कान दर्द दूर करने के उपाय

kaan me dard ke upay, kaan me dard ke gharelu nuskhe, कान दर्द होने के कारण, कान में दर्द क्यों होता है, कान दर्द की समस्या, कान में दर्द के घरेलू उपचार, Ear pain remedies, कान दर्द दूर करने के उपाय, कान दर्द का इलाज, कान दर्द के कारण लक्षण और उपाय, kan dard ka ilaj, क्यों कान दर्द होता है

0

Ear Pain Remedies In Hindi : दर्द चाहे पेट में हो या सिर में शरीर में हो या पैर में परेशानी एक समान ही होती है। दर्द के कारण व्यक्ति ना तो ठीक से खा-पी पाता है और ना ही आराम कर पाता है। ऐसे तो दवा खाकर इन दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है लेकिन कुछ दर्द ऐसे भी होते है जिनमे दवा खाकर भी आराम नहीं मिलता और कान का दर्द उन्ही में से एक है।

कान दर्द की समस्या अक्सर छोटे बच्चों को होती है। इसके अलावा कान का बहना, कान का बंद होना सुनाई नहीं पड़ना आदि कुछ ऐसी सामान्य समस्याएं है जिनसे बच्चे ही नहीं अपितु बड़े भी परेशान रहते है। कान को भी मनुष्य के शरीर का नाजुक हिस्सा माना जाता है क्योंकि भले ही बाहर से यह सख्त दिखाई पड़ता है लेकिन अंदर से यह मुलायम और काफी नाजुक होता है। इसलिए इससे जुडी किसी भी समस्या में लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए फिर चाहे वो दर्द ही क्यों का हो?

वैसे तो कान में दर्द होना कोई बड़ी बिमारी नहीं है लेकिन कई बार समय पर इलाज नहीं करवाने की वजह से छोटी समस्या ही बड़ी बन जाती है। इसलिए यहाँ हम आपको कान दर्द होने के कारण और उपाय बता रहे है। ताकि सही समस्या का सही ट्रीटमेंट करवाया जा सके और समस्या से छुटकारा पाया जा सके।

कान दर्द के कारण :-

किसी भी समस्या का इलाज करने से पूर्व उसके कारणों को जान लेना आवश्यक होता है ताकि भविष्य में उस समस्या के दोबारा होने से बचा जा सके। उसके अलावा सही ट्रीटमेंट लेने के लिए भी समस्या के सही कारण का पता होना जरुरी होता है। यहाँ हम आपको उन्ही के बारे में बता रहे है –कान दर्द

  • सर्दी जुखाम के कारण।
  • कान में पानी चले जाने की वजह से भी कान दर्द होने लगता है।
  • कान में मैल जमने के कारण।
  • इंफेक्शन या एलर्जी की वजह से।
  • किसी बारीक चीज से कान में खुजली करने के कारण।
  • कान की ठीक तरह से सफाई नहीं करने के कारण।

कान के रोगों के क्या लक्षण होते है?

  • कम सुनाई देना
  • कान में बार-बार खुजली होना।
  • बार-बार कान का सुन्न होना।
  • लगातार कान में दर्द रहना।
  • कान में भारीपन महसूस होना।
  • अपनी ही आवाज नहीं सुन पाना (उस कान से जिसमे तकलीफ हो)।

अगर किसी को ऊपर बताई गयी समस्याएं हो रही है तो समझ लें की वह व्यक्ति कान से जुड़े रोग से परेशान है। इस स्थिति में तुरंत डॉक्टर के पास जाए और अपना इलाज कराएं।

कान दर्द के घरेलू उपाय

1. तुलसी के पत्ते :

तुलसी के पत्तों में बहुत से गुण पाए जाते है। कान दर्द होने पर तुलसी के पत्तों को पीस लें। अब इस रस की कुछ बुँदे कान में डालें। इसका इस्तेमाल दिन में 2-3 बार करने से कान का इंफेक्शन और दर्द दूर हो जाएगा। कान में जख्म होने पर भी इस उपाय का इस्तेमाल किया जा सकता है।

2. मेथी दाने :methi

मेथी के दाने तेल में डालकर गर्म कर लें। अब इसे ठंडा होने दें और उसके पश्चात् छानकर कान में डालें। दर्द में तुरंत आराम मिल जाएगा।

3. नीम के पत्ते :

नीम के पत्तों के रस की 2-3 बूंद को कान में डालें। अगर किसी इंफेक्शन के कारण कान दर्द हो रहा है तो उसके लिए नीम का रस बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा नीम का तेल भी कान दर्द के लिए आयुर्वेदिक दवा के रूप में कार्य करता है।

4. लहसुन :

लहसुन में एंटी-बायोटिक और एंटी-सेप्टिक गुण पाए जाते है जो इंफेक्शन और दर्द को दूर करने में मदद करता है। इसके लिए सरसों के तेल में लहसुन की 2 से 3 कलियों को पीसकर गर्म कर लें। तेल के ठंडा होने के बाद उस तेल को छान लें और 2 से 3 बूंद कान में डालें। दर्द में आराम मिलेगा।

5. जैतून का तेल :कान से मैल कैसे साफ़ करें

जैतून का तेल भी कान दर्द की समस्या में बहुत आराम देता है। इसके लिए जैतून का तेल हल्का गुनगुना करके इसकी 3-4 बूंद कान में डालें। आप चाहे तो रुई को जैतून के तेल में भिगोकर भी इस्तेमाल कर सकते है। अगर जैतून का तेल उपलब्ध न हो तो आप सरसों के तेल का इस्तेमाल कर सकते है।

6. अदरक :

अदरक में बहुत से प्राकृतिक गुण पाए जाते है जो दर्द को दूर करने की क्षमता रखते है। कान दर्द होने पर अदरक को पीसकर उसे जैतून के तेल में डालें और हल्का गर्म कर लें। ठंडा होने तक इंतजार करें और उसके बाद छानकर इसकी 2-3 बूंद कान में डालें। कान में हो रही खुजली और झनझनाहट को इस उपाय की मदद से तुरंत दूर किया जा सकता है।

7. आम के पत्ते :

आम के पत्तों को पीसकर उनका रस निकाल लें। अब इस रस को हल्का गुनगुना कर लें। सहने योग्य रहने पर इसकी 2-3ल बूंद कान में डालें। दर्द में आराम मिल जाएगा।

8. प्याज़ :

कान दर्द से छुटकारा पाने के लिए प्याज का प्रयोग भी किया जा सकता है। इसके लिए एक चम्मच प्याज के रस को हल्का गुनगुना कर लें। अब इसकी 2 बूंद कान में डालें। इस उपाय की मदद से कुछ ही देर में दर्द बंद हो जाएगा।

9. मूली :

मूली का प्रयोग करके भी कान के दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए मूली काटकर दो टुकड़े कर लें और उसे सरसों के तेल में गर्म कर लें, ठंडा होने दें। ठंडा होने के बाद उसे कान में डालें। इस उपाय की मदद से कान का मैल बाहर आ जाएगा और दर्द में आराम मिलेगा।

10. गर्म पानी की सिकाई :

कई बार सर्दियों में अधिक ठंड पड़ने की वजह से भी कान में दर्द होने लगता है। इस स्थिति में किसी बोतल में गर्म पानी भरकर किसी कपडे या तौलिया से बोतल को लपेट लें। अब उस बोतल से कान की सिकाई करें। ऐसा करने से कुछ ही समय में कान का दर्द दूर हो जाएगा।

तो ये थे, कुछ आसान घरेलू उपाय दे रहे है जिनकी मदद से कान दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है। लेकिन ध्यान रहे किसी भी उपाय का इस्तेमाल करने से पूर्व डॉक्टर से परामर्श अवश्य ले लें। क्योंकि कान को शरीर का नाजुक हिस्सा माना जाता है और यदि इसके उपचार में जरा भी लापरवाही हुई तो व्यक्ति हमेशा के लिए अपनी सुनने की शक्ति खो सकता है। इसलिए सोच-समझकर ही उपाय का इस्तेमाल करें।

[Total: 0    Average: 0/5]