथ ही आप इसका इस्तेमाल दांत के दर्द को भी खत्म करने के लिए कर सकते है। इसका इस्तेमाल करने के लिए आलू को छोटे छोटे टुकड़ो में काटे और थोड़ा सा नमक लगाकर चबाये। इसके प्रयोग से आपको दांत के दर्द बहुत ही आराम मिलेगा।

इनमे से कोई भी उपाय आप अपनी सुविधा के अनुसार अपना सकते है पर फिर भी अगर आपको आराम ना मिले तो ज्यादा देर ना करे अपने डॉक्टर से जरूर मिले।