Ultimate magazine theme for WordPress.

क्या मैं गर्भवती हूँ? मेरे साथ यह हो रहा है

0

प्रेगनेंसी कन्फर्म होने के बाद ही आपको यह पता नहीं चलता है की आपका गर्भ ठहर गया है। बल्कि जिस समय महिला के अंडाशय में रखें अंडे और पुरुष के शुक्राणु का आपस में फैलोपियन ट्यूब में मिलन हो जाता है। और निषेचन की क्रिया शुरू हो जाती है, तभी से महिला की बॉडी में हार्मोनल बदलाव होने शुरू हो जाते हैं। जिसके कुछ लक्षण आपको बॉडी में महसूस हो सकते हैं, लेकिन ऐसा भी जरुरी नहीं होता है की हर महिला की बॉडी में एक ही जैसे लक्षण महसूस हो। बल्कि यह हर महिला की बॉडी में होने वाले हार्मोनल बदलाव पर निर्भर करता है। ऐसे में कुछ महिलाएं एक दम से बॉडी में महसूस होने वाले लक्षणों को लेकर परेशान हो सकती है की आखिर उनके साथ ऐसा क्यों हो रहा है क्या कहीं इसका कारण प्रेगनेंसी तो नहीं है?

पीरियड्स मिस होने से पहले प्रेगनेंसी के लक्षण

पीरियड मिस होने के बाद प्रेगनेंसी किट की जांच के माध्यम से आप आसानी से यह जान सकती है की कहीं आपका गर्भ तो नहीं ठहर गया है। लेकिन उससे पहले यदि आपको कुछ लक्षण या बदलाव यदि आपको बॉडी में महसूस हो तो यह प्रेगनेंसी के लक्षण हो सकते हैं। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की प्रेगनेंसी के कौन से लक्षण पीरियड्स मिस होने से पहले बॉडी में महसूस हो सकते हैं।

उल्टी आने का मन करना

जीभ का स्वाद बदलना व् उल्टी आने का मन करना, और ऐसी समस्या का अधिक होना गर्भधारण का लक्षण हो सकता है। लेकिन यदि आप ऐसा सोच रही है की आपने अपने पति के साथ सम्बन्ध नहीं बनाया है और फिर भी आपको ऐसा क्यों महसूस हो रहा है तो यह आपके गलत खान पान की वजह से भी हो सकता है।

कमजोरी व् थकान

निषेचन की क्रिया शुरू होने के बाद बॉडी में तेजी से हार्मोनल बदलाव होने शुरू हो जाते हैं। जिसके कारण बॉडी में ब्लड फ्लो भी तेजी से होने लगता है और इसके कारण महिला काफी थका हुआ व् कमजोरी का अनुभव कर सकती है, यदि आपके साथ भी ऐसा कुछ हो रहा है तो हो सकता है की आपका गर्भ ठहर गया हो।

सिर दर्द व् चक्कर

हार्मोनल बदलाव शुरू होने के साथ बॉडी में ब्लड फ्लो भी तेजी से हो सकता है जिसके कारण महिला को सिर में दर्द की समस्या अधिक होने के साथ चक्कर आदि भी महसूस हो सकते हैं। यदि आपकी बॉडी में भी आपको ऐसा महसूस हो रहा है तो पीरियड्स मिस होने के बाद आपको तुरंत जांच करनी चाहिए, क्योंकि यह भी प्रेगनेंसी का एक लक्षण होता है।

मूड स्विंग्स

गुस्सा व् चिड़चिड़ापन अधिक महसूस होना, किसी काम को करने में मन न लगना, आलस अधिक महसूस होना, आदि। यह मूड स्विंग्स होते है जो प्रेगनेंसी होने के आम लक्षणों में से एक है।

कब्ज़

यदि आपका गर्भ ठहर गया है तो आपकी बॉडी में हार्मोनल बदलाव शुरुआत में तेजी से होते हैं और हार्मोनल बदलाव तेजी से होने के कारण पाचन क्रिया धीमी पड़ सकती है। और पाचन क्रिया के धीमे पड़ने के कारण कब्ज़ की समस्या का सामना आपको करना पड़ सकता है। यदि आप भी कब्ज़ की समस्या से अधिक परेशान हो रही है तो हो सकता है की आपकी बॉडी में दिखने वाला यह लक्षण आपकी प्रेगनेंसी की और इशारा कर रहा हो।

ब्लीडिंग

यदि महिला को पीरियड्स जैसा दर्द न हो, पीरियड्स जैसी ब्लीडिंग न हो, लेकिन खून का दाग लगे तो यह भी प्रेगनेंसी का लक्षण होता है। क्योंकि यदि आपका गर्भ ठहर गया है तो आपके साथ ऐसा हो सकता है, ऐसा इसीलिए होता है जब फैलोपियन ट्यूब में से भ्रूण को गर्भाशय में प्रत्यारोपित किया जाता है तो ऐसा महिला के साथ हो सकता है। क्या आपको भी पीरियड्स आने की जगह केवल दाग ही लग रहा है यदि हाँ, तो हो सकता है की आपके लिए खुशखबरी हो।

पेट में हल्का दर्द

यदि आपका गर्भ ठहर गया है तो गर्भाशय का आकार बढ़ने के कारण पेट की मांसपेशियों में खिंचाव आ सकता है जिसके कारण महिला को पेट या पेट के निचले हिस्से में थोड़ा दर्द का अनुभव हो सकता है। यदि आपके साथ ऐसा हो रहा है तो यह प्रेगनेंसी का लक्षण हो सकता है।

बार बार यूरिन करने की इच्छा

यदि आपको बहुत जल्दी जल्दी यूरिन पास करने की इच्छा हो रही है तो यह भी प्रेगनेंसी का एक लक्षण हो सकता है। क्योंकि बॉडी में हार्मोनल बदलाव तेजी से होने के कारण बहुत जल्दी जल्दी यूरिन पास करने की इच्छा हो सकती है।

तो यह हैं कुछ लक्षण जो आपको यदि बॉडी में दिखाई दे, तो इसका कारण आपके गर्भ का ठहरना हो सकता है। और यह लक्षण दिखने के बाद यदि आपके पीरियड मिस हो जाते हैं तो आप इस बात को कन्फर्म भी कर सकते हैं।