प्रेगनेंसी में क्या नहीं खाएं

प्रेगनेंसी में क्या नहीं खाएं:-

गर्भावस्था का आहार: गर्भावस्था किसी भी महिला को पूरा करने की राह हैं| ऐसा माना जाता हैं की बच्चे के जन्म के बाद माँ का भी नया जन्म होता हैं| महिलाओ के लिए सबसे खास लम्हा तब होता हैं, या तो जब उन्हें पता चलता हैं की वो माँ बनने वाली हैं, और या जब वो नन्हे कदम आपके जीवन में आते हैं तब| ये दो पल महिला के सबसे खास पल होते हैं| अपनी प्रेगनेंसी को लेकर महिला पुरे नौ महीने कई नए अनुभवो से गुजरती हैं|

प्रेगनेंसी में गर्भ में होने वाली हलचल का अहसास लगभग पांचवे महीने से माँ को होने लग जाता हैं| पहली बार माँ बनने वाली युवतियां इसे लेकर बहुत खुश होती हैं| प्रेगनेंसी के समय में महिला के शरीर में बहुत से बदलाव भी आते हैं| जैसे की कई महिलाओ को चक्कर आते हैं, उलटी आना, गंध बर्दाश न होना, इसके अलावा शरीर के कई अंगो में दर्द रहने के कारण भी महिलाएं परेशान रहती हैं|

ऐसा बिल्कुल भी जरुरी नहीं हैं की हर महिला को गर्भावस्था के दौरान एक जैसी समस्या हो| हर एक महिला के हॉर्मोन्स के बदलाव के कारण महिलाओ में अलग-अलग तरह के बदलाव आते हैं| गर्भावस्था के समय महिला को अपने स्वास्थ्य के साथ कोई भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए| क्योंकि उस समय माँ के गर्भ में पल रहा बच्चा भी हर तरह से महिला पर ही निर्भर करता हैं|

गर्भावस्था के समय सबसे जरुरी हैं की आप, अपने खान-पान का पूरा ध्यान दे, संतुलित व् पोष्टिक आहार ले| इसके साथ कभी भी किसी भी तरह की लापरवाही अपने खान पान को लेकर न करें| कई महिलाएँ ज्यादा मोटे होने के डर से खाने से परहेज करती हैं उन्हें ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए| और इस चीज का भी ध्यान रखना चाहिए की गर्भावस्था में इन चीजो का सेवन नहीं करना चाहिए|

गर्भावस्था में न खाएं ये चीजे:-

अंगूर से बचें:-

अंगूर की तासीर बहुत गरम होती हैं| इसीलिए गर्भावस्था के पहले तीन महीने में कम से कम अंगूर का सेवन करना चाहिए| और हो सके तो गर्भावस्था में कम से कम ही अंगूर का सेवन करें| क्योंकि ज्यादा अंगूरों का सेवन करने से प्रसव का खतरा बढ़ जाता हैं| इसीलिए आपको इन से प्रेगनेंसी के समय में परहेज करना चाहिए| और डॉक्टर भी इसकी सलाह देते हैं|

पपीते का सेवन न करें:-

पका हुआ पपीता विटामिन-सी और अन्य पोषक तत्वो से भरपूर होता हैं| फिर भी गर्भावस्था के समय में गर्भवती महिलाओ को पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए| क्योंकि पपीते का सेवन करने से भी प्रसव का खतरे बढ़ जाते हैं| कच्चे और पके दोनों ही तरह के पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए| दोनों ही नुकसानदायक होते हैं|

अनानास का सेवन भी नहीं करना चाहिए:-

अनानास का सेवन गर्भावस्था के पहले तीन महीने में तो बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए| क्योंकि अनानास की को खाने से गर्भ में नरमी हो जाती हैं, जिससे प्रसव का खतरा बढ़ जाता हैं| इसीलिए आपको हो सकें तो पुरे नौ महीने ही इस फल से दूर रहना चाहिए|

कच्ची सब्जियों का सेवन न करें:-

गर्भवती महिलाओ को कच्ची सब्जियों का सेवन नहीं करना चाहिए| और आप जो भी सब्ज़ी खाएं, कोशिश करें की आप उन्हें अच्छे से धो ले ताकि संक्रामक रोगों का खतरा न बने| और हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन आप कर सकते हैं क्योंकि इसमें आयरन की मात्रा अधिक होती हैं|

ज्यादा तेल से बनी चीजो से करें परहेज:-

गर्भावस्था के समय महिलाओ को ज्यादा मसले व् तेल वाले खाने से परहेज करना चाहिए| इसके साथ आपको ये भी कोशिश करनी चाहिए, की आप बाहर के खाने को तो बिल्कुल ही न खाएं| क्योंकि कई बार ये खाना हज़म नहीं होता हैं| इसके साथ ये पेट में गैस और एसिडिटी जैसी समस्या भी बढ़ाता हैं| और कई बार इससे पेट में जलन की समस्या भी उत्तपन हो जाती हैं| और हो सके तो फ्रेश व् हेअलटी खाना खाएं|

चाय, कॉफ़ी का सेवन कम से कम करें:-

चाय कॉफ़ी का सेवन भी गर्भावस्था के समय में कम से कम करना चाहिए| क्योंकि इसमें टॉनिक एसिड होता हैं जो प्रेग्नेंट महिलाओ के लिए अच्छा नहीं होता हैं| और इससे महिलाओ को बार-बार बाथरूम में जाने की समस्या होती हैं| इसीलिए जितना हो सके इसका कम से कम सेवन करना चाहिए|

बासी खाने का सेवन न करें:-

गर्भावस्था में हमेशा फ्रेश और ताजे खाने का ही प्रयोग करना चाहिए| इसके साथ आपको ऐसा भी करना चाहिए, की आप कभी भी बासी खाने का प्रयोग नहीं करना चाहिए खास कर अंडे और मछली का सेवन तो कभी भी नहीं करना चाहिए| और वैसे ही गर्भावस्था के आलावा वैसे भी आपको ताजे व् पोस्टिक आहार का सेवन ही करना चाहिए|

मीट का सेवन न करें:-

कच्‍चा या अधपका मीट खाने से गर्भावस्‍था के शुरूआती दिनों में बचना चाहिए| बेहतर होगा कि गर्भावस्‍था के दिनों में आप मीट को अच्‍छी तरह पकाकर खाएं| और हो सके तो आपको इससे परहेज ही करना चाहिए, और खास कर गर्भावस्‍था में प्रॉन मीट खाने से बचना चाहिए|

कच्चे दूध का सेवन न करें:-

कच्‍चा दूध मिल्‍क में प्रोटीन और मिनरल्‍स भरपूर मात्रा में होते है| लेकिन गर्भवती महिलाएं, प्रेगनेंसी के शुरूआती दिनों में भूल से भी कच्‍चे दूध का सेवन न करें| क्योंकि ये उनके लिए समस्या हो सकता हैं| अगर आपको दूध पीना है तो अच्‍छी तरह उबालने के बाद ही पिएं| मलाई निकला हुआ दूध ही पीना चाहिए|

एल्‍कोहल व् धूम्रपान नहीं करना चाहिए:-

एल्‍कोहल, और धूम्रपान बच्‍चे के विकास में काफी नुकसानदायक होता है| और इसे जल्‍दी होने वाली गर्भावस्‍था के दौरान पीने से बचना चाहिए, और गर्भावस्था के बाद भी यदि आप अपने बच्चे को स्तनपान करवाती हैं, तो भी इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए|

तो ये कुछ बातें जो आपके आहार से सम्बंधित हैं| गर्भावस्था में आपको इन चीजो से परहेज करना चाहिए| और अधिक से अधिक मात्रा में स्वस्थ व् पोष्टिक आहार लेना चाहिए| ताकि आप और आपका बच्चा स्वस्थ रह सकें| साथ ही आप हर समय अपने डॉक्टर से राय लेते रहें, और अपना रूटीन चेक-अप जरूर करवाएं| इसके साथ आपको हर समय बहुत सी सावधानियां भी बरतनी चाहिए|

जैसे की भरी सामान नहीं उठाना चाहिए, पैरो के भर नहीं बैठना चाहिए, ज्यादा व्यायाम नहीं करना चाहिए, ज्यादा देर तक एक स्थान पर नहीं बैठना चाहिए, पेट के भर कोई भी काम नहीं करना चाहिए, ज्यादा झुकना नहीं चाहिए, ऐसी बहुत सी छोटी-छोटी बातें हैं जिनका ध्यान गर्भावस्था के समय रखना चाहिए| इससे आपको गर्भावस्था का समय अच्छा बनाने में मदद मिलेगी|

आपको ये टॉपिक कैसा लगा इस बारे में अपनी राय व्यक्त करें, आपकी राय हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं, और यदि आपको ये टॉपिक पसंद आएं तो इसे शेयर भी जरूर करें|

 

प्रेगनेंसी में क्या नहीं खाएं, प्रेगनेंसी में इस खाने से रखें परहेज, प्रेगनेंसी में भूल कर भी न खाएं ये चीजे, प्रेगनेंसी टिप्स, गर्भावस्था का आहार what not to eat during pregnancy, what fruits not to eat during pregnancy, what not to eat when you are pregnant