फर्स्ट ट्राई में ऐसे हो प्रेग्नेंट

अधिकतर लोग ऐसा ही समझते हैं की एक ही बार सम्बन्ध बनाने से महिला प्रेग्नेंट हो जाती है। जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं है क्योंकि गर्भाधारण के लिए बहुत सी बातों का ध्यान रखना बहुत जरुरी होता है। और कोई महिला यदि प्रेग्नेंट होने के लिए सभी जरुरी बातों का ध्यान रखती है और महिला में माँ बनने के सभी जरुरी लक्षण होते हैं तो वो महिलाएं एक ही बार में गर्भाधारण कर सकती है। क्या आप भी माँ बनने का प्रयास कर रही है और चाहती है की एक ट्राई में ही आपका गर्भ ठहर जाएँ, तो आइये आज हम इस आर्टिकल में आपको कुछ ऐसे आसान टिप्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो एक ही ट्राई में आपका गर्भाधारण करने में मदद करते हैं।

डॉक्टर से करवाएं जांच

यदि आप चाहती हैं की आप फर्स्ट ट्राई में ही गर्भाधारण कर लें तो आपको इसके लिए सबसे पहले आपको अपनी सभी शारीरिक जांच करवानी चाहिए, यदि आपके पीरियड्स अनियमित है तो उसका इलाज करवाना चाहिए, कोई शारीरिक बीमारी है तो उसका इलाज करवाना चाहिए, आदि। केवल महिला को ही नहीं बल्कि पुरुष को भी अपनी सभी जांच करवानी चाहिए। क्योंकि यदि दोनों पूरी तरह स्वस्थ होते हैं तो इससे जल्दी गर्भाधारण होने के चांस बढ़ जाते हैं।

सही ओवुलेशन पीरियड का पता करें

ओवुलेशन पीरियड वो समय होता जब महिला के गर्भाधारण के चांस सबसे अधिक होते हैं। ऐसे में पहली ही बार में माँ बनने के लिए आपको अपने सही ओवुलेशन पीरियड पीरियड को जानना चाहिए और यदि आपको इसका पता नहीं है तो आपको ओवुलेशन किट का इस्तेमाल करने, डॉक्टर की मदद से अपने सही ओवुलेशन पीरियड को जानना चाहिए। यदि आप सही ओवुलेशन पीरियड में अच्छे से सम्बन्ध बनाते हैं तो गर्भाधारण होने के चांस बढ़ते हैं।

वजन नियंत्रित रखें

माँ बनने के लिए बॉडी में हार्मोनल बैलेंस होना बहुत जरुरी होता है इसके लिए महिला को अपने वजन को नियंत्रित रखना बहुत जरुरी होता है। ऐसे में यदि आप पहली ही बार में माँ बनना चाहती है तो इसके लिए आपको न तो अपने वजह को ज्यादा होने देना चाहिए, न ही कम होने देना चाहिए। साथ ही माँ बनने के लिए सही उम्र का ध्यान रखना भी जरुरी होता है और माँ बनने की सबसे सही उम्र बाइस से अठाइस वर्ष तक की होती है।

अपनी डाइट में पोषक तत्वों की मात्रा को बढ़ाएं

यदि आप जल्दी गर्भाधारण के लिए सोच रही है तो इसके लिए आपका शारीरिक रूप से भी फिट होना जरुरी होता है। और इसके लिए आपको अपनी डाइट में पोषक तत्वों की मात्रा को बढ़ाना चाहिए जैसे की फोलेट, आयरन, कैल्शियम, प्रोटीन युक्त आहार को अपनी डाइट का हिस्सा बनाना चाहिए।

मानसिक रूप से रहे फिट

एक ही बार में गर्भाधारण के लिए केवल शारीरिक रूप से ही नहीं बल्कि महिला को मानसिक रूप से भी फिट होना चाहिए, जैसे की तनाव नहीं लेना चाहिए और खुश रहना चाहिए। खासकर जब आप जल्द गर्भाधारण के लिए सम्बन्ध बनाते है तो आपको बिल्कुल भी तनाव नहीं लेना चाहिए और खुश होकर अपने पार्टनर के साथ रहना चाहिए इससे भी जल्द गर्भाधारण के चांस बढ़ते हैं।

किसी रोमांटिक जगह पर घूमने जाएँ

जिस तरह शादी के बाद रिलैक्स होकर आप अपने पार्टनर के साथ घूमने के लिए हनीमून पर जाते हैं। उसी तरह बेबी प्लान करने पर भी आपको एक ही बार में गर्भाधारण के लिए अपने पार्टनर को किसी रोमांटिक जगह पर जाना चाहिए। क्योंकि वहां को परेशान करने वाला कोई नहीं होता है, आप दोनों एक दूसरे के साथ खुलकर एन्जॉय करते हैं, तनाव नहीं होता है जिससे बेहतर तरीके सम्बन्ध बनते हैं। और महिला का गर्भ ठहरने में आसानी होती है।

नशे से दूर रहें

महिला व् पुरुष दोनों को ही नशे के सेवन से परहेज करना चाहिए, क्योंकि नशा प्रजनन क्षमता पर बहुत बुरा असर डालता है। जिससे महिला के गर्भाधारण में समस्या हो सकती है। ऐसे में यदि महिला गर्भाधारण करना चाहती है तो दोनों पार्टनर्स को हर तरह के नशे के सेवन से परहेज करना चाहिए।

किसी भी ऐसी चीज का इस्तेमाल न करें जो आपकी प्रेगनेंसी में रूकावट बने

यदि आप माँ बनने का सोच रही हैं तो आपको गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करना छोड़ देना चाहिए, सम्बन्ध बनाते समय किसी भी तरह की सुरक्षा का इस्तेमाल करना चाहिए। यदि आप इन सभी बातों का ध्यान रखती है तो इससे पहली ही बार में माँ बनने के चांस बढ़ाने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ टिप्स जिनका ध्यान आपको पहली ही बार में माँ बनने के लिए रखना चाहिए। यह सभी टिप्स गर्भाधारण को आसान बनाने में बहुत मददगार होते हैं। साथ ही यदि आपके और आपके पार्टनर के बीच सम्बन्ध बन गया है और आपको उम्मीद है की आपका गर्भाधारण हो जायेगा, तो उसके बाद आप अपनी सेहत के प्रति किसी भी तरह की लापरवाही न बरते। क्योंकि हो सकता है की निषेचन हो गया हो लेकिन आपके द्वारा बरती गए लापरवाही के कारण आपको नेगेटिव परिणाम का सामना करना पड़े। ऐसे में अगले पीरियड्स की डेट आने तक आपको बहुत ज्यादा सावधानी बरतनी चाहिए।