Lifestyle, Pregnancy, Health, Fitness, Gharelu Upay, Ayurveda, Beauty Tips Online News Magazine in Hindi

दस्त (Loose Motion) की समस्या से बचने के घरेलू उपाय

दस्त एक ऐसी समस्या है जो यदि किसी को हो जाये तो उठने, बैठने, में दिक्कत होने के साथ बार बार बाथरूम में जाकर व्यक्ति परेशान हो जाता है। साथ ही दस्त होने के साथ ही कुछ खाने का मन नहीं करता है क्योंकि खाने के तुरंत बाद ही बाथरूम में जाना पड़ता है।

-- Advertisement --

इसके अलावा बार बार बाथरूम जाने से शरीर में कमजोरी, पानी की कमी, आदि की समस्या हो जाती है। उसके बाद यदि इस समस्या का जल्द से जल्द समाधान नहीं किया जाये तो हॉस्पिटल जाने तक की नौबत आ सकती है। ऐसे में जल्द से जल्द इस समस्या का समाधान होना जरुरी है ताकि आपको ज्यादा दिक्कत नहीं हो।

लूज मोशन होने के कारण

  • जंक फ़ूड का अधिक सेवन करने के कारण यह समस्या हो सकती है।
  • ज्यादा मसालेदार तेलीय खाना खाने के कारण भी यह दिक्कत होने का खतरा बढ़ जाता है।
  • बासी, खराब, अच्छे से न पका हुआ, खाना खाने के कारण भी यह समस्या हो सकती है।
  • शरीर में गर्मी बढ़ जाने के कारण भी यह परेशानी हो सकती है।
  • गन्दा पानी पीने के कारण भी यह दिक्कत हो सकती है।

लूज मोशन होने के कारण क्या- क्या दिक्कत हो सकती है?

  • दस्त होने के साथ उल्टियां भी लग सकती है।
  • बार बार बाथरूम जाने के कारण थकान व् कमजोरी अधिक हो जाती है।
  • पेट में दर्द, ऐंठन, मरोड़े उठना आदि की समस्या भी हो जाती है।
  • दस्त होने की वजह से कई बार रोगी को बुखार तक आ जाता है।

दस्त की समस्या से बचने के घरेलू उपाय

अधिकतर छोटी छोटी शारीरिक समस्याओं का समाधान आपको आपके घर की रसोई में ही मिल जाता है। और यह घरेलू नुस्खे आसान होने के साथ असरदार भी होते हैं और आपको जल्दी से जल्दी आपकी समस्या से बचाने में मदद करते हैं। तो आइये अब इस आर्टिकल में जानते हैं की दस्त की समस्या से बचे रहने के लिए आप कौन- कौन से घरेलू नुस्खे ट्राई कर सकते हैं।

केला

केले का सेवन करने से दस्त की समस्या को दूर करने में मदद करते हैं क्योंकि केले में पोटैशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। और पोटैशियम शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी को पूरा करता है। जिससे दस्त को कण्ट्रोल करने व् दस्त के कारण शरीर में होने वाली कमी को भी पूरा करते हैं।

निम्बू का रस

दस्त की समस्या होने पर दो तीन बार एक कप पानी में थोड़ा नमक और निम्बू का रस मिलाकर पीएं इससे भी दस्त की समस्या को कण्ट्रोल करने में मदद मिलती है। साथ ही यदि दस्त की वजह से पेट में दर्द होता है तो उससे बचे रहने में भी मदद मिलती है।

जीरे का पानी

रसोई घर में मौजूद जीरे का इस्तेमाल करने से भी दस्त की समस्या से बचे रहने में मदद मिल सकती है। इसके लिए आप एक लीटर पानी में एक चम्मच जीरा डालकर अच्छे से उबाल लें और पानी को तब तक उबालें जब तक यह आधा नहीं रह जाएँ। उसके बाद इस पानी को छानकर ठंडा करें और इसका सेवन करें। आप दिन में तीन चार बार इस पानी को पीएं आपको जरूर फ़र्क़ महसूस होगा।

नमक चीनी का घोल

दस्त की समस्या को दूर करने के लिए एक गिलास पानी में थोड़ा नमक और थोड़ी चीनी मिलाकर एक घोल बनाएं। उसके बाद इस पानी को घर एक से दो घंटे में ताजा बनाकर पीते रहें ऐसा करने से आपको लूज मोशन की समस्या से बचे रहने के साथ शरीर में आई कमजोरी को दूर करने में भी मदद मिलेगी। आप चाहे तो नमक चीनी के साथ थोड़ा निम्बू का रस भी मिला सकते हैं।

नारियल पानी

जी हाँ, नारियल पानी का सेवन करने से भी दस्त की समस्या से निजात पाने में मदद मिल सकती है। क्योंकि नारियल पानी में पोटैशियम, सोडियम जैसे इलेक्ट्रोलाइट्स होते हैं। जो शरीर के इलेक्ट्रोलाइट संतुलन को बनाए रखने में मदद करते हैं जिससे दस्त में आराम मिलता है। साथ ही दस्त के कारण होने वाली डीहाइड्रेशन की समस्या से बचने के लिए भी नारियल पानी मदद करता है। लेकिन ध्यान रखें की ताजा नारियल पानी मगाकर ही पीएं।

धनिया

एक चम्मच धनिया के बीजों को एक लीटर पानी में उबाल लें और जब तक इसे उबालते रहें जब तक की पानी आधा न रह जाए। उसके बाद इस पानी को छानकर ठंडा होने के लिए रख दें फिर थोड़ा थोड़ा करके इसे थोड़ी थोड़ी देर में पीते रहें। ऐसा करने से भी दस्त की समस्या में आराम मिलता है।

अनार के पत्ते पीसकर पीएं

यदि आपके घर के आस पास अनार का पेड़ है तो उसके पांच से पत्ते लाकर पीस लें अब इन पत्तों के मिश्रण को पानी में मिलाएं। अच्छे से मिक्स होने के बाद इसका सेवन करें ऐसा करने से दस्त की समस्या से राहत पाने में मदद मिलती है।

चावल का पानी

तीन चार चम्मच चावल को एक गिलास पानी में भिगोकर रख दें और एक घंटे बाद उस पानी को छान लें। पानी को छान लेने के बाद उसमे थोड़ी सी मिश्री मिलाएं और उसका सेवन करें। ऐसा करने से भी दस्त में आराम मिलता है।

सौंठ और अजवाइन

सौंठ और अजवाइन को बराबर मात्रा में पीसकर एक चूर्ण बनाएं और दिन में दो तीन बार उस चूर्ण को गुनगुने पानी के साथ लेकर उसका सेवन करें। ऐसा करने से भी लूज मोशन में आराम मिलता है। आप चाहे तो अजवाइन और अदरक को साथ में पीसकर उसका सेवन भी कर सकते हैं लेकिन हर बार थोड़ा सा ताजा अदरक पीसें ताकि जल्दी फायदा मिल सकें।

इलायची

पांच छह इलायची को दो से तीन गिलास पानी में मिलाकर तब तक उबालें जब तक की पानी आधा न रह जाएँ फिर इसे छान लें। अब इस पानी का तीन से चार बार सेवन करें। ऐसा करने से भी आपको दस्त में आराम पाने में मदद मिलती है।

कच्चा पपीता

पांच छह कच्चे पपीते के टुकड़ों को काट लें उसके बाद इसे पानी में उबाल लें। पानी में उबालने के बाद आप इसका सेवन करें ऐसा करने से भी आपको दस्त की समस्या से आराम मिलता है। ध्यान रखें की पका पपीता नहीं खाएं इससे आपकी समस्या बढ़ सकती है।

दही का सेवन करें

दही में एंटी बैक्टेरियल गुण मौजूद होते हैं ऐसे में दस्त की समस्या से बचे रहने के लिए आप दही का सेवन भी कर सकते हैं। दही के फायदे को बढ़ाने के लिए आप इसमें काली मिर्च, काला नमक आदि डालकर इसका सेवन करें।

अदरक का पाउडर

एक गिलास दूध में आधा चम्मच अदरक का पाउडर डालकर उबाल लें, उसके बाद गुनगुना रहने पर सिप सिप करके इस दूध को पीएं। ऐसा करने से भी दस्त की समस्या से आराम मिलता है क्योंकि अदरक में एंटी बैक्टेरियल, एंटी फंगल गुण मौजूद होते हैं। साथ ही इस दूध को पीने से दस्त के दौरान होने वाली पेट दर्द की समस्या से बचने में भी मदद मिलती है।

पानी उबालकर पीएं

दस्त लगने का कारण कई बार पानी भी होता है ऐसे में दस्त लगने पर इस बात का ध्यान रखें की आप फ़िल्टर किये हुए पानी को भी अच्छे से उबाल लें। उसके बाद ठंडा होने पर पानी का सेवन करें और ध्यान रखें की शरीर में पानी की कमी नहीं होने दें।

दस्त लगने पर क्या खाना चाहिए?

खिचड़ी, दलिया का सेवन करना फायदेमंद होता है क्योंकि दस्त होने पर पाचन क्रिया कमजोर हो जाती है और यह खाना हल्का होता है जिसे पचाने में कोई दिक्कत नहीं होती है। इसके अलावा आप चाहे तो सब्जियां उबालकर भी उसका सेवन कर सकते हैं साथ ही ब्रेड को दूध में डालकर उसे भी खा सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें दस्त की समस्या ठीक होने के दो चार दिन बाद तक भी आपको ऐसा ही खाना खाना चाहिए ताकि पाचन क्रिया पूरी तरह से ठीक हो सकें।

तो यह हैं कुछ उपाय जिन्हे ट्राई करने से दस्त की समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है। इसके अलावा यदि आपको दस्त बहुत ज्यादा हो रहे हैं और उसके साथ उल्टी, बुखार आदि की समस्या भी अधिक है तो आपको इसे अनदेखा न करते हुए तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए। ताकि डॉक्टर आपको दवाई देकर इस समस्या का समाधान कर सकें।

Home remedies to get rid of loose motion

Leave a comment