कैसे पाये रूखी और बेजान त्वचा से मुक्ति ?

How to Take Care of Dry Skin, Home Remedies to Care of Dry Skin हमेशा से ही हमारी त्वचा को हमारी पहचान माना जाता है, जिसमे विशेषकर चेहरे की त्वचा को प्राथमिकता दी जाती है. इसलिए हमारी त्वचा को स्वस्थ होना पहले से अति महत्वपूर्ण होता जा रहा है. ऐसे में हमारी त्वचा का ड्राई होना ठीक बात नहीं है. आज कल के दौर में नवयुवक से लेकर व्यस्क तक सभी अपनी त्वचा को अच्छा, सुन्दर व् नार्मल बनाना चाहते है. क्योकि ज्यादातर लोगो में ड्राई स्किन की शिकायत पायी जाती है, ये न केवल आपके चेहरे को रुख बनाती है अपितु उसे अनाकर्षक भी बनाती है. इसलिए इस तरह की स्किन से छुटकारा पाना बहुत आवश्यक है.
ड्राई स्किन से छुटकारा पाने के लिए कई लोग कास्मेटिक का प्रयोग करते है जो हमारी स्किन के लिए हानिकारक सिद्ध होते है. क्योकि इन कास्मेटिक में विशेष प्रकार के केमिकल मिलाय जाते है जो त्वचा को हानि पंहुचा सकते है. इसके पश्चात सबसे बड़ा प्रश्न ये उठता है की यदि कास्मेटिक का प्रयोग न करे तो क्या करे ? इसका जवाब है हमारे घरेलु उपचार. जी हां, हमारे घर में मौजूद वस्तुयों के द्वारा भी हम अपनी रूखी त्वचा को सामान्य त्वचा में परिवर्तित कर सकते है. आवश्यकता है तो बस उन्हें आजमाने की.
इनमे सबसे महत्वपूर्ण क्लींजिंग और फेशियल है क्योकि ये त्वचा के भीतर जाकर उसमे से डेड स्किन सेल्स को बहार निकाल देते है. ये हमारी त्वचा को साफ़ करने के साथ साथ उसे पोषित भी करते है. क्लींजिंग करने से हमारे चेहरे की सफाई होती है और मृत त्वचा निकल जाती है जिससे त्वचा में नमी आ जाती है. जो लोग एक्ने अर्थात पिंपल्स की समस्या से जूज रहे है उन्हें भी क्लींजिंग करना चाहिए.
क्लींजिंग तो आप घर पर स्वयं कर सकते है परन्तु ध्यान रहे फेशियल हमेशा एक्सपर्ट्स से ही करवाना चाहिए क्योकि इसे करने का एक विशेष तरीका होता है और यदि आप इस तरीके को फॉलो नहीं करते है तो आपके चेहरे को इसके दुष्परिणामों को भी झेलना पड़ सकता है. तो जानते है ड्राई स्किन से छुटकारा पाने के उपाय !

विधि : 1 रूखी त्वचा के लिए अपनाए को कुछ रूटीन :

Skin1. हलके गर्म पानी से त्वचा को धोए :- गर्म पानी आपकी त्वचा को और रुखा बना सकता है. इसलिए त्वचा धोने से पूर्व पानी को हल्का गर्म कर ले जिससे उसका तापमान का प्रभाव आपकी त्वचा पर न पड़े.
चेहरा धोने से पूर्व पानी को हल्का गर्म कर लें पर ध्यान रहे पानी ज्यादा गर्म न होने पाये. गर्मी एक प्राकृतिक एक्सफ़ोलीएटर होती है, इसलिए इसका प्रयोग तभी किया जाना चाहिए जब आप अपनी त्वचा की मृत कोशिकाओं को अतिरिक्त तेल को निकाल देना चाहते हो तो.
यदि आपको अपने चेहरे पर गर्म पानी का उपयोग करना आवश्यक हो तो गर्म पानी के बाद जल्दी से उसे ठन्डे पानी से धो लें. ऐसा करने से गर्मी ज्यादा समय तक आपके चेहरे पर नहीं रहेगी. इसी प्रकार गर्मियों के दिनों में जितना हो सके अपने चेहरे को ठंडे पनि से धोना चाहिए ताकि आपकी त्वचा पर ज्यादा समय तक धूल मिटटी, पसीना और गर्मी न रह सके.

Skin 22. केवल फेशियल क्लीन्ज़र (mild facial cleansers) का प्रयोग करें :- नहाने के लिए प्रयोग किये जाने वाले साबुन आपके चेहरे की त्वचा के लिए बहुत कठोर होते है और आपकी त्वचा को और रुखा बना सकते है. इसलिए आपकी ऐसे क्लीन्ज़र का प्रयोग करना चाहिए जो केवल चेहरे के लिए बने हों.
मार्किट में ऐसे बहुत से सोप-बेस्ड क्लीन्ज़र्स उपलब्ध है जिनमें सोडियम लॉरिल सलफेट (sodium lauryl sulfate) होता हैं, जो त्वचा से नमी को चुरा लेने वाला एक जाना माना सर्फैक्टन्ट (surfactant) है. इसलिए रूखी त्वचा के लिए नॉन-सोप क्लीन्ज़र्स और बिना झाग वाले (non-sudsy) क्लीन्ज़र्स ज्यादा सुरक्षित होते हैं.
त्वचा को साफ़ करने के लिए ऐसे क्लीन्ज़र्स से बचना चाहिए जिनमे खुशबू मिलाई गई हों, क्योंकि इनमें किसी न किसी रूप में अल्कोहल का उपयोग किया जाता है, जो एक एस्ट्रिंजेंट होता है और आपकी त्वचा को गंभीर रूप से सूखा बना सकता है.
सेरेमाइड्स (ceramides) युक्त क्लीन्ज़र का प्रयोग करे, यह त्वचा की बाहरी परत पर पाया जाने वाला एक फैटी मॉलिक्यूल होता है. सिंथेटिक मॉलिक्यूल आपकी त्वचा में ज्यादा नमी को बनाए रखने में सहायता करता है.

Skin 33. त्वचा को थपकी देकर सुखाये :- त्वचा को रूखेपन से बचाने के लिए जितना हो सके उसे रगड़े नहीं. क्योकि ज्यादातर देखा जाता है की जल्दी जल्दी में हम अपने चेहरे को धोते है और उसे सुखाने के लिए रगड़ते है जो ठीक नहीं है, इसके स्थान पर आप कोमल और मुलायम टॉवल का प्रयोग कर अपने चेहरे को सुख सकते है. लेकिन ध्याना रहे सूखने के लिए उसे रगड़े नहीं बल्कि हल्के हाथो से थपथपा कर सुखाये. हो सके तो अपने चेहरे पर जलन उत्पन्न करने वाले कारकों से बचें और चेहरे को 20 सेकंड या उससे अधिक समय तक थपकी देकर सुखना चाहिए. चेहरे को पोछने के लिए हमेशा मुलायम कपडे का प्रयोफ करे और सुनिश्चित करे की यह ऐसे फाइबर से बना हो जो पानी को सोख लेता हो.
अपने चेहरे पूर्णतः सुखना नहीं चाहिए और उसे थोड़ा से गीला रहने दिया जाना चाहिए ताकि चेहरे में नमी बनी रहे. लेकिन याद रहे यदि आप किसी प्रकार की क्रीम का प्रयोग करने वाले है तो चेहरे को 100 % तक सुखना चाहिए जिससे पानी और क्रीम एक साथ mix न हो.

Skin 44. चेहरे को धोने के बाद मॉइस्चराइजर लगाएं :- चेहरे को ड्राइनेस से बचाने के लिए सबसे अच्छा उपाय है उसे नमी देते रहना अर्थात चेहरा धोने के पश्चात हमेश मॉइस्चराइजिंग लोशन या क्रीम लगाई जानी चाहिए. इस समय आपकी त्वचा थोड़ी नम रहनी चाहिए, क्योकि गीली त्वचा पर मॉइस्चराइजर लगाने से त्वचा ज्यादा देर तक नमी को बनाए रख पाएगी.
यदि आप जानना चाहते की की किस प्रकार के मॉइस्चराइजिंग क्रीम या लोशन का प्रयोग किया जाए तो सुनिए. आप एक ऐसा मॉइस्चराइजर ढूढ़े जिसमे शिया बटर (shea butter), सेरमाइड्स (ceramides), स्टीयरिक एसिड (stearic acid), या ग्लिसरीन (glycerin) इंग्रेडियेंट की सूची में सम्मिलित हों. क्योकि इस तरह के मॉइस्चराइजर आपकी त्वचा पर उस बाहरी सुरक्षा परत को बनाने में सहायता करते हैं जो नमी को अंदर बनाए रखने के लिए जिम्मेदार होती है.

Skin 55. चेहरे पर दूध का प्रयोग करे :- सुनने में थोड़ा अटपटा है लेकिन ये सत्य है की दूध प्राकृतिक क्लीन्ज़र और प्राकृतिक मॉइस्चराइजर है. क्योकि दूध में पाये जाने वाला lactic एसिड एक प्रकार का प्राकृतक और सौम्य क्लीन्जर है. ये आपकी त्वचा की लालिमा को कम कर उसमे से मृत कोशिकाओं को निकालता है. दूध में पाये जाने वाले लिपिड्स आपकी त्वचा को अतिरक्त नमी प्रदान करते है. जिससे त्वचा नमीयुक्त, पुष्ट और मुलायम दिखाई देती है. ध्यान रहे स्किम्ड मिल्क ज्यादा नमी नहीं दे पाते, इसलिए फुल क्रीम दूध को ही प्रयोग में लाना चाहिए. यदि आपके ऐसा लगता है की आपका नियमित प्रयोग किया जाने वाला मॉइस्चराइजर आपकी त्वचा के लिए रफ है तो उसका प्रयोग बंद करके दूध का प्रयोग करें. याद रहे दूध मेक उप को निकाल नहीं सकता इसलिए दूध लगाने से पूर्व चेहरे से मेक उप पूरी तरह हटा दें.

Skin 66. एलोवेरा मास्क लगाए :- एलो वेरा का पौध बहुत गुणकारी होता है खासकर त्वचा के लिए. इस पौधे में ऐसे गुण पाये है जो लाल, जलन भरी त्वचा से रहत दिला सकते है और रूखी त्वचा की नमी लौटा सकते है. इसको प्रयोग में लाने के लिए आप अपने घर में एलो वेरा का पौधा लगाए. इसकी एक पट्टी तोड़कर उसे काट लें और उसमे से निकलने वाले रस को हलके हाथो से अपने चेहरे पर मल लें. इस लेप को लगभग 15 मिनट तक चहरे पर लगा रहने दें. इस मास्क का प्रयोग हफ्ते में एक बार अवश्य करें.

Skin 77. मसाज :- अपने चेहरे को 10 मिनट तक हल्के हाथ से मसाज दीजिए। स्ट्रोक्स लय में होना चाहिए। इससे चेहरे की मांसपेशियां शिथिल हो जाती हैं और रक्त की आपूर्ति अच्छी होने लगती है। इससे एजिंग प्रोसेस धीमी पड़ जाती है और झुर्रियां कम हो जाती हैं।
चेहरे पर मसाज करें :- चेहरे के रूखेपन से निजात पाने के लिए मसाज एक ने उपाय है जिसके प्रयोग से अच्छे परिणाम प्राप्त होते है. इसके लिए 10 मिनट तक हलके हाथो से अपने चेहरे पर मसाज करें, लेकिन स्ट्रोक्स लय में होना चाहिए. इसे चेहरे की मांसपेशिया शिथिल हो जाती है और रक्त की गति अच्छी होने लगती है. इसका प्रयोग करने से एजिंग प्रोसेस धीमा पड़ जाता है और झुर्रियां कम होने लगती है. मसाज के पाश्चात फेसमास्क का प्रयोग अवश्य करना चाहिए. ऐसे तो बाजार में कई तरह के फेसमास्क उपलब्ध है लेकिन आप इन्हे घर पर भी आसानी से बना सकते है.
घर पर बनाए क्लीन्जर :

– खोपरे का दूध न सिर्फ त्वचा का सूखापन कम करेगा बल्कि डॉर्क स्पाट्स और झाइयों को भी कम करेगा.
– दूध की क्रीम या वेजिटेबल कुकिंग ऑइल से चेहरे की सफाई की जा सकती है.
– एक चौथाई खीरा ककड़ी, 2 चम्मच दही, और 2 चम्मच पका हुआ ओटमील मिलाकर भी सफाई कर सकते है.

Skin 88. घर पर ही बनाए स्क्रब्स :

– थोड़ा गेहूं का आटा लें और इसमें दूध की मलाई तथा गुलाबजल मिला लें. इसके बाद इसे घोंटकर पैक की तरह कर बना लें. अच्छी तरह से मिलाने के बाद इसे चेहरे की त्वचा पर रगड़कर लगाएं. इससे चेहरे की त्वचा से मृत त्वचा बाहर निकल जाएगी और चेहरा साफ़ हो जायेगा.
– मूली को कस लें और चेहरे पर थोड़ी देर के लिए फैला कर रख लें. यह एक माइल्ड ब्लीचिंग एजेंट है. इससे त्वचा निखर उठेगी.

9. घरेलू मॉइस्चराईजर बनाएं व् लगाए :

– दूध की मलाई एक बहुत अच्छा मॉइस्चराईजर है. इसमें नींबू के रस की चंद बूंदें मिला लें और त्वचा पर लगाए. इससे त्वचा में नमी लौट आएगी.
– दही चेहरे की त्वचा की देखभाल करने वाला एक प्रमुख रसायन है. यह त्वचा की नमी लौटाता है, इसकी एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लामेटरी प्रॉपर्टीज त्वचा को चिकनी बनाने का कार्य करती है.
– शहद एक बेहतरीन स्किन मॉइस्चराईजर है. इसे लगाकर थोड़ी देर चेहरे पर रहने दें, बाद में धो लें. त्वचा का रंग निखर उठेगा.
-एलो वेरा के पल्प को चेहरे पर 20 मिनट तक लगाकर रखने के बाद में धो लें.
– नींबू की चंद बूंदों में ग्लीसरीन मिलकार लगा लें। यह भी एक अच्छा एक्सफोलिएटिव है।
– पका हुआ ओटमील, शहद और केले का पल्प मिलाकर चेहरे पर लगाएं। यह सूखी त्वचा के लिए वरदान है.

Skin 910. त्वचा को सूर्य की किरणों से बचाएं :- हमारी त्वचा के लिए सबसे हानिकारक तत्व सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों होती है. जिनके कारन चेहरे पर मुँहासे, पिंपल्स, झुर्रिया, आँखों के निचे डार्क सर्कल्स और एजिंग लाइंस बन जाती है. ऐसे में अपनी त्वचा को इन किरणों से बचाना अति आवश्यक है. इसलिए जितना हो सके धुप में कम निकले. लेकिन आज कल के भाग दौड़ भरे जीवन में न चाहते हुए भी हमें धुप में निकलना ही पड़ता है. परेशान न हो, यदि बाहर जाना आवश्यक हो तो सनस्क्रीन (SPF 30) loshan या क्रीम लगाकर बाहर जाए. और अपनी त्वचा को ढक कर रखे, धुप में पूरी बाजु के कपडे पहन कर जाये जिससे आपके हाथो की त्वचा को धुप से किसी भी प्रकार की हानि न हो.

Title : How to Take Care of Dry Skin, Home Remedies to Care of Dry Skin, Rukhi twacha se mukti, rukhi twacha se mukti paane ke gharelu upchaar , paayen rukhi aur bejaan twacha se mukti, paaye nikhri twacha, Twacha ki dekhbhal

Leave a comment