Take a fresh look at your lifestyle.

जलने पर क्या लगाएं जिससे तुरंत आराम मिले!

1

जलने पर क्या करें जिससे आराम मिलें  :- लड़कियां हो या लड़के सभी खाने के बेहद शौक़ीन होते है जिसके लिए वे क्या कुछ नहीं करते। कभी बाहर से खाना आर्डर करते है तो कभी खुद ही रसोई में जाकर कारिस्तानी करने लगते है। लेकिन कई बार ध्यान चुकने और लापरवाही के कारण छोटी मोटी समस्या हो जाती है जैसे हाथ पर तेल की छीट गिर जाना या किसी बर्तन से हाथ जल जाना आदि।

वैसे तो ये परेशानिया कुछ देर या कुछ दिन तक ही परेशान करती है और बाद में ठीक हो जाती है लेकिन कई बार ये बेहद तकलीफदेह और दुखदाई हो जाती है। जिसके कारण ग्रसित व्यक्ति खाना बनाना आदि जैसे कार्यो से डरने लगता है। लेकिन क्या आपको लगता है की छोटी सी चोट के कारण किसी चीज से मुँह मोड़ लेना ठीक है? निश्चित रूप से नहीं! यदि आपके साथ कभी ऐसे समस्या होती है तो आप उसका इलाज करें और अगली बार पुरे ध्यान और सतर्कता से काम करें। आप अपने कार्य में सफलता अवश्य पाएंगे।

सामान्य तौर पर जलना बहुत आम बात है लेकिन कई बार ध्यान न देने के कारण ये एक पीड़ादायक जख्म का रूप ले लेता है। ऐसे तो अधिकतर जख्म छोटी-मोटी देखरेख से ठीक हो जाते है परंतु गंभीर परिस्थियों में इनका इलाज करना आवश्यक होता है। क्योकि इस तरह से घावों से संक्रमण का ख़तरा बढ़ जाता है।

यदि आप भी किसी कारण से जल जाते है तो तुरंत उसका उपचार करें अन्यथा समस्या अति गंभीर हो सकती है। ऐसे तो सभी लोगो को जलने के बाद किये जाने वाले प्राथमिक उपचारों के बारे में पता होता है लेकिन कुछ लोगो को इसकी जानकारी नहीं होती जिस कारण वे अपने घाव के साथ जीते रहते है। इसीलिए आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे है जिन्हें आजमाकर आप प्राथमिक चिकित्सा कर सकते है। लेकिन हां, एक बात ध्यान रखे यदि समस्या बड़ी है और गंभीर है तो उसके लिए डॉक्टरी इलाज करवाये और उस घाव की अतिरिक्त देखभाल करें।

जलने पर किये जाने वाले प्राथमिक घरेलु उपचार :tamatar

टमाटर :-

इसमें मौजूद तत्व जले हुए स्थान को आराम देने में मदद करते है। यदि आप भी छोटे मोटे कारण से जल गए है तो जले हुए भाग पर टमाटर की एक स्लाइस को काटकर प्रभावित स्थान पर लगाएं। टमाटर के सूखने तक उसे घाव पर लगाते रहे। अप्प घाव कुछ ही दिनों में सामान्य हो जायेगा। इससे घाव में होने वाले दर्द में भी कमी आएगी।

टूथपेस्ट :-

जलने पर किये जाने वाला सबसे पहला घरेलु उपचार है टूथपेस्ट। अपने भी अक्सर अपने घर में देखा होगा की जब भी मम्मी का हाथ जल जाता है तो वो उस जगह टूथपेस्ट लगा लेती है। क्योकि इसमें मौजूद गुण त्वचा को ठंडक देकर जलन कम करके दर्द में राहत देते है। इसके लिए जले हुए स्थान पर सफ़ेद टूथपेस्ट लगाएं और उसके सूखने का इंतजार करें। बाद में ठन्डे पानी से साफ़ कर लें। आवश्यकता हो तो आप इसका प्रयोग दिन में 2 से 3 बार कर सकते है। यकीन मानिये ये उपाय आपको तुरंत आराम देने में मदद करेगा।

एलोवेरा :-

ये एक प्राकृतिक घरेलु उत्पाद है जिसका प्रयोग करके आप अपनी समस्या से राहत पा सकते है। इसके लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है। यदि आपके घर में एलोवेरा का पौधा है तो उसके पत्ते को काटकर उसके गूदे को जले हुए स्थान पर लगाएं। ये आपको तुरंत राहत देने में बेहद फायदेमंद सिद्ध होगा। इससे घाव में होने वाली जलन और पीड़ा भी कम हो जाती है।

बर्फ़ :-

कुछ लोगों को मानना है की जले पर सबसे पहले बर्फ़ का प्रयोग करना चाहिए। जबकि कुछ के नज़रिये में बर्फ़ का प्रयोग करना ठीक नहीं। क्योकि इससे जले हुए स्थान पर फफोले पड़ने की आशंका बढ़ जाती है।
ऐसे तो जलने पर बर्फ़ से अच्छा उपाय कोई और नहीं है लेकिन कई बार छोटी सी चीज भी नुकसानदेह हो सकती है। इसीलिए आप अपनी सूझ बुझ के अनुसार ही इसका प्रयोग करें। अगर नहीं तो अपने आस-पास रहने वाले किसी डॉक्टर की सलाह लें।

पेट्रोलियम जेली :-

सामान्य कारणों से वजह से जलने या किसी छोटे भाग के Jalne पर आप पेट्रोलियम जेली का भी प्रयोग कर सकते है। अक्सर घाव भरने और ठीक होने के दौरान उनमे बहुत तेज़ खुजली होती है जिसके कारण उसमे दर्द की संभावना भी बनी रहती है। यदि ऐसे कोई समस्या आपके घाव में भी हो रही है तो आप उसके लिए पेट्रोलियम जेली का प्रयोग कर सकते है। ये घाव से खुक्ली उत्पन्न करने वाले बैक्टीरिया को ख़त्म करने में मददगार है।

बेकिंग सोडा :-

त्वचा के Jalne पर बेकिंग सोडा का भी बहुत प्रयोग किया जाता है। इसके प्रयोग से जलने पर होने वाले दर्द में राहत मिलती है और उसमे फफोले नहीं पड़ते। इसके लिए बेकिंग सोडा को पानी में मिलकर गाढ़ा पेस्ट बनाकर उसे घाव पर लगाएं। आराम मिलेगा।

नारियल तेल और नींबू का रस :-

गर्म पानी या भाप के कारण Jalne पर नींबू के रस और नारियल तेल के मिस्रह्ण को लगाने से लाभ मिलता है। नारियल तेल और नींबू का रस लगाने से घाव जल्दी भरता है हालाँकि इसमें थोड़ा दर्द होगा लेकिन फायदा अवश्य मिलेगा। नारियल तेल स्किन के इन्फेक्शन को खत्म करता है जबकि नींबू का रस घाव के निशान को दूर करने में लाभकारी है।milk-for-skin

दूध :-

इसमें पाए जाने वाले वसा की अधिक मात्रा किसी भी त्वचा संक्रमण में मददगार होती है। ये त्वचा की किसी भी समस्या के लिए बेहद लाभकारी होता है। इसके लिए हल्दी और दूध को मिलाकर पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट को जले हुए स्थान पर अच्छे से लगा लें। इससे घाव में आराम तो मिलेगा ही साथ-साथ उसका निशान भी नहीं रहेगा।

सिरका :-

जलने पर सिरका भी प्रयोग में लाया जा सकता है। इसके लिए सिरके को थोड़े से पानी में डाल दें। अब किसी कपडे को उस पानी में भिगो लें और उसे जले हुए भाग पर रखे। इस प्रक्रिया को 5 से 6 बार अवश्य आजमाए आपको लाभ मिलेगा।

शहद :-

शहद एक बहुत ही लाभकारी प्राकृतिक औषधि है। जलने पर इसका प्रयोग करने के लिए कच्चे शहद के लेप को जले हुए भाग पर लगाए। दर्द में राहत मिलेगी और जलन भी कम होगी।

आग से जलने पर किये जाने वाले अन्य उपाय :-

  • नमक में पानी डालकर एक गाढ़ा पेस्ट बना लें और इस पेस्ट को जले हुए भाग पर लगाएं। ऐसा करने से जले हुए स्थान पर छाले नहीं पड़ते और घाव जल्दी ठीक होता है।
  • जले हुए स्थान पर तुरंत कटे हुए आलू को लगाने से उसमे फफोले नहीं पड़ते।
  • हाथ या पैर के किसी भाग के Jalne पर उसपर प्याज का रस लगाएं। इससे घाव में जलन नहीं होगी और आराम मिलेगा।
  • जले हुए भाग पर गीले आटे को लगाने से उसमे जलन नहीं होती और छाले भी नहीं पड़ते।
  • त्वचा के किसी छोटे भाग के जलने पर सरसो के तेल का प्रयोग करे। लाभ मिलेगा।
  • गाय के शुद्ध घी को जले हुए स्थान पर लगाने से जलन में राहत मिलती है।
  • जलने के कारण हुए घाव पर तुरंत अरबी को पीसकर लगाएं। जली हुई त्वचा सामान्य हो जाएगी।
  • जली हुई त्वचा को ठीक करने के लिए आप हल्दी को पानी में मिलाकर उसके पेस्ट को घाव पर बार-बार लगाए।
  • ग्लिसरीन लगाने से त्वचा पर छाले, फफोले और दर्द नहीं होता।
  • Jalne पर कच्चे केले को पीसकर लगाने से भी आराम मिलता है।
  • गर्म पानी के कारण जलने पर तिल को पीसकर उसके लेप को घाव पर लगाने से फायदा मिलता है।

तो आज अपने जाना की जलने पर प्राथमिक चिकित्सा किस प्रकार करें। यदि आप भी इस तरह से समस्या से ग्रस्त है तो आप इसका प्रयोग कर सकते है। लेकिन एक बात का ध्यान रखे, की यदि समस्या अति गंभीर है अर्थात third degree burn है तो डॉक्टरी इलाज बेहद आवश्यक है। अगर समस्या मामूली है तो आप ऊपर बताये गए उपायो का आसानी से प्रयोग कर सकते है।

जलने पर क्या करें, जलने पर क्या लगाएं जिससे तुरंत आराम मिले, जलने पर उपचार, जलने पर क्या करना चाहिए, जलने पर घरेलु उपचार, जलने पर इलाज कैसे करें

1 Comment
  1. Kailash koli says

    m kailash koli meri patni sunita koli left side se face doodh se jal gay h face pr nisaan h nisaan mitene k liye kys lagaye

Leave A Reply

Your email address will not be published.